हर अपराध की दस्तक होती है, उसे समझकर सम्भल जाना ही उचित : SP उपेंद्र शर्मा

क्राइम पकड़ीदयाल बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल स्पेशल न्यूज़
  • 89
    Shares

NTC NEWS MEDIA

Motihari: Nakul Kumar Sah

पकड़ीदयाल के दवा व्यवसाई व रालोसपा नेता प्रेमचंद कुशवाहा की हत्या की गुत्थी सुलझाने के बाद मोतिहारी के तेजतर्रार पुलिस कप्तान उपेंद्र कुमार शर्मा ने अपने फ़ेसबुक पेज पर इस घटनाक्रम के सारांश को साहित्यिक अंदाज में लिखते है कि………. हर घटना से पहले दस्तक होती है बस जरूरी है कि उस दस्तक को समझने की। यदि दस्तक को समझ गए, समय रहते संभल गए, तो फिर ऐसी घटना की नौबत आएगी ही नहीं ।

एसपी साहब आगे लिखते हैं कि अधिकांश केसो में घटना को अंजाम देने वाले और जिसके साथ घटना होने वाली है उन दोनों को दस्तक होती है। किंतु दोनों पक्ष  समझते हुए भी नहीं समझते हैं और इनमें से एक को नुकसान उठाना पड़ता है तो दूसरे को जेल जाना पड़ता है।

               आइए अब पढ़ते हैं उस आर्टिकल को जिसे एसी उपेंद्र कुमार शर्मा ने अपने फेसबुक पेज पर खुद ही लिखा है…

 

हर अपराध की दस्तक होती है
लेकिन हर बार वो दस्तक पुलिस को ही मिले ये जरूरी नहीं
अधिकांश मामलों में ये दस्तक अपराध में सम्मिलित दो पक्षों को ही मिलती है
लेकिन दस्तक मिलती जरूर है
जरूरत होती है दस्तक को सुनकर सम्भल जाने की
अपराध छुपता नहीं…. कभी नहीं…. और फायदे से ज्यादा नुकसान ही कराता है
पकड़ीदयाल के चोरमा में 28.11.18 को हुए हत्या कांड में भी ऐसा ही हुआ
दस्तक मिली
हत्या करने वाले को भी….और
जिसकी हत्या होने वाली थी उसको भी
पैसे का लोभ….हत्या की साजिश का बीज बना
और उस साजिश की वजह से रंजिश हुई
लोभ और क्रोध जब इंसान को घेरे तो फिर दस्तक कौन सुन पायेगा
वैसा ही हुआ….दस्तक अनसुनी हो गई
और अंततः हत्या हुई
नतीजा कई जिंदगियाँ बर्बाद हुई
कोई मारा गया तो कोई जेल गया
जो बचे वो भी जेल जाएंगे
कानून अपना काम करेगा
क्या पाया…….
कुछ नहीं ….. कुछ भी तो नहीं
क्या खोया…..
प्रतिष्ठा….भविष्य….और चरित्र
पुलिस अपना काम करती है
और करती रहेगी
कभी समाज के सहयोग से
कभी उसके बिना
हर व्यक्ति दस्तक सुने
सुनकर सम्भले
उसके बस की न हो
तो पुलिस को बताए
सबका फ़ायदा होगा
पूरे समाज का
निसंदेह ?

       इस प्रकार आपने देखा कि पुलिस कप्तान उपेंद्र कुमार शर्मा अपने पुलिसिया अनुभव के आधार पर लिखते हैं कि हर घटना से पहले उसकी एक दस्तक होती है। अर्थात किसी संभावित घटना को लेकर हल्की-फुल्की जानकारी भी आपको मिले तो सामाजिक रूप से यदि वह सॉल्व हो सके तो ठीक है अन्यथा कानून हाथ में लेने से बेहतर है कि कानून के रखवाले अर्थात पुलिस में कंप्लेन दर्ज कराई जाए ताकि ऐसी किसी भी संभावित घटना से बचा जा सके।

आपको बताते चले कि 28 नवंबर की रात में लगभग 8:45 के आसपास में पकड़ीदयाल के दवा व्यवसाई व रालोसपा नेता प्रेम चंद कुशवाहा की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।  हत्या के बाद मृतक की पत्नी ने सुंदरपुर के राजद नेता समेत 5 लोगों को नामजद किया था। ऐसा लगने लगा था कि मानो पकड़ीदयाल में शह और मात का एक नया राजनीतिक समीकरण खड़ा हो गया हो…………..किंतु वास्तव में ऐसा नहीं हुआ ।

क्योंकि पकड़ीदयाल, मधुबन  सहित मोतिहारी पुलिस ने, पुलिस कप्तान की देखरेख में समय रहते ही 48 घंटे के भीतर इस घटना का उद्भेदन करके दूध का दूध पानी का पानी कर दिया।

 

Advertisements

अन्य ख़बरें

दिसंबर में केंद्र सरकार से ‘तलाक’ ले सकते हैं उपेंद्र कुशवाहा, तेरहवी की तारीख तय।
सुकृष्णा कामर्स इस्टीच्यूट ने धूमधाम से मनाया शिक्षक दिवस
MGCU में सामाजिक-आर्थिक व्‍यवस्‍था और नौकरशाही का भारतीय अनुभव’ विषय पर एक दिवसीय राष्‍ट्रीय संगोष्‍...
विधानसभा निर्वाचन 2020 की तैयारियों के मद्देनजर ईवीएम (EVM) संग्रह केंद्र का जिलाधिकारी ने किया निरी...
अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर, हुआ चंपा के पौधे का वितरण
नक्सल प्रभावित शेखपुरा में डीएसपी ने बच्चों को दिया पढ़ाई के टिप्स
मोदी सरकार ने चरमराती अर्थव्यवस्था को सबसे तेजी से दौड़ने वाली अर्थव्यवस्था बनाया: राधा मोहन सिंह
भारत का सबसे बड़ा घरेलू स्टोर होमटाउन का प्रतिष्ठित “मानों या ना मानों सेल” आया वापस
गोपाल साह +2 विद्यालय में I.Sc. में होगी कृषि की पढ़ाई, पाठ्यक्रम का हुआ शुभारंभ...
रोटरी क्लब मोतिहारी द्वारा विश्व जनसंख्या दिवस पर आयोजित किया गया कार्यक्रम, जनसंख्या वृद्धि पर अंकु...
सरकार के खिलाफ जनता का आक्रोश ही भारत बंद : वामदल
आईएनआईएफडी पटना में दो दिवसीय कार्यशाला संपन्न
बिटिया से घर आंगन गुलजार....मधुबाला सिन्हा
ब्रावो फाउंडेशन के द्वारा जरूरतमंदों के बीच लगातर बाटी जा रही हैं खाद्य सामग्री
जदयू मीडिया सेल के जिला संयोजक मोहम्मद तमन्ना ने दिया पद से इस्तीफा, निजी कारणों को बताया जिम्मेदार
आज : पूर्वी चंपारण किसान सभा का विशाल किसान मार्च।
जलजमाव से परेशान लोगों का नगर परिषद में हल्ला बोल, कार्यपालक पदाधिकारी ने किया इलाके का मुआयना
महात्मा गांधी चम्पारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह आयोजन समिति, मोतिहारी की बैठक संपन्न
SDM ने दो गज की दूरी एवं मास्क है जरूरी का दिया संदेश
पूरी दुनिया ने योग के महत्व को स्वीकार किया है: पूर्व कृषि मंत्री

  • 89
    Shares

Leave a Reply