सवर्ण न्याय आंदोलन का प्रचार प्रसार हुआ तेज़: पीयूष पंडित

गाँव-किसान धार्मिक ज्ञान फोटो गैलरी बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल राष्ट्रीय स्पेशल न्यूज़
  • 10
    Shares

NTC NEWS MEDIA

      लखनऊ(ब्यूरो) । दिल्ली से आए स्वर्ण भारत परिवार संगठन के मुखिया पिछले 4 दिनों लखनऊ में डेरा डाले हुए है ज्ञातव्य हो कि स्वर्ण न्याय आंदोलन आगामी 19 अक्टूबर को लखनऊ में प्रस्तावित है जो देश विदेश के सभी लोगो द्वारा बनाया गया है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष पीयूष पंडित का कहना है कि उत्तर प्रदेश के सभी जिला अध्यक्ष और मंडल अध्यक्ष को आदेश दे दिया गया है और गांव से लेकर सहर तक के लोग इस आंदोलन का हिस्सा बनेंगे। वहीं जिला अध्यक्ष घर घर जा कर लोगो को जागरूक करने का काम कर रहे है। पीयूष पंडित का कहना है कि सिर्फ उत्तर प्रदेश के है नहीं बल्कि आस पास के जितने प्रदेश है वहां के लोग भी इस आंदोलन में शामिल हो रहे है।

              दिल्ली,राजस्थान, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश, हरियाणा, बिहार जैसे राज्यो से लोग एकत्रित होंगे पचास संगठन और लाखों लोगो की आने कि संभावना जताई जा रही है। उन्होंने कहां हमारे सहयोगी संगठन भी इस आंदोलन के प्रचार-प्रसार में बडी तेज़ी से लगे है उन्होंने कहा हज़ारों गाड़ियों का जो काफिला निकलेगा उसका रोड मैप भी तैयार हो गया है और हमारा प्रदर्शन शांति रूप से होगा, जिसमें हम प्रशाशन का पूरा सहयोग करेंगे ।

 इस प्रदर्शन में उनकी कुछ मुख्य मांगे होगी

1.स्वर्ण आयोग का गठन,

2.बालिका सुरक्षा बिल,

3. आरक्षण आर्थिक रूप से दिया जाए,

4.प्रमोशन योग्यता के आधार पर लागू हो,

5.किसानों को उचित मुवावजा दिया जाए,

6. गन्ना किसान की राशि का भुगतान हो,

7.उत्तर प्रदेश में स्वर्ण समाज के मारे गए लोगो को उचित मुआवजा मिले,

8. बेरोजगारों को रोजगार दिया जाए। आदि प्रमुख मांगे रहेंगी।

आगे उन्होंने सरकार को घेरते हुए कहा कि यूपी में भाजपा की योगी सरकार है फिर भी रेप और हत्या कम नहीं हुई लगातार अपराध बढ़ रहा है और सरकार मौन बैठी है उन्होंने कहां यदि संस्कृति राय के हत्यारों को जल्द से जल्द नहीं पकड़ा गया तो हमारा आंदोलन और भी भयानक होगा जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में बहन बेटी सेफ नहीं है क्या मोदी के यही अच्छे दिन है कि लोगो को न्याय के लिए दर दर भटकना पड़ रहा है उन्होंने कहा जो राजनीतिक पार्टी जाति और धर्म की राजनीति करती है और वोट बैंक के चक्कर में सवर्ण समाज के लोगो को टारगेट करती है उन्हें 19 अक्टूबर के बाद सवर्णों की एकता और उनके वोट बैंक के बारे में एहसास हो जाएगा। उन्होंने कहां हमारा स्वर्ण समाज एकजुट हो रहा है और हम अपनी एकता का परिचय सवर्ण क्रांति महाआंदोलन में दिखा देंगे।

अन्य ख़बरें

सीट बढ़ाने, एडमिशन का डेट बढ़ाने आदि मुद्दों को लेकर बिहार नवयुवक सेना ने किया प्रदर्शन
फिलहाल दो ट्रेड़ो के 17 पदों के लिए 36 लोगों का हुआ इंटरव्यू
अटल जी को शायर डॉक्टर सबा अख्तर की श्रद्धांजलि
किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए सारा अनाज न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकार द्वारा खरीदा जाए, यह सुनिश्चि...
मोतिहारी में कांग्रेस गठबंधन का भारत बंद पूरी तरह से सफल
दहेज के लिए ससुराल वालों ने की साहेबगंज की बेटी रेखा देवी की गला दबाकर हत्या
मतदान प्रतिशत में वृद्धि हेतु, बूथ लेवल तक मतदाताओं को जागरूक करेंगे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के...
पकड़ी गांव का उपस्वास्थ्य केंद्र की बुरी हालत के लिए जिला स्वास्थ्य समिति जिम्मेदार - अनिकेत पाण्डेय
पूर्वी चंपारण में शांतिपूर्ण ढंग से 58.62% मतदान, जिला नियंत्रण कक्ष से लगातार होती रही मॉनिटरिंग।
ढ़ाका : भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा जिला कार्य समिति की बैठक संपन्न, पूर्व विधायक पवन जयसवाल सहित ढ़...
मुजफ्फरपुर जिला तैलिक साहू समाज की बैठक संपन्न, राजनीतिक भागीदारी के लिए लिया गया एकजुटता का संकल्प
रेलवे ग्रुप D एडमिट कार्ड के लिए महत्वपूर्ण लिंक, यहां क्लिक कीजिए
अटल जी को रमगढ़वा भाजपा मीडिया प्रभारी अश्विनी कुमार झा की श्रद्धांजलि
महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के अच्छे दिन कब आएंगे...???
राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर महिला वार्ड सदस्यों के द्वारा गर्भावस्था के दौरान पोषण के महत्व पर परि...
रमगढ़वा में छठ के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का हुआ आयोजन
जातिवाद को बढ़ावा देने वाले कालिया नाग को नथने का समय आ गया है: नित्यानंद राय
जिला निर्वाचन पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने शांतिपूर्ण चुनाव कराने को लेकर की संयुक्त ब्रीफिंग
कंचन गुप्ता......
राधामोहन सिंह: अनुच्छेद 370 के जरिए कश्मीर को विशेष दर्जा देना एक ऐतिहासिक भूल थी

  • 10
    Shares

Leave a Reply