सेविका-सहायिका बहनों ने अपनी मांगों को लेकर किया प्रदर्शन,10 अक्टूबर से काला बिल्ला लगाकर करेंगी काम

गाँव-किसान बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल राजनीति शिक्षा स्पेशल न्यूज़
  • 14
    Shares

NTC NEWS MEDIA / Motihari

अपनी 15 सूत्री मांगों को लेकर बिहार राज्य आंगनबाड़ी कर्मचारी यूनियन के बैनर तले पूर्वी चंपारण की तमाम सेविका-सहायिका बहनों ने आज कचहरी चौक पर महा धरना प्रदर्शन करके अपनी शक्ति का एहसास कराया।

नरसिंह बाबा मठ मोतिहारी के प्रांगण से शुरू हुआ यह प्रदर्शन हॉस्पिटल बलवा चौक राजा बाजार होते हुए कचहरी चौक पर आकर सभा में तब्दील हो गया इस प्रदर्शन में हजारों की संख्या में सेविका-सहायिका बहनों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया एवं अपनी संगठनात्मक शक्ति का एहसास कराया।

इस अवसर पर बिहार राज्य आंगनबाड़ी कर्मचारी यूनियन के जिला अध्यक्ष ममता कुमारी सिंह ने कहा कि जहां एक और महिला सशक्तिकरण की बातें हो रही हैं तो वहीं दूसरी ओर सेविका-सहायिका बहनों पर काम का दबाव इतना है कि आज उनका शोषण हो रहा है उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी में ड्यूटी मात्र 4 घंटे की होती है किंतु सेविका-सहायिका बहने 24 घंटे काम करती हैं

 इतना ही नहीं ममता सिंह ने सेविका-सहायिका बहनों द्वारा किए जानेवाले कार्यों को गिनाते हुए कहा कि चाहे ओडीएफ चुनाव बीएलओ स्वास्थ्य कार्य पोलियो नगरी भ्रमण केंद्र संचालन जनगणना जन्म से लेकर मृत्यु तक का देखभाल यह सारे कार्य हम सब करती हैं किंतु इतने कम मेहनत आना में इतना काम यह दर्शाने के लिए काफी है कि कहीं ना कहीं हमारा शोषण हो रहा है उन्होंने कहा कि जब तक हमारा सरकारीकरण नहीं हो जाता है तब तक हक की लड़ाई जारी रहेगी।

वहीं दूसरी ओर प्रियंबदा बहन ने कहा कि एकता में बल है निश्चित रूप से सरकार को इस बल के आगे झुकना होगा। उन्होंने कहा कि 4 घंटे के अतिरिक्त जितना भी हम लोग कार्य करेंगे उसके लिए पहले लेटर हमें चाहिए बिना लेटर लिए हम लोग कोई कार्य नहीं करेंगे।

इसके साथ उन्होंने कहा कि 10 अक्टूबर से 28 नवंबर तक सभी आंगनबाड़ी सेविका सहायिका बहाने काला बिल्ला लगाकर कार्य करेंगी। यदि सरकार ने हमारी मांगे इस बीच नहीं मानी तो 28 नवंबर को विधानसभा का घेराव करेंगे एवं 5 दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी दे डाली।

बताते चलें कि अभी कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार ने सहायिका, सेविका बहनों के वेतन में इजाफा करने की घोषणा की  है किंतु आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का कहना है कि उन्हें 18000 तक की सैलरी चाहिए। उन्होंने नारा दिया कि “4000 में दम नहीं 18000 से कम नहीं

इस अवसर पर देवेश कुमार सिंह, सारिका गुप्ता, पूजा कुमारी, रेणु देवी, अनामिका, नीरू एवं  प्रखंड के सभी सेविका-सहायिका बहनों ने हिस्सा लिया।

अन्य ख़बरें

कृभको के तहत जिला के थोक एवं खुदरा विक्रेताओं का पाॅश मशीनों से उर्वरकों की बिक्री का प्रशिक्षण सम्प...
चंपारण के लाल राकेश पांडे ब्रिटेन के हाउस ऑफ कॉमंस में Confluence excellence award से सम्मानित।
महादलित बस्ती में आंगनबाड़ी केंद्र पर बच्चों के बीच कॉपी, पेंसिल, कटर, रबड़ और पौष्टिक आहार का वितरण
गांधी संकल्प यात्रा निकाल दिया गया स्वच्छता एवं शांति का संदेश
बाढ़ प्रभावित गांवों में शीघ्र सामुदायिक रसोई केंद्र प्रारंभ करने का निर्णय
तिरंगा यात्रा निकाल कर युवाओं ने दिया राष्ट्रभक्ति के साथ साथ स्वच्छता का संदेश
मुन्ना कु. कुशवाहा उर्फ मुन्ना भाई तिरहुत जोन के चुनाव अभियान समिति के उपाध्यक्ष मनोनीत
मोतिहारी के सांसद ने किया सामुदायिक किचन का निरीक्षण तो वही एवं विधायक सह मंत्री ने किया बाढ़ प्रभाव...
मोतिहारी विधानसभा भाजपा के मंडल समितियों की कार्यशाला आयोजित, सदस्यता पंजी के सत्यापन और बूथ एवं मंड...
पूर्व राष्ट्रपति के देहांत पर सात दिवसीय राजकीय शोक की घोषणा
सामाजिक विज्ञान में शोध विषय पर राष्ट्रीय ई-कार्यशाला का हुआ आयोजन
Breaking NEWS: अभी अभी मोतिहारी के पुलिस कप्तान उपेंद्र कुमार शर्मा निकले जाम छुड़ाने तो सड़के हो गई...
तेली अधिकार रैली को सफल बनाने के लिए ढाका में जनसंपर्क
डॉ. राजेश रंजन ने किया एडवांस लेप्रोस्कोपी से 7 साल की बच्ची का सफल ईलाज
स्वच्छता अभियान के तहत रामगढ़वा में भी चला स्वच्छता अभियान
अरेराज: इंडियन ऑयल के सामाजिक दायित्व निर्वाहन (2019-20) के तहत 100 फीट ऊंचा धरोहर ध्वज का लोकार्पण
बिहार में 15 DSP का हुआ तबादला पूरा लिस्ट यहां देखें
शिव धनुष को राम नही सीता ने तोड़ी थी- रामायणी रामलला अयोध्या
तुम मुझे यूं भूला ना पाओगे ,रफी की याद में सुरीली शाम
युवा दिवस पर दलित बस्ती में कॉपी,कलम,चॉकलेट वितरित

  • 14
    Shares

Leave a Reply