चर्चित नाटककार राजेश कुमार उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार के लिए चयनित

Featured Post slide खोज पटना बिहार भागलपुर राष्ट्रीय साहित्य

पटना। बिहार के भागलपुर शहर के मूल निवासी चर्चित नाटककार राजेश कुमार को 2014 के लिए उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने श्री कुमार को नाट्य लेखन के लिए यह पुरस्कार देने की घोषणा की है। वर्ष 2009 से 2018 तक के उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार, सफदर हाशमी पुरस्कार, बीएमशाह एवं रत्न सदस्यों की घोषणा की गई है।

राजेश कुमार देश के चर्चित नाटककार है। बिहार के आरा और भागलपुर रंगमंच से वर्षो जुड़े रहने के बाद नौकरी के दौरान उत्तर प्रदेश में कई दशकों से रंगमंच से जुड़े है। उन्होंने गाय, अंबेडकर और गांधी, गांधी ने कहा था, लास्ट सैलयूट, श्राद्ध, आखिरी सलाम, अन्तिम युद्ध, घर वापसी कह रैदास खलास चमारा, पगड़ी संभाल जट्टा, तफ्तीश, हिन्दू कोड बिल सहित दर्जनों पूर्णकालिक नाटक लिखे हैं।अस्मिता थियेटर ग्रुप द्वारा अरविन्द गौड़ के निर्देशन में राजेश कुमार के दर्जनों नाटको का शो देशभर में होता रहा है। देश की अन्य नाट्य संस्थाएं भी इनके नाटको का मंचन करती रहती है। चर्चित फिल्म निर्माता महेश भट्ट के प्रोडक्शन में राजेश कुमार के कई नाटकों का मंचन हुआ है ।

कह रैदास खलास चमारा नाटक के लिए उन्हें मोहन राकेश सम्मान भी मिल चुका है। राजेश कुमार के तमाम नाटक सामाजिक एवं राजनीतिक सवालों को उठाते मिलते हैं, जो एक नई सोच पैदा करती है ।

बिहार में जन्मे राजेश कुमार ने नाट्य दुनिया में प्रवेश 1976 में नुक्कड़ नाटक आंदोलन से की थी। आरा की नाट्य संस्था “युवानीति”, भागलपुर की “दिशा “ शाहजहाँपुर की नाट्य संस्था “अभिव्यक्ति” के संस्थापक सदस्य रहे हैं। उत्तर प्रदेश के बिजली विभाग में पेशे से ईन्जीनियर रहे राजेश कुमार इन दिनों लखनऊ के रंगमंच में सक्रीय है।

उनके चर्चित नुक्कड़ नाटकों में जिन्दाबाद- मुर्दाबाद, रंगा सियार, जनतन्त्र के मुर्गे, हमे बोलने दो शामिल है वहीँ प्रकाशित पुस्तकों में मोरचा लगाता नाटक, नाटक से नुक्कड़ नाटक तक, जनतन्त्र के मुर्गे (नुक्कड़ नाटक संग्रह),घर वापसी, तफ्तीश हैं आदि प्रमुख्य है।

नाट्य लेखन के साथ साथ कहानी लेखन भी राजेश कुमार ने बखूबी किया है । धर्मयुग,सारिका जैसी प्रतिष्ठित पत्रिकाओं में दर्जनों कहानी भी छप चुकी है।

अन्य ख़बरें

मिसेज ब्यूटी मॉम्स ऑफ बिहार के पहले ऑडिशन में छाया बिहार की महिलाओं का जलवा
प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान नेता जी सो रहे थे अथवा आंख बंद करके केंद्रीय मंत्री को गंभीरता से सुन रहे ...
बापू की 150वीं जयंती के अवसर पर भाजपा करेगी 30 दिवसीय 'गांधी संकल्प यात्रा'।
राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के प्रत्याशी राधा मोहन सिंह का चुनावी दौरा लगातार जा
मोतीझील पर बनेगा सिग्नेचर ब्रिज, मंत्री एवं स्थानीय पदाधिकारियों ने किया प्रस्तावित निर्माण स्थल का ...
भोजपुरी सुपर स्टार काजल राघवानी ने दिया "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" का नारा
Lock down ( Unlock ) सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालय, दुकानों के खुलने का बदला समय
पैशन वीस्टा ग्लोबल आइकन 2019 अवार्ड से अमेरिका में सम्मानित होंगे राकेश पांडे
स्व.अटल बिहारी बाजपेई की जयंती पर आयोजित कवि सम्मेलन में नामचीन कवि होंगे शामिल
बिहार शरीफ प्रोफ़ेसर हत्या मामले में मृतक के परिवार से मिले रणविजय साहू, न्याय का दिलाया भरोसा
कृषि कल्याण अभियान का द्वितीय चरण 26 जनवरी तक बढ़ाया गया, 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्...
तेली अधिकार रैली में चंपारण से अवध बिहारी प्रसाद के नेतृत्व में हजारों की तादाद में शामिल होंगे लोग।
पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए संघर्ष जारी रहेगा...... रणविजय साहू
Happy Deepawali .......by- Nakul Kumar
जब तक सूरज चांद रहेगा, अटल बिहारी आपका नाम रहेगा
जनसंपर्क के दौरान बोले पूर्व कृषि मंत्री आत्मनिर्भर भारत एवं बिहार के लिए गांव को भी आत्मनिर्भर बनान...
मोतिहारी चेंबर ऑफ कॉमर्स के इस काम की हो रही है तारीफ
कुंडलपुर महोत्सव में जीवंत हो उठी रेत से बनी हुई भगवान महावीर की मूर्तियां
ब्रावो फाउंडेशन का गौ संवर्धन केंद्र के लिए भूमि का चयन
प्रधानमंत्री का राष्ट्र के नाम संबोधन

Leave a Reply