सामाजिक विज्ञान में शोध विषय पर राष्ट्रीय ई-कार्यशाला का हुआ आयोजन

Featured Post बिहार शिक्षा
  • 10
    Shares

मोतिहारी। महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय, बिहार के समाज कार्य विभाग द्वारा आज प्रातः 11:00 बजे राष्ट्रीय ई-कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला का मुख्य विषय Research in Social Sciences focusing on Writing Articles/thesis/Journals था।
इस ई-कार्यशाला की अध्यक्षता कर रहे महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर संजीव कुमार शर्मा ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया एवम उन्होंने कहा कि कोविद-19 के वजह से जो शैक्षणिक कार्य रुके हुए है उन्हें गति प्रदान करने के उद्देश्य से इस कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसके अलावे उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि शोध सत्य को जानने, समझने, और उसकी अभिव्यक्ति का सबसे उत्तम और विश्वसनीय साधन है।शोध के माध्यम से हम निरंतर सीखने की दिशा में आगे बढ़ते है। शोध से हमारे जीवन का सम्पूर्ण विकास होता है।
कार्यशाला के मुख्य अतिथि भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय, हरियाणा के कुलपति प्रोफसर सुषमा यादव (मेंबर ऑफ UGC, New Delhi) रही एवम उन्होंने बताया कि शोध करने के लिए सबसे पहले शोध विषय का चयन बहुत ही सावधानी से किया जाना चाहिए। विषय के चयन में ये जरूर ध्यान रखना जरूरी है कि विषय समसामयिक और प्रासंगिक हो। शोध करने से पूर्व अनुभव की आवश्यकता होती है।अनुभव परफेक्ट शोध की तरफ ले जाता है,अनुभव अध्ययन से आता है, जितना अधिक अध्ययन करेगे,लोगो से बात करेंगे, अनुभव उतना ही ज्यादा होगा।
इस कार्यशाला में इसके अलावे इस कार्यशाला मे डॉ एस एफ चंद्रशेखर (Shiva Shivani Institute of Management, Hydrabad), डॉ एम राघवेंद्र शर्मा(Department of Statistics, Osmania University) भी इस कार्यशाला में शामिल हुए एवम शोधकार्यों के स्तर पर चर्चा करते हुए कहा कि देश में धन से लेकर कौशल तक किसी चीज की कमी नहीं है अगर कमी है तो वो है कल्पना की। बेहतर शोध के लिए समाज, विश्वविद्यालय एवं निजी संगठनों को एक साथ मिलकर शोधकार्यों में अपना योगदान देने की जरूरत है। इसके अलावा उन्होंने रिव्यु ऑफ लिट्रेचर की महत्वता, शोध के उद्देश्य, रिसर्च डिजाइन आदि पर विस्तृत रूप से चर्चा की।
Dean School of Social Science प्रोफेसर राजीव कुमार एवम बिभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर डॉ एम विजय कुमार शर्मा ने कार्यशाला के विषय पर प्रकाश डाला। इस कार्यशाला का संचालन विभाग के डॉ राष्मिता रे एवम धन्यवाद ज्ञापन डॉ अनुपम वर्मा के द्वारा किया गया।

अन्य ख़बरें

लॉक डाउन शत-प्रतिशत पालन कराने हेतु जिलाधिकारी उतरे सड़क पर,डुमरिया स्थित चंपारण बांध का निरीक्षण
आज गाँधी जयंती के अवसर पर, मोतिहारी में होने वाले कार्यक्रम
सियासी घमासान के बीच लालू के लाल ममता दीदी के समर्थन में पहुंचे कलकत्ता
उर्वरक सह कृषि सामग्री विक्रेता संघ ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया 2 लाख एक हजार साठ रुपया
सरकार की योजनाओं की जानकारी कार्यकर्ताओं द्वारा सुगमता पूर्वक जनता को दी जानी चाहिए: पवन शर्मा
जल और जीवन बचाओ हरियाली लाओ से संबंधित रेत कलाकृति बनाकर सैंड आर्टिस्ट ने दिया पर्यावरण संरक्षण का स...
कला संस्कृति मंत्री ने पदाधिकारियों के साथ बैठक कर बाढ़ एवं राहत कार्यों की समीक्षा की
कल मोतिहारी में भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल के अभिनंदन की तैयारियाँ जोरों पर
गांधी जयंती पर युवा सहयोग दल ने प्लास्टिक उपयोग न करने का लिया संकल्प
सिपाही बहाली घोटाले की हो सीबीआई जांच: "आम आदमी पार्टी"
कमल किशोर कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोनीत
कोरोना वायरस पर महिला वार्ड सदस्यों द्वरा जागरूकता कार्यक्रम आयोजित
किसान विरोधी सरकार को पूर्वी चंपारण की जनता सिखायेगी सबक : आकाश कुमार सिंह
"वेलेंटाइन डे " स्पेशल...। वैलेंटाइन डे की पार्टी पूरे शबाब पर थी और फिर...!!!
बाढ़ पूर्व तैयारियों की समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने कम्युनिटी किचन चलाने एवं गर्भवती, बच्चें, बुज...
स्थानीय संस्था ने किया पौधा वितरण कार्यक्रम, सूर्य उपासना के साथ वृक्षारोपण से होता है लाभ
जिला यूथ पार्लियामेंट के लिए 18 जनवरी से होगा मुंशी सिंह महाविद्यालय में सेलेक्सन।
SNS College Motihari के एनएसएस वॉलिंटियर्स ने निकाली मतदाता जागरूकता रैली
केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए भिक्षाटन करते केशव कृष्णा एवं अन्य
शिक्षक राष्ट्र निर्माता है अतः उनका सम्मान जरूरी : निखिल

  • 10
    Shares

Leave a Reply