डासिंग के क्षेत्र में सफलता की नयी इबारत लिख रहे हैं सद्दाम हुसैन

Featured Post slide फोटो गैलरी बिहार मनोरंजन मुंबई मोतिहारी राष्ट्रीय स्पेशल न्यूज़

मुंबई। कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो कोई भी काम नामुमकिन नहीं। इस बात को साबित कर दिखाया है सद्दाम हुसैन ने अपनी मेहनत और लगन से सद्दाम हुसैन ने डांस की दुनिया में सफलता की नयी इबारत लिखी है।उन्होंने अपने करियर के दौरान कड़े संघर्ष, चुनौतियों का सामना किया और कामयाबी का परचम लहराया।

वर्ष 1993 में महाराष्ट्र के मुंबई में जन्में सद्दाम के पिता रज्जाक शेख और मां मरियम शेख ने उन्हें अपनी राह खुद चुनने की आजादी थी। बचपन के दिनों में ही सद्दाम के सर से पिता का साया उठ गया। पांचवी की पढ़ाई पूरी करने के बाद घर की आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से सद्दाम
को पढ़ाई बीच में ही छोड़नी पड़ गयी। उसके बाद सद्दाम कपड़े की दुकान में काम करने लगे। डासिंग गूरू गणेश हेगड़े और प्रभुदेवा को आदर्श मानने वाले सद्दाम उन्ही की तरह बतौर डांसर अपनी पहचान बनाना चाहते थे और इसी को देखते हुये उन्होंने डांस सीखना शुरू कर दिया।सद्दाम की मेहनत रंग लायी और जल्द ही वह बतौर डांसर अपनी पहचान बनाने में कामयाब हो गये।सद्दाम हुसैन ने इसके बाद डांस कंपटीशन में हिस्सा
लेना शुरू कर दिया। वर्ष 2013 में सद्दाम को डीडी वन पर प्रसारित होने वाले डांस कंपटीशन भारत की शान शिरकत करने का अवसर मिला और उन्होंने अपनी प्रतिभा से लोगों का दिल जीत लिया और रनर अप बने। इसके बाद 2017 में सद्दाम हुसैन को जीटीप पर प्रसारित होने वाले रियालिटी डांस शो डांस इंडिया डांस (डीआईडी) सीजन 05 में हिस्सा लिया और वह टॉप 5 में अपनी जगह
बनाने में कामयाब हुये।

शो के दौरान डांसिंग शो के जज मिथुन चक्रवर्ती ने सद्दाम की काफी प्रशंसा की और उन्हें इबादत हुसैन नाम दिया। इसके बाद
सद्दाम हुसैन ने कई डांसिंग कार्यक्रमों को
कोरियोग्राफ करने का अवसर मिला।

सद्दाम हुसैन ने हाल ही में मुंबई में डांस इंस्टीच्यूट एस फिलिप खोला है। सद्दाम आज डांसिंग के क्षेत्र में अपनी अलहदा पहचान बनाने में कामयाब हुये। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने शुभचिंतको खासकर मां मरियम शेख को दिया है जिन्होने उन्हें हर कदम सपोर्ट किया है।

अन्य ख़बरें

वैलेनटाइन वीक के अवसर पर रिलीज हुयी इश्क दुआ
जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने नरकटिया/रक्सौल विधानसभा क्षेत्रों के आम निर्वाचन के तहत की गई तैयारियों ...
देशी चंपारण मटन का स्वाद अब जल्द मिलेगा भागलपुर में
पूर्वी चंपारण में शांतिपूर्ण ढंग से 58.62% मतदान, जिला नियंत्रण कक्ष से लगातार होती रही मॉनिटरिंग।
चाँदमारी स्थित न्यूक्लियस फिजिक्स में चंपा से चंपारण कार्यक्रम के लिए करोड़पति सुशील कुमार सम्मानित।
कृषि कानून के विरोध एवं किसानों के समर्थन में महागठबंधन ने बनाया "मानव श्रृंखला"
पूर्व कृषि मंत्री राधामोहन सिंह को राष्ट्रीय चुनाव अधिकारी बनाए जाने पर उनके संसदीय क्षेत्र में खुशी...
दिव्यांग बच्ची की मौत या हत्या, पिता ने कहा मेरी बेटी के साथ हुए बलात्कार के साक्ष्य मिटाने के लिए ह...
राष्ट्रीय पोषण माह के अन्तर्गत बच्चो का लंबाई और वजन मापा गया
फिल्‍मों में काम करने के लिए अभिनय की बारिकियों को जानना है जरूरी
मां कर्माबाई जयंती कार्यक्रम एवं युवा महोत्सव को लेकर राष्ट्रीय नेत्री कंचन गुप्ता ने किया जनसंपर्क
तेली अधिकार रैली को सफल बनाने के लिए ढाका में जनसंपर्क
मुंशी सिंह महाविद्यालय में आंतरिक समिति का हुआ गठन, महिला सशक्तिकरण है उद्देश्य
LND, SNS एवं MS College की NSS टीम ने संयुक्त रूप से की बापूधाम रेलवे स्टेशन की सफाई
हत्या, अपहरण, लूट और भ्रष्टाचार का समय समाप्त हो चुका है : रघुबर दास
बापू ने चंपारण की धरती से ही सत्य और अहिंसा का संदेश दिया : जिलाधिकारी
छात्रसंघ चुनाव को लेकर JAPC एवं AISF के बीच हुआ गठबंधन
कामरेड विजयकांत ठाकुर जी के याद में, श्रद्धांजलि सह संकल्प सभा का हुआ आयोजन
प्रदेश अध्यक्ष के अभिनंदन कार्यक्रम को सफल बनाने को लेकर बैठकों का दौर जारी....
केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ 10 सितंबर को महागठबंधन का भारत बंद

Leave a Reply