भोजपुरी सिनेमा संकट के दौर में गुजर रहा : मृदुल शरण

Featured Post slide पटना फोटो गैलरी बिहार मनोरंजन स्पेशल न्यूज़
  • 8
    Shares

पटना 19 जुलाई । जाने माने लेखक और अभिनेता मृदुल शरण ने कहा कि भोजपुरी सिनेमा आज संकट के दौर से गुजर रहा है और दर्शक भी इन फिल्मों से अपना मोह भंग कर चुके हैं जो चिंता का विषय है।

     मृदुल शरण ने भोजपुरी सिनेमा के प्रति चिंता जाहिर करते हुये कहा कि भोजपुरी सिनेमा की अपनी भाषा और संस्कृति होती है लेकिन आज के समय में यह बड़े ही संकट  के दौर से गुजर रहा है ।भोजपुरिया दर्शक भी इन फिल्मों से अपना मोह  भंग चुके हैं। एक समय था जब भोजपुरी फिल्मों का डंका बजता  था और पूरा परिवार एक साथ इन फिल्मों को देखता था लेकिन अब वह दौर खत्म हो गया है। हालांकि कुछ निर्माता- निर्देशक अच्छी पारिवारिक मनोरंजन से भरपूर अश्लीलता से परे फिल्मों का निर्माण करते हैं जो सराहनीय कदम है।
 
   मृदुल शरण ने कहा कि कुछ फिल्मकार अश्लीलता से भरपूर अलबम लेकर आ रहे हैं जो भोजपुरी की संस्कृति के लिये सही नही है। फिल्मकार की सोंच
ऐसी होती है कि बड़े  स्टार  को लेकर फिल्म बनाऐंगे तो हमारी फिल्म सुपर हिट हो जाएगी लेकिन ऐसी बात नही होती। फिल्म की सफलता के लिये कहानी महत्वपूर्ण होती है।

मराठी फिल्म सैराट का उदाहरण लें तो यह फिल्म मामूली बजट में और नये कलाकारों को लेकर बनायी गयी थी लेकिन फिल्म ने 100 करोड़ से अधिक की कमाई की। भोजपुरी फिल्मकारों को एकजुटता के साथ एक मंच पर आने की जरूरत है। लक्ष्य यह होना चाहिये कि कैसे हम कम पैसों  में साफ सुथरी, पारिवारिक  और मनोरंजन से भरपूर  फिल्म बनाये जिससे भोजपुरी फिल्मों की विलुप्त साख को  फिर से दर्शकों के सामने जीवित किया जा सके।

इस काम के लिये भोजपुरी फिल्मों के सभी कलाकार और तकनीकी सहयोगियों के साथ-साथ फिल्म निर्माता और निर्देशक की भी एकजुटता की भूमिका अनिवार्य है जिससे भोजपुरी दर्शकों के साथ साथ भोजपुरी  सभ्यता और संस्कृति की रक्षा  हो और भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री सभी क्षेत्रीय  फिल्मों  से उपर अपना स्थान पुनः स्थापित  कर सकें।

भोजपुरी फिल्मों को लेकर वितरकों की भी भूमिका बेहद महत्वपूर्ण होती है ,क्योंकि उनके बिना सहयोग के फिल्म प्रदर्शित नहीं हो पाएगी, इसलिए उन्हें इसके लिए सकारात्मक सहयोग  देना चाहिए।

Advertisements

सिनेमाहाल की भी स्थिति बहुत ही खराब है जिससे दर्शकों  की संख्या कम होती जा रही है। बहुत सारे सिनेमाहॉल बंद हो रहे हैं या फिर मॉल  का रूप  ले रहे है।

इस ओर सरकार की सुस्त और उदासीन रवैया भी बेहद चिंतनीय है। सरकार को चाहिए इस फिल्म  इंडस्ट्री को एक उद्योग का दर्जा दे जिससे  कला, कलाकार और रोजगार फले-फूले।

हमारे यहां जो प्रतिभाशाली कलाकार है लेकिन उन्हें अवसर नही मिलता जिससे वह कुंठित हो रहे हैं, हमें उनको भी सामने लाना होगा और उनकी प्रतिभा को मूल्यांकित कर उन्हें फिल्मों में अवसर देने की शुरुआत करनी होगी।

अन्य ख़बरें

कोरोना वायरस रोकथाम को लेकर Bravo Foundation ने चलाया जागरूकता सह हस्ताक्षर अभियान
पूर्वी चंपारण में शांतिपूर्ण ढंग से 58.62% मतदान, जिला नियंत्रण कक्ष से लगातार होती रही मॉनिटरिंग।
नवम्बर के दूसरे सप्ताह में रिलीज होगी "प्रेमी ऑटो वाला"
प्रमंडल स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को लेकर तैयारियां तेज
बिहार नवयुवक सेना की केसरिया प्रखंड कमेटी गठित, 20 हजार नए साथियों को जोड़ने का लक्ष्य
कुशवाहा समाज की बैठक संपन्न। मेघावी छात्रों को आर्थिक सहायता एवं समाज के राजनीतिक हिस्सेदारी के मुद्...
इंडिया युथ आइकॉन अवार्ड के लिए संदीप कुमार का हुआ चयन
गोस्वामी समाज ने दिया, पूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय वी वी गिरी को श्रद्धांजलि
डॉक्टर मदन प्रसाद साहु ने की मधुबन आगलगी से पीड़ित परिवार की सहायता
पोषण मेला में बच्चों के पौष्टिक आहार, साफ-सफाई, डायरिया आदि विषय को लेकर फैलाई गई जन जागरूकता
LND, SNS एवं MS College की NSS टीम ने संयुक्त रूप से की बापूधाम रेलवे स्टेशन की सफाई
यूपी के खूंखार अपराधी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार: मीडिया रिपोर्ट
मोतिहारी में प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिवस पर नमामि गंगे सहायतार्थ नीलाम की गई उपहारों की लगी प्रदर्...
बाढ़ पूर्व तैयारियों की समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने कम्युनिटी किचन चलाने एवं गर्भवती, बच्चें, बुज...
नए भारत के इतिहास की रचना के संकल्प के साथ "युवा संकल्प सम्मेलन" संपन्न
अपनी कविता की प्रस्तुति देती हुई कवयित्री मधुबाला सिन्हा
आज की अर्जुन............. श्रेयसी सिंह
किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए सारा अनाज न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकार द्वारा खरीदा जाए, यह सुनिश्चि...
पौधा वाले गुरु जी के नेतृत्व में हुआ वृक्षारोपण दीया पर्यावरण संरक्षण का संदेश
विश्व गांधी शांति सम्मेलन के आयोजन हेतु गाँधीवादी नारायण मुनि की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न।

  • 8
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *