नियोजित शिक्षकों की मांग पूरी नही होने पर राजकीय सम्मान वापस करेंगी नम्रता आनंद

Featured Post

पटना 25 अप्रैल राष्ट्रीय युवा पुरस्कार एवम राजकीय शिक्षक सम्मान से सम्मानित नियोजित शिक्षिका डॉ नम्रता आनन्द, राoमoविo सिपारा, फुलवारी शरीफ ने नियोजित शिक्षकों की मांग पूरी नही होने पर बिहार सरकार द्वारा वर्ष 2018 में दिए गए शिक्षक सम्मान पुरस्कार सरकार को वापस करने का निर्णय लिया है।

समान काम-समान वेतन को लेकर नियोजित शिक्षक दो महीनों से अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं।पटना हाइकोर्ट ने भी इस मुद्दे पर संज्ञान
लेने को सरकार को परामर्श कई बार दी है लेकिन बिहार सरकार समझौता करने एवं राजकीय प्रारम्भिक शिक्षक समन्वय समिति की सात मांगों को मानने को तैयार नही है।

कई महीने से वेतन नही दिया गया है, भूखों की कगार पर है, कई बीमारी से ग्रसित हैं और सरकार की अकुशल प्रबन्धन के कारण 60 शिक्षको की मृत्यु हो गयी है, जिसके लिए राज्य सरकार जिम्मेवार है।उनके आश्रितों को अनुकम्पा पर योग्यतानुसार बहाल किया जाय ,हड़ताल अवधि का भी वेतन भुगतान किया जाय ।

इससे पूर्व का भी वेतन भुगतान लम्बित है।
नम्रता आनंद ने कहा कि मैं सरकार को आगाह कराना चाहती हूं कि यदि 10 दिनों के अंदर वार्ता के जरिये इस समस्या का पहल कर ,कोई हल नही निकाल पाती है तो राज्य सरकार द्वारा दिया गया यह सम्मान पुरस्कार वापस करने की मेरी विवशता होगी।

डॉ नम्रता ने कहा कि मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी से निवेदन करती हूँ कि नियोजित शिक्षकों को अन्य शिक्षकों की तरह राज्यकर्मी का दर्जा दें एवं वेतन विसंगति सम्बन्धी एवं कई तरह की वैधानिक सुविधा का लाभ दिया जाय। सरकार की अड़ियल रवैये के कारण बच्चों का भविष्य अधर में एवं अंधकार में है।

उन्होंने कहा कि गलत शिक्षा नीति /व्यवस्था में सुधार करने की भी आज जरूरत है जिससे अविभावको का ध्यान निजी विद्यालयों की तरफ न जायँ। ऐसा लगता है मानो कि प्रत्येक वर्ष शिक्षक दिवस के अवसर पर यह पुरस्कार सहायक शिक्षको के साथ-साथ नियोजित शिक्षकों को भी देना एक औपचारिकता मात्र है।

गौरतलब है कि इस कोरोना जैसे वैश्विक महामारी में भी नियोजित शिक्षकों इस बीमारी की गम्भीरता के बारे में अपने-अपने क्षेत्र में लोगों को जागरूक करने,मास्क,सैनिटाइजर बाँटने एवं दिव्यांगों खासकर किन्नर समुदाय ,जो वैधानिक रूप से सरकारी सुविधा से वंचित हैं, के बीच खाद्य सामग्री का वितरण कर रहे हैं।

अन्य ख़बरें

पैशन वीस्टा ग्लोबल आइकन 2019 अवार्ड से अमेरिका में सम्मानित होंगे राकेश पांडे
चतुर्थ चरण के मतदान को लेकर जिलाधिकारी ने किया डायट भवन स्थित मतगणना केंद्र का निरीक्षण
मुंशी सिंह कॉलेज मोतिहारी के प्राचार्य एवं एनएसएस स्वयंसेवकों ने किया रक्तदान
विश्व बाल श्रम निषेध दिवस पर लिया गया बालकों को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाने का संकल्प
M S College Motihari में एबीवीपी ने बाबा साहब की पुण्यतिथि सामाजिक समरसता के रूप में मनाया
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राहत सामग्री आपूर्ति पैकिंग एवं वितरण का किया निरीक्षण
पूर्वी चंपारण जिलाधिकारी रमण कुमार का ट्रांसफर................................. कितना सच/ कितना झूठ
मोतिहारी नीतीश सम्मेलन के दौरान राज्य सभा सांसद सुशील मोदी ने गिनाई कृषि कानून की खूबियां
Big News coming from Britain by DK Dube
वैक्सीनेशन में बेहतरीन कार्य के लिए पूर्वी चंपारण जिलाधिकारी को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित
सदस्यता अभियान को लेकर ABVP मोतिहारी ने किया जिला बैठक का आयोजन ।
डीबीटी वर्कशॉप फ़ॉर रिटेलर्स प्रोग्राम आयोजित
प्रखंडों में अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए चिकित्सा पदाधिकारी का हुआ साक्षात्कार
गुरु पूर्णिमा विशेष: जीवन दर्शन-गुरु की महत्ता एवं भ्रम से वास्तविकता की ओर' विषय पर एलएनडी कॉलेज मे...
राजद प्रवक्ता का आरोप पूरे देश को कटोरा पकडा़ने की तैयारी में है
मजदूरों की वापसी मुद्दे को लेकर"आप" का एकदिवसीय उपवास पर जदयू ने पूछा इतने दिन से कहां थी केजरीवाल स...
सहायक अवर निरीक्षक प्रकाश सिंह को मिली पदोन्नति,पुलिस अवर निरीक्षक बनाए गए। पकड़ीदयाल डीएसपी ने अपन...
सदन में कानून हाथ में लेने वाले अधिकारियों पर नहीं हुई कार्रवाई तो होगा महाधरना: सहनी
कांग्रेस ने हिंदुस्तान की छवि एक कमजोर राष्ट्र के रूप में बना दिया था: कालराज मिश्र
पूरे विश्व में शांति के लिए युवा पीढ़ी गांधी के सिद्धांत को समझाए एवं सर्व धर्म सभा करवाएं: पदमश्री ...

Leave a Reply