सामाजिक विज्ञान में शोध विषय पर राष्ट्रीय ई-कार्यशाला का हुआ आयोजन

Featured Post बिहार शिक्षा
  • 10
    Shares

मोतिहारी। महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय, बिहार के समाज कार्य विभाग द्वारा आज प्रातः 11:00 बजे राष्ट्रीय ई-कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला का मुख्य विषय Research in Social Sciences focusing on Writing Articles/thesis/Journals था।
इस ई-कार्यशाला की अध्यक्षता कर रहे महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर संजीव कुमार शर्मा ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया एवम उन्होंने कहा कि कोविद-19 के वजह से जो शैक्षणिक कार्य रुके हुए है उन्हें गति प्रदान करने के उद्देश्य से इस कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसके अलावे उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि शोध सत्य को जानने, समझने, और उसकी अभिव्यक्ति का सबसे उत्तम और विश्वसनीय साधन है।शोध के माध्यम से हम निरंतर सीखने की दिशा में आगे बढ़ते है। शोध से हमारे जीवन का सम्पूर्ण विकास होता है।
कार्यशाला के मुख्य अतिथि भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय, हरियाणा के कुलपति प्रोफसर सुषमा यादव (मेंबर ऑफ UGC, New Delhi) रही एवम उन्होंने बताया कि शोध करने के लिए सबसे पहले शोध विषय का चयन बहुत ही सावधानी से किया जाना चाहिए। विषय के चयन में ये जरूर ध्यान रखना जरूरी है कि विषय समसामयिक और प्रासंगिक हो। शोध करने से पूर्व अनुभव की आवश्यकता होती है।अनुभव परफेक्ट शोध की तरफ ले जाता है,अनुभव अध्ययन से आता है, जितना अधिक अध्ययन करेगे,लोगो से बात करेंगे, अनुभव उतना ही ज्यादा होगा।
इस कार्यशाला में इसके अलावे इस कार्यशाला मे डॉ एस एफ चंद्रशेखर (Shiva Shivani Institute of Management, Hydrabad), डॉ एम राघवेंद्र शर्मा(Department of Statistics, Osmania University) भी इस कार्यशाला में शामिल हुए एवम शोधकार्यों के स्तर पर चर्चा करते हुए कहा कि देश में धन से लेकर कौशल तक किसी चीज की कमी नहीं है अगर कमी है तो वो है कल्पना की। बेहतर शोध के लिए समाज, विश्वविद्यालय एवं निजी संगठनों को एक साथ मिलकर शोधकार्यों में अपना योगदान देने की जरूरत है। इसके अलावा उन्होंने रिव्यु ऑफ लिट्रेचर की महत्वता, शोध के उद्देश्य, रिसर्च डिजाइन आदि पर विस्तृत रूप से चर्चा की।
Dean School of Social Science प्रोफेसर राजीव कुमार एवम बिभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर डॉ एम विजय कुमार शर्मा ने कार्यशाला के विषय पर प्रकाश डाला। इस कार्यशाला का संचालन विभाग के डॉ राष्मिता रे एवम धन्यवाद ज्ञापन डॉ अनुपम वर्मा के द्वारा किया गया।

अन्य ख़बरें

प्रदीप पांडे चिंटू की फिल्‍म ‘नायक’ बिहार के दर्शकों को खूब आ रही पसंद। 
बिहार के नए राज्यपाल महामहिम लालजी टंडन का पटना एयरपोर्ट पर हुआ स्वागत
केन्द्रीय कृषि मंत्री ने किया हाई टेक बम्बू नर्सरी का निरिक्षण, 25 Sep. से किसानों के लिए होगा उपलब्...
कृत्रिम आसूचना और साइबर सुरक्षा में नए आयाम’ विषय पर संगोष्ठी का उद्घाटन
 शिक्षक,लैब सहित तमाम सुविधाओ की कमी को लेकर चकिया में, महाविद्यालय के बाहर छात्रों का प्रदर्शन।।
सेविका-सहायिका बहनों ने अपनी मांगों को लेकर किया प्रदर्शन,10 अक्टूबर से काला बिल्ला लगाकर करेंगी काम
ढाका विधायक फैसल रहमान कोरोना संक्रमित पाए गए, हुए आइसोलेट
"स्वच्छता ही सेवा" के अंतर्गत प्रधानमंत्री के जीवन पर बनी लघु फिल्म "चलो जीते हैं" दिखाई गई।
अधिकार रैली में जुटेंगे जिले भर के छात्र, 4 जनवरी को राजेंद्र नगर भवन के मैदान में है रैली
हर अपराध की दस्तक होती है, उसे समझकर सम्भल जाना ही उचित : SP उपेंद्र शर्मा
कांग्रेस की जबरदस्त जीत, रितेश नाथ तिवारी ने केक काटकर मनाया जीत का जश्न
हमारी सरकार पशु धन के विकास और संवर्धन के लिए कृतसंकल्पित: कृषि मंत्री
धूमधाम से मनाया गया न्यू पटना सेन्ट्रल स्कूल का वार्षिकोत्सव
विनय राय ,आयुषी और अभिलाषा की जादुई आवाज से झूमे दर्शक
ABVP महिला विंग का मिशन साहसी के तहत जनसंपर्क, छात्राओं की शिकायत पर थाने में आवेदन
आज मेरी फोटो अत्यधिक सुंदर है,क्योंकि इसमें मेरी मां है: काजल राघवानी
मिशन चंद्रयान-2 की उम्मीदें अभी भी बरकरार...आर्बिटर ने लैंडर विक्रम को ढूंढा। संपर्क की कोशिश जारी
पकड़ीदयाल: भब्य शोभा यात्रा के साथ हुई श्री रामचरित्र मानस महायज्ञ की शुरुआत
अज्ञात कारण से मोती झील के तट पर उमड़ी भीड़
पूर्व कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह बनाए गए रेलवे समिति के अध्यक्ष, बधाई देने वालों का लगा तांता

  • 10
    Shares

Leave a Reply