कोविड-19 के बारे में भ्रामक सूचना के ‘वायरस’ तो तत्काल रोकना आवश्यक : उपराष्ट्रपति

Featured Post बिहार राष्ट्रीय
  • 10
    Shares

हमारे अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं विशेषकर स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा  नितांत आवश्यक : उपराष्ट्रपति

नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडू ने लोगों को आगाह किया है कि वे अंध विश्वासों और सुनी-सुनाई बातों के बहकावे में, कोविड- 19 के विरुद्ध अपने संकल्प को कमजोर नहीं होने दे सकते। उन्होंने  भ्रामक सूचना के प्रसार को, विशेषकर सोशल मीडिया द्वारा हो रहे प्रसार को, ‘वायरस ‘ कहा जिसे तत्काल रोका जाना जरूरी है।
अंधविश्वास और सुनी-सुनाई बातों के बहकावे में नॉवेल कोरोना वायरस के विरुद्ध अपने संकल्प को कमजोर न होने दें : उपराष्ट्रपति
अफवाहों और भ्रामक सूचना के प्रसार को रोकने के लिए, प्रामाणिक सूचना के निर्बाध प्रसार को जरूरी बताते हुए श्री नायडू ने अपने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा कि यदि हम इस कठिन परिस्थिति की गंभीरता को सही तरह से नहीं समझ सकते, तो हम वायरस के विरुद्ध यह जंग नहीं जीत सकते।
सभी धार्मिक समुदायों को यह समझने की जरूरत है कि सोशल डिस्टेंसिंग मानकों को हल्के में नहीं लिया जा सकता: उपराष्ट्रपति
कुछ राज्यों में सोशल डिस्टेंसिंग के निर्देशों के गैर जिम्मेदाराना उल्लंघन तथा नई दिल्ली में हाल में आयोजित समागम के संदर्भ में उपराष्ट्रपति ने दिशा निर्देशों के और व्यापक प्रसार तथा कड़ाई से पालन किए जाने की जरूरत को रेखांकित किया।
उन्होंने कहा कि स्थिति की गंभीरता के प्रति जागरूक रहने की आवश्यकता है। वायरस संक्रमण के बारे में वैज्ञानिक साक्ष्य के आधार पर, जात-पात क्षेत्र भाषा संप्रदाय से उपर उठ कर, एक समेकित प्रयास अपेक्षित है।
श्री नायडू ने कहा कि सभी सम्प्रदायों को सहमत होना होगा कि सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों को हल्के में नहीं लिया जा सकता। और जब तक चुनौती पूरी तरह से समाप्त नहीं हो जाती तब तक कोई विशाल समागम आयोजित नहीं किया जा सकता। उन्होंने आशा व्यक्त की कि ” भविष्य में दिशानिर्देशों के ऐसे दुर्भाग्यपूर्ण गैर जिम्मेदाराना उल्लंघन नहीं होंगे”।
उपराष्ट्रपति ने किसी भी समुदाय के बारे में निराधार पूर्वाग्रह न रखने की अपील की।
उपराष्ट्रपति ने लोगों से संप्रदायों के बारे में निराधार पूर्वाग्रहों से बचने को कहा और आयोजनों को पूर्वाग्रहों के चश्मे से न देखने की सलाह दी।
संक्रमण के विरुद्ध राज्य सरकारों, समाजसेवी संस्थाओं तथा निजी क्षेत्र द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि बड़े पैमाने पर मानवीय सहायता के कार्य किए जा रहे हैं तथा दुर्बल वर्गों एवम् प्रतिस्थापित मजदूरों की कठिनाइयों का समाधान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य कटाई के समय में किसानों की चिंताओं से अवगत हैं तथा सुचारू रूप से फसलों की कटाई  तथा खाद्यान्न की खरीद को सुनिश्चित करने के लिए कई कदम प्रस्तावित हैं।
उन्होंने कहा कि अभी ढील देने का अवसर नहीं है, अभी आगे भी कठिन लड़ाई है। उन्होंने कहा कि हमें सम्मिलित रूप से इस खतरे के प्रति सजग रहना होगा। संकल्प और प्रयासों की एकता तथा अपने साहसी योद्धाओं को सौहार्द पूर्ण समर्थन, समय की मांग है।
हमारे अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं विशेषकर स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा  नितांत आवश्यक : उपराष्ट्रपति
उन्होंने कहा कि अपने अग्रिम पंक्ति में खड़े योद्धाओं , विशेषकर स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा और सम्मान, अपने अभीष्ट उद्देश्यों को पूरा करने के लिए नितांत आवश्यक हैं। उन्होंने कहा कि एक सत्कर्म, एक करुणामय कर्म, मानवता के त्राण के लिए किया गया एक भी संकल्पबद्ध प्रयास, वर्तमान की इस अंधेरी गुफा से बाहर निकलने के लिए एक बड़ा कदम सिद्ध होगा।

अन्य ख़बरें

भारत ने बांग्लादेश और नेपाल को दिया इतना वैक्सीन
अप्रवासी सम्मेलन को सफल बनाने को लेकर भाजपा विदेश संपर्क विभाग की हुई बैठक
अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर हुआ परिचर्चा का आयोजन
फिलहाल दो ट्रेड़ो के 17 पदों के लिए 36 लोगों का हुआ इंटरव्यू
दिसंबर में केंद्र सरकार से ‘तलाक’ ले सकते हैं उपेंद्र कुशवाहा, तेरहवी की तारीख तय।
मुख्य सचिव बिहार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रमंडल वार कोविड-19 स्थिति की समीक्षा
समाज में राजनीतिक चेतना बढ़ाने के उद्देश्य से हुआ जनसंवाद कार्यक्रम
कोरोना एवं बाढ़ में पार्टी एवं सरकार स्तर पर सेवा कार्य लगातार जारी है: प्रकाश अस्थाना
औरंगाबाद। सेंटर फॉर कैटालाइजिंग चेंज C3 के द्वारा ब्लॉक इंटरफेस बैठक का आयोजन
मंत्री ने दिया सामुदायिक किचन शुरू करने का आदेश कल से खिलाया जाएगा बाढ़ पीड़ितों को खाना
अंतरराष्ट्रीय संस्था द्वारा कर्मवीर चक्र से सम्मानित होंगे मोटिवेशनल गुरु मुन्ना कुमार
बाल कलाश्री पुरस्कार से सम्मानित हुए बच्चें, पटना के कालिदास रंगालय में सम्पन्न हुआ कार्यक्रम
केसरिया: आगजनी में 7 घर जलकर राख, रालोसपा नेता माधव आनंद ने की पीडि़त परिवार की मानवीय सहायता ।
डस्टबिन बांटकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चंपारण स्वच्छाग्रह को आगे बढ़ाते हुए योगेश गुप्ता और राज...
SVEEP एक्टिविटीज के तहत जिला प्रशासन पूर्वी चंपारण द्वारा क्विज एवं भाषण प्रतियोगिता आयोजित
युवा क्रांति यात्रा को लेकर यूथ कांग्रेस ने की प्रजापति आश्रम में समीक्षा बैठक
मिस्टर..मिस मिसेज स्टार इंडिया में शिरकत करेंगे प्रियांक शर्मा
सामाजिक विज्ञान में शोध विषय पर राष्ट्रीय ई-कार्यशाला का हुआ आयोजन
कला संस्कृति मंत्री ने संतों से माँगा आशीर्वाद कहा आपके आशीर्वाद से ही विजय संभव होगी 
India volunteer Day celebrated with Mission to Identify, Integrate and Intensify the volunteer power...

  • 10
    Shares

Leave a Reply