हमारे पास सबसे ऊंची मूर्ति जरूर है किन्तु इतनी बड़ी सीढ़ी नहीं है जो आगलगी में फंसे बच्चों की जान बचा सके…!

Featured Post slide Uncategorized अहमदाबाद क्राइम बिहार मुंबई मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल राजनीति राष्ट्रीय शिक्षा स्पेशल न्यूज़
  • 20
    Shares

नई दिल्ली। हमारे पास दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति है लेकिन हमारे पास ऐसे अग्निशमन यंत्र नहीं हैं कि हम किसी कोचिंग में लगी आग से मासूम बच्चों को बचा सकें! न ही हमारे पास ऐसे यंत्र हैं कि हम खदान में फंसे मजदूरों के शव तक को एक सप्ताह बाद भी निकाल सकें (मेघालय दुर्घटना)!हमारे यहां हर रेलवे स्टेशन पर ऊंचे-ऊंचे तिरंगे झंडे हैं लेकिन हम हर साल होने वाली रेल दुर्घटनाओं को नहीं रोक पा रहे हैं! हमारे पास एक बार में सबसे अधिक खिचड़ी पकाने का विश्व रिकॉर्ड है लेकिन हर साल कई बच्चों के भूख से मरने की ख़बर सुनने को मिलती है!हमारे पास हर साल 99.99% अंक पाने वाले लड़कों की भीड़ लग जाती है लेकिन फिर भी कभी वाराणसी में पुल गिरता है तो कभी मुंबई रेलवे जंक्शन के ओवर ब्रिज पर दुर्घटना होती है और हमारा प्रशासन, हमारी तकनीकी उसे रोक नहीं पाती!

क्या ये सब चोचले नहीं मालूम पड़ते! सबसे ऊंचा झंडा, सबसे ऊंची मूर्ति भी भला कोई रिकॉर्ड है? ये तो कोई भी देश 24 घंटें में बना सकता है। इसमें समय थोड़े लगेगा। आख़िर दुनिया के एक से बढ़कर एक धनी देश मूर्ख़ थोड़े हैं, जो ये सब खुरापात नहीं करते! वो सब भी चाहें तो ये सब कर सकते हैं। लेकिन नहीं, वो शिक्षा, स्वास्थ्य, तकनीकी, रोजगार जैसे मूलभूत चीजों में इनवेस्ट कर रहे हैं। क्योंकि ये सब लॉन्ग टर्म इनवेस्मेंट हैं। एक बार एक निश्चित मुकाम पा लिया तो वो कई पीढ़ियों को काम देगी। फिर जो रिकॉर्ड एक दिन में जब चाहें, तोड़ा जा सके, वो भी कोई रिकॉर्ड है। रिकॉर्ड तो उसे कहते हैं, जिसे चाहकर भी जल्दी न तोड़ा जा सके!सबसे बड़ी मूर्ति, सबसे बड़ा झंडा, सबसे भव्य मंदिर…ये सब भी कोई इतराने या प्रतिस्पर्धा की चीजे हैं! दरअसल अपना देश हीनता का शिकार हो चुका है। हम कैसे भी करके दुनिया में खुद को साबित करना चाहते हैं। कैसे भी करके…!

ठीक वैसे ही, जैसे हीनता से ग्रसित कोई महापुरुष एक ही कमरे के ऊपर कमरा, कमरे के ऊपर कमरा…बनाते हुए मोहल्ले का सबसे ऊंचा मकान बनाकर इतराते फिरें। भले ही वह मकान एक हल्का सा भी झटका न झेल पाए! मैं मूर्ति, झंडा या मंदिर का विरोधी नहीं हूं। लेकिन इनके अलावा भी कई चीजें हैं, जिनकी देश को ज़रूरत है..

सभार…अजय सिंह(FF)

अन्य ख़बरें

बीएसएस क्लब:- निःशुल्क शैक्षणिक संस्थान रोसड़ा,समस्तीपुर के छात्रों ने मारी Bihar ITI में बाजी
चांद की कक्षा में पहुंचा chandrayaan-2 अगले माह 7 सितंबर को होगी लैंडिंग
प्रेरणा दिवस पर मधुरेन्द्र ने बिहार विभूति सीताराम सिंह को अनोखें अंदाज में किया नमन
युवा समाजसेवी सुमित कुमार ने वार्ड 09 में कराया सैनिटाइजर का छिड़काव, बना चर्चा का विषय
NDA घटक दलों के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों की बैठक संपन्न
पकड़ीदयाल में किसान के खेत से निकली भगवान की मूर्ति, ग्रामीणों ने मूर्ति को अपने कब्जे में लेकर की प...
अटल जी को जागृति सेवा किड्स प्ले स्कूल ने दी श्रद्धांजलि
दिव्यांग बच्ची की मौत या हत्या, पिता ने कहा मेरी बेटी के साथ हुए बलात्कार के साक्ष्य मिटाने के लिए ह...
कमेंटेटर लिटिल गुरु, वैश्विक शांति राजदूत पुरस्कार से सम्मानित
खेसारीलाल यादव की फिल्‍म ‘कुली No.1’ बनी साल की पहली छमाही में सबसे बड़ी फिल्‍म
Save Child Beggar संस्था के द्वारा मेडिकल कैंप का हुआ आयोजन
चकिया में मिशन साहसी के तहत शुरू हुआ बालिकाओं का सेल्फ डिफेंस प्रशिक्षण
सदस्यता अभियान को लेकर ABVP मोतिहारी ने किया जिला बैठक का आयोजन ।
अक्षरा-अमरीश की फिल्‍म ‘लव मैरेज’ 7 फरवरी को होगी रिलीज
उत्तरी ढ़ेकहां के बूथ अध्य्क्ष एवम पंचायत अध्य्क्ष का चुनाव सम्पन्न
सामाजिक संगठनों ने किया गरीब एवं जरूरतमंद लोगों के बीच राहत सामग्री का वितरण
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के जन्मदिन की खूब-खूब बधाई
धूमधाम से मनाया गया आसाराम बापू का जन्मदिन
11 महिलाओं ने जीता मिसेज़ एंड मिस इंडिया यूनिवर्सल 2019 का ताज और टाइटल
CAA एवं NRC के समर्थन में बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद एवं दुर्गा वाहिनी ने बनाया मानव श्रृंखला

  • 20
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *