Featured Video Play Icon

हमने अपना अटल रत्न खो दिया :नरेंद्र मोदी

slide अंतर्राष्ट्रीय अररिया अरवल औरंगाबाद कटिहार कानपुर किशनगंज कैमूर क्राइम खगड़िया खेल खोज गया गाँव-किसान गोपालगंज चम्पा से चम्पारण छपरा छौडादानौ जमुई जहानाबाद दरभंगा धार्मिक ज्ञान नवादा नालंदा पकड़ीदयाल पटना पूर्णिया बंजरिया बांका बालिकागृह मामला बिहार बुक्सर बेगूसराय बेतिया बेलबनवा भभुआ भागलपुर भोजपुर मठिया जिरात मधुबन मधुबनी मधेपुरा मनोरंजन मुंगेर मुजफ्फरपुर मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल रक्सौल रमगढ़वा राष्ट्रीय रोसड़ा रोहतास लाखिसराया वीडियोस शिक्षा शिवहर शेखपुरा समस्तीपुर सम्पादकीय सहरसा साइंस साहित्य सिवान सीतामढ़ी सुपौल स्पेशल न्यूज़ हाजीपुर
  • 3
    Shares

 

अटल जी के देहांत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का देश के नाम संदेश प्रसारित हुआ जिसमें अटल जी के विषय में प्रधानमंत्री ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि देश के भविष्य को  दिशा देने वाले हम सबके प्रेरणा स्रोत श्रद्धेय अटल जी अब नहीं रहे। अटल जी के रूप में भारतवर्ष ने आज अपना अनमोल अटल रत्न खो दिया है । अटल जी का विराट व्यक्तित्व और उनके जाने का दुःख दोनों ही शब्दों के दायरे से परे हैं।  वह एक  जननायक, प्रखर वक्ता,  पत्रकार, ओजस्वी कवि, प्रभावशाली अंतर्राष्ट्रीय व्यक्तित्व के धनी और सबसे बढ़कर मां भारती के सच्चे सपूत थे। उनके निधन से एक युग का अंत हो गया है  उनका निधन संपूर्ण  संपूर्ण राष्ट्र के लिए अपूरणीय क्षति है ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां तक कहा कि मेरे  मेरे लिए अटल जी का जाना  जाना पितातुल्य संरक्षण का साया सिर से उठने के समान है। उन्होंने मुझे संगठन और शासन दोनों का महत्व समझाया । दोनों में काम करने  की शक्ति  और सहारा दिया।  वह जब भी  मिलते थे पिता की तरह खुश होकर  आत्मीयता के साथ गले लगाते थे।  मेरे लिए उनका जाना ऐसी कमी है जो कभी भर नहीं पाएगी।

अटल जी के  कुशल व्यक्तित्व की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अटल जी ने अपने कुशल नेतृत्व,  अविरत संघर्ष  के द्वारा जनसंघ से लेकर भाजपा तक इन संगठनों को मजबूती के साथ खड़ा किया।  उन्होंने भाजपा के विचारों को  और उनकी नीतियों को जन जन तक पहुंचाने का कार्य किया। उन्हीं के दृढ़ निश्चय और कठिन परिश्रम का परिणाम हैै कि आज भाजपा की यात्रा यहां तक पहुंची हैं।

www.ntcnewsmedia.com

अटल जी भले ही हमें छोड़कर चीर निद्रा में लीन हो गए हो। लेकिन उनकी वाणी, उनका जीवन, उन के विचार, उनकी सादगी, उनके दर्शन हम समस्त भारतवासियों के लिए हमेशा प्रेरणा देता रहेगा उनका ओजस्वी, तेजस्वी और यशस्वी व्यक्तित्व सदा हम देशवासियों का मार्गदर्शन करता रहेगा।

अंत में प्रधानमंत्री ने  कहा कि अपार शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदना उनके परिवार और समस्त देशवासियों के साथ है इस दुख की घड़ी में मैं अटल जी के चरणोंं में आदरपूर्वक अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं 

wwwwww.ntcnewsmedia.
www.ntcnewsmedia.com

अन्य ख़बरें

ताकत एवं पैसे के बल पर चुनाव जीतने वाले बाहुबली नेता लोकतंत्र के लिए खतरा हैं : प्रोफेसर दुर्गेशमणि ...
पुलिस का आम जनता के प्रति अच्छे व्यवहार के मिसाल बने तुरकौलिया थानाध्यक्ष नवनीत कुमार
सेवा सप्ताह के अवसर पर प्लास्टिक वस्तुओं के उपयोग की समाप्ति जल संरक्षण तथा संवर्धन पर सेमिनार का आय...
नवयुवक सेवा समिति की बैठक संपन्न, कार्यकारी पैनल का हुआ गठन
बिहार रत्न सम्मान से सम्मानित हुये ई.रविकांत झा
आकाशीय बिजली गिरने से हुई युवक की मौत, बारिश के दौरान खेत की ओर गया था युवक
इनर व्हील क्लब ऑफ पटना ने बाल श्रमिकों के बीच अवेरनेस प्रोग्राम करवायाA
सुचिता सिंह बनीं वीजी मिसेज इंडिया 2019 की मोस्ट फोटोजेनिक फेस
औरंगाबाद में मेडिकल कॉलेज के लिए 20 एकड़ निजी जमीन दान देंगे सांसद
इनरव्हील क्लब ने चलाया कैंसर पर जागरूकता अभियान
डस्टबिन बांटकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चंपारण स्वच्छाग्रह को आगे बढ़ाते हुए योगेश गुप्ता और राज...
उपेंद्र कुशवाहा ने दिया इस्तीफा। महागठबंधन में शामिल होकर मोतिहारी से लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव
मुख्य सचिव ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की बाढ़ पूर्व तैयारियों की समीक्षा
सनोज मिश्रा की मर्डर मिस्‍ट्री फिल्‍म 'लफंगे नवाब' 27 सितंबर को देशभर में होगी रिलीज
भोजपुरी कविता : प्रसाद रत्नेश्वर
पंचायत समिति को पितृशोक
भारत की जनवादी नौजवान सभा का 13वां जिला सम्मेलन सम्पन्न
गुजरात में हो रहे बिहारियों पर हमले के खिलाफ महागठबंधन ने किया पुतला दहन
कर्पूरी ठाकुर के कथित अनुयायी कर्पूरी जी के सपनों को शर्मिंदा कर रहे हैं : कृर्षि मंत्री
सरकार महिला सशक्तीकरण के नाम पर राजनीति कर रही है: मधु मंजरी

  • 3
    Shares