मोतिहारी: चांदमारी हॉस्टल में रह कर पढ़ाई कर रही छात्रा की हत्या के खिलाफ बिहार नवयुवक सेना ने किया प्रदर्शन

क्राइम चाँदमारी फोटो गैलरी बिहार मोतिहारी स्पेशल शिक्षा स्पेशल न्यूज़
  • 9
    Shares

NTC NEWS MEDIA

मोतिहारी के चांदमारी मोहल्ले में स्थित लालबाबू प्रसाद संचालित हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रही पिपरा के चटनिया गांव निवासी धर्मदेव तिवारी की  बेटी छोटी कुमारी की संदिग्ध स्थिति में मौत हो गई।

मृतक छोटी कुमारी के भाई आलोक कुमार मिश्रा ने थाना में दीजिए लिखित आवेदन में बताया कि मेरी बहन की मृत्यु की सूचना शिक्षक सागर सिंह द्वारा ही दिया गया जब हम लोग मोतिहारी पहुंचे तो सागर सिंह हमें हॉस्टल नहीं लाया बल्कि रघुनाथपुर स्थित एक जगह पर रखा। उसने कहा कि  लड़की  मर चुकी है  हम लोग गाड़ी की व्यवस्था कर देते हैं आप लाश लेकर घर चले जाना । मृतक छोटी कुमारी के भाई आलोक कुमार मिश्रा ने आगे बताया कि फिर हम लोग किसी तरह से हॉस्टल पहुंचे वहां हमनेे देखा की छोटी कुमारी की लाश चारपाई पर पड़ी थी उसके गर्दन पर रस्सी का निशान था पूछने पर मालूम चला की या फांसी लगाकर मर गई है जब हम लोगों ने पूछा कि कहां फांसी लगाकर पर ही है तो उन लोगों ने बताया कि इसी पंखे से लटककर उसने अपनी जान दे दी हैं। लड़की के भाई आलोक कुमार मिश्रा ने आगे बताया कि उसके बाद शिक्षक सागर सिंह द्वारा कहा गया कि अब जो हो गया सो हो गया आप लाश लेकर जल्दी सेे घर चले जाएं वरना आप फंस जाएंगे।इतना ही नहीं मृतिका छोटी कुमारी के भाई आलोक कुमार मिश्रा ने बताया कि वे लोग आरोपी शिक्षक सागर सिंह ने एक अन्य शिक्षक को फोन करके बुलाया एवं मेरी बहन की लाश को हॉस्टल से निकाल कर गाड़ी पर लादकर मेरे गांव पहुंचा दिया एवं लास रखने के बाद वह भागने लगा उसने कहा कि हम लोग ने सब व्यवस्था कर दी है।

आगे मृतिका के भाई ने बताया कि फिर उन लोगों ने लाश को लेकर थाने पहुंचे जिसके बाद लाश का पोस्टमार्टम हुआ।  मृतिका के भाई ने आरोप लगाया कि शिक्षक सागर सिंह, भौतिकी के शिक्षक एवं हॉस्टल संचालक ने मिलकर उसकी बहन की हत्या कर दी है।इस घटना के बाद  मोतिहारी के सामाजिक संगठन  बिहार नवयुवक सेना ने अध्यक्ष अनिकेत पाण्डेय के नेतृत्व में सदर हॉस्पिटल के बाहर प्रदर्शन किया।  उन्होंने कहा कि प्रशासन जल्द से जल्द आरोपी की गिरफ्तारी करे , और स्पीडी ट्रायल चला कर दोषी को सजा दिलाया जाए।साथ ही श्री पाण्डेय ने बिहार सरकार को कटघरे में  खड़ा करते हुए कहा कि सरकार किसी भी अधिकारी को स्वतंत्र रूप से कार्य करने की छूट नही देती है, जिसके वजह से प्रशासन के अपना कार्य चाह कर भी नही कर सकती है।प्रदर्शन के दौरान साथ जिला अध्यक्ष विशाल प्रताप सिंग, जिला संयोजक टिंकू श्रीवास्तव, बुलेट सिंह, जंगली खान, रवि पासवान, राजा बैठा, सोनू खान, बिभु राम, दिनेश राम, आलोक तिवारी, उमेश तिवारी, भूषण तिवारी आदि शामिल थे।

अन्य ख़बरें

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की बाढ़ पूर्व तैयारियों की समीक्षा
मुख्यमंत्री से नहीं संभल रहा बिहार कृपया आप सावधानीपूर्वक घर से बाहर निकलिए: तेजस्वी यादव
रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा 26 नवंबर से पटना में करेंगे आमरण अनशन
पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्य तिथि समर्पण दिवस को शक्ति केंद्र सम्मेलन के रूप में मनाई गई
लॉक डाउन की सख्ती से अनुपालन हेतु जिलाधिकारी ने किया नगर भ्रमण
जातिवाद और महिला उत्पीड़न की गाथा है भोजपुरी फिल्म "छेका"
किसी भी गुरु को पीटना हमारी ओछी मानसिकता का प्रतीक:: अमित चौबे
बैरगनिया की छात्रा के रेप-हत्या मामले में कैंडल मार्च
सारा खान और नेहा मार्दा ने रैंप पर बिखेरा जलवा
कैसे काम करता है टेली मेडिसिन सेंटर जिसका उद्घाटन पूर्वी चंपारण जिला अधिकारी ने अभी अभी किया है
क्षेत्रीय मीडियाकर्मियों हेतु एकदिवसीय कार्यशाला - “वार्तालाप” का आयोजन आज प्रातः 10:00 बजे से
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला सशक्तिकरण के जन जागरूकता हेतु डीएम के नेतृत्व में मैराथन दौड़ आयो...
व्यवसायियों पर हुए FIR के सामूहिक निरस्तीकरण के लिए मोतिहारी चेंबर ऑफ कॉमर्स ने भेजी मुख्यमंत्री को ...
सिर्फ ₹5 के लिए उस सज्जन पुरुष ने 'पुलिस लाइन', मोतिहारी का नाम बेच दिया.... अब आगे
जन अधिकार पार्टी ने जारी की अपने 33 उम्मीदवारों की पहली सूची
लायंस क्लब पटना शिव शक्ति द्वारा पर्यावरण संरक्षण के प्रति लोगों को जागरूक करने का अभियान शुरू
दंत रोग विशेषज्ञ( Dentist) डॉ. रजनीश कुमार शर्मा से जानिए "पायरिया कैसे रहे आपसे दूर "
खेसारीलाल यादव की बेटी कृति ने पापा संग जीता भोजपुरी सिनेमा स्‍क्रीन एंड स्‍टेज अवार्ड
चंपारण के लाल का फिर से KBC में बजा डंका जीते 50 लाख
धरने पर बैठे NIT PATNA के छात्र

  • 9
    Shares

Leave a Reply