बिहार में नहीं चलेगी मजनूगिरि: गुप्तेश्वर पांडे, DGP Bihar

क्राइम बिहार स्पेशल न्यूज़
  • 26
    Shares

DGP ने बात कह दी है साफ-साफ, बिहार में नहीं चलेगी मजनूगिरी
बिहार के 38 जिलों में साइबर सेल के कुल 74 यूनिट बनाए गए हैं। इसमें पटना में 4 यूनिट और बड़े जिले में 3 यूनिट काम कर रही है।

बिहार में मजनूगिरी नहीं चलेगी. अगर लड़कियों और महिलाओं पर गंदी नजर डाला तो पुलिस बख्शने वाली नहीं है. लड़कियों के साथ छेड़खानी और बदसलूकी करने वालों के खिलाफ पुलिस कड़ी कार्रवाई करेगी। ये बातें बिहार पुलिस के मुखिया गुप्तेश्वर पांडेय ने पटना के ज्ञान भवन में संवाद कार्यक्रम के दौरान कही।

पटना के ज्ञान भवन में संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पहला सेशन कॉलेज में पढ़ने वाली छात्राओं के साथ था। इस सेशन में महिलाएं भी काफी संख्या में थी। डीजीपी ने स्पष्ट कर दिया कि लड़कियों और महिलाओं की सुरक्षा के साथ वो कोई समझौता नहीं करेंगे।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि स्कूल-कॉलेज में पढ़ने वाली छात्राओं की सुरक्षा और उनकी परेशानियों को खत्म करने के लिए जल्द ही एक नई व्यवस्था की शुरूआत की जाएगी।।

नई व्यवस्था की जिम्मेवारी महिला थाना की थानेदार के हवाले होगा। डीजी बॉक्स लेकर महिला थाना की थानेदार खुद स्कूल-कॉलेज में जाएंगी।वहां पढ़ने वाली छात्राओं से बात करेंगी। जिसमें छात्राएं अपनी समस्या को लिख कर डाल देंगी। अगर उन पर कोई अश्लील कमेंट्स करता है या फिर उनके साथ छेड़खानी की घटना करता है तो एस लफंगे का नाम और पता लिखकर बॉक्स में डाल देंगी। फिर उनका लिखा हुआ लेटर सीधे डीजीपी के पास आएगा। उसके बाद छात्राओं को तंग करने वाले लफंगों से पुलिस की टीम निपटेगी।

ज्ञान भवन में मौजूद छात्राओं को डीजीपी ने आश्वस्त कराया कि उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस की टीम हमेशा मुस्तैद है। वहीं, दूसरे सेशन में डीजीपी कॉलेज के छात्रों और युवा वर्ग से मुखातिब हुए।

बढ़ते अपराध पर युवा वर्ग की सोंच क्या है? उनकी पुलिस के साथ किस तरह की उम्मीदें हैं? संवाद कार्यक्रम के जरिए डीजीपी छात्रों और युवाओं की राय जानना चाहा। सीधे संवाद के जरिए कई बातें सामने निकल कर आई भी। पहले की तरह आज भी डीजीपी ने अपराधियों को कड़ा संदेश दिया कि अगर अपराधी गोली चलाएंगे तो पुलिस भी उसका जवाब देने से नहीं चुकेगी।

इस मौके पर स्पेशल ब्रांच के एडीजी जितेंद्र सिंह गंगवार ने बताया कि साइबर क्राइम को रोकने के लिए किस तरह के कारगर कदम उठाए गए हैं।एडीजी के अनुसार हर जिले में साइबर सेल बना दी गई है। कुल 74 यूनिट बनाए गए हैं। इसमें पटना में 4 यूनिट और बड़े जिले में 3 यूनिट काम कर रही है।

छात्राओं से एडीजी ने अपील की कि आपके पास सोशल साइट्स के जरिए कई प्रकार के लुभावने मैसेज आएंगे। लेकिन उन मैसेज पर आप आंख बंद कर विश्वास न करें। सोशल साइट्स का उपयोग पढ़ाई और नॉलेज के साथ ही खुद को सुरक्षित रखने के लिए करें।

Advertisements

अन्य ख़बरें

कंचन गुप्ता......
झूठा आश्वासन देकर नीतीश कुमार सत्ता में बने हुए हैं: डॉ दीपक कुमार (रालोसपा)
वन महोत्सव के अवसर पर पौधारोपण एबं जागरूकता अभियान के साथ साथ पर्यावरण संरक्षण विषय पर एक सेमिनार का...
कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो कोई भी काम नामुमकिन नहीं: रानी सिन्हा
मोतिहारी के डॉक्टर्स एसोसिएशन ने कैंडल मार्च निकालकर, दिया पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि
विद्या निकेतन के प्राचार्य डॉक्टर दीनबंधु तिवारी सर
रमगढ़वा : शिक्षक सम्मान समारोह का हुआ आयोजन
मुंशी सिंह कॉलेज मोतिहारी: NSS के समर इंटर्नशिप कार्यक्रम के अन्तर्गत आठवे दिन
मिशन चंद्रयान-2 की उम्मीदें अभी भी बरकरार...आर्बिटर ने लैंडर विक्रम को ढूंढा। संपर्क की कोशिश जारी
पकड़ीदयाल डीएसपी दिनेश पांडे ने बच्चों को पढ़ाया शिक्षा,संस्कार एवं नैतिकता का पाठ
अगली तीन पीढ़ी तक बर्बाद करने के लिए दो मुद्दा फेंका गया है, एक है धारा 370 और एक है मंदिर: रवीश कुम...
संसद में कानून बनाकर राम मंदिर का निर्माण हो, के लिए राज्यपाल को ज्ञापन
स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में जिला प्रशासन एवं डीडी न्यूज़ के संयुक्त तत्वावधान में कार्यक्रम आयो...
शहर में निकली मतदाता जागरूकता रैली, जिलाधिकारी रमण कुमार सहित तमाम अधिकारी एवं स्कूली बच्चें हुए शाम...
हरिहरगंज से पटना तक एनएच-139 को फोर लेन में तब्दील किया जायेगा :सुशील सिंह
जीत का जुनून ऐसा कि सीने पर चाकू से लिखा "मोदी"
समस्तीपुर के खुला इनरव्हील क्लब मिथिला
रमगढ़वा में छठ के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का हुआ आयोजन
बिहार सरकार के पर्यटन मंत्री  प्रमोद कुमार पहुंचे पलवैयाधाम महनार ।
डेटॉल द्वारा आयोजित कार्यक्रम "हैंड वॉश" कल, केंद्रीय कृषि मंत्री होंगे शामिल

  • 26
    Shares

Leave a Reply