सवर्ण आंदोलन से डरी सरकार, गिरिराज सिंह होंगे बिहार के नए उपमुख्यमंत्री

पटना बिहार

NTC NEWS MEDIA

पटना। बिहार कैबिनेट से जुड़ी सबसे बड़ी खबर हम ब्रेक कर रहे हैं। भूमिहार ब्राह्मण समुदाय के विरोध का असंभावित असर बिहार कैबिनेट पर देखने को मिल सकता है। दशहरा के ठीक बाद कैबिनेट में अब तक का सबसे बड़ा बदलाव होने की उम्मीद है। बिहार कैबिनेट का चेहरा अब शायद यूपी की योगी कैबिनेट जैसा हो सकता है। क्योंकि खबर ये है कि बिहार सरकार में अब एक नहीं, बल्कि दो डिप्टी सीएम होंगे। मतलब साफ है कि बिहार में सुशील मोदी के अलावा भी एक डिप्टी सीएम रहेगा। सबसे बड़ी खबर यह भी है कि यह डिप्टी सीएम भारतीय जनता पार्टी का होगा और संभवत बिहार के अगले डिप्टी सीएम का नाम भी तय हो चुका है।
एससी-एसटी एक्ट, सवर्णों पर लाठीचार्ज, सवर्णों पर मुकदमा, प्रमोशन में आरक्षण, स्वर्ण नेताओं के खिलाफ हल्ला बोल और सीएम पर चप्पल फेंकने के ताजा मामलों ने बिहार की नीतीश सरकार को हिला कर रख दिया है। नीतीश को चिंता है कि कहीं वे कांग्रेस के चक्रव्यूह में फस न जाएं। चिंता इसलिए क्योंकि हाल की घटनाओं में भूमिहार ब्राह्मणों के आक्रोश से सवर्ण वोट के टूटने की फीडबैक मिली है। ऐसे में सोशल इंजीनियरिंग के मास्टर नीतीश कुमार ने मास्टर स्ट्रोक खेल दिया है।
मास्टर स्ट्रोक का पहला शॉट वे PK यानी प्रशांत किशोर को लॉन्च कर लगा चुके हैं। कहा जा रहा है कि प्रशांत किशोर को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाकर पार्टी में नंबर दो की पोजीशन देने के पीछे की वजह ये है प्रशांत किशोर ब्राह्मण हैं।
राजनीतिक रणनीतिकार हैं।
सिर पर लोकसभा और फिर विधानसभा का चुनाव है। ऐसे में उन्हें प्रशांत किशोर जैसा थिंक टैंक तो मिल ही गया, साथ ही ब्राह्मण को संगठन में इतनी बड़ी जिम्मेदारी देकर उन्होंने सवर्णों को खास संदेश दिया है। हालांकि, जदयू और भाजपा को मालूम है कि प्रशांत किशोर को मंत्री पद मिलने के बाद भी सवर्णों के आक्रोश पर पानी नहीं गिरने वाला।
ऐसे में अब बिहार में सुशील मोदी के बराबर कद पर सवर्ण समुदाय से एक डिप्टी सीएम बनाने की रणनीति बनी है। कहा जा रहा है कि इस रणनीति पर अंतिम मुहर तक लग चुकी है। रणनीतिकार प्रशांत किशोर को मंत्री बनाने के साथ ही बिहार में भाजपा कोटे से एक और डिप्टी सीएम बनाए जाने की खबर है। शर्त ये है कि यह डिप्टी सीएम भूमिहार जाति से हो और दबंग हो। ताकि सवर्णों को भड़काने वालों को जवाब दे सके और सवर्णों को मनाने का दम भी रखता हो। भाजपा से जुड़े सूत्रों के अनुसार डिप्टी सीएम के लिए गिरिराज सिंह के नाम पर मुहर तक लग चुकी है।
गिरिराज को डिप्टी सीएम बनाने के लिए कुछ विरोध के बाद भी सहमति बन गई है। पार्टी सूत्रों के अनुसार शुक्रवार यानी विजयादशमी के रोज गिरिराज सिंह दिल्ली से पटना भी पहुंच रहे हैं। क्योंकि बिहार में दशहरा के ठीक बाद कैबिनेट विस्तार होने की सूचना है। इसी कैबिनेट विस्तार में गिरिराज सिंह को डिप्टी सीएम का ताज मिल सकता है।

अन्य ख़बरें

कयासों पर लगा विराम... संजय जयसवाल को बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष कमान
केंद्र सरकार सबका साथ-सबका विकास एवं सबका विश्वास मंत्र के साथ चल रही है: राधा मोहन सिंह
दैनिक जागरण परिवार की ओर से आयोजित कवि सम्मेलन की पूरी फोटो...यहाँ क्लिक कीजिए।
चंपारण के लाल राकेश पांडे ने शहीद परिवार को दिया 10 लाख का चेक। आगे भी सहायता का दिलाया भरोसा
कार्यपालक सहायकों का तीन दिवसीय सामूहिक अवकाश समाप्त, मांगों की पूर्ति नहीं होने पर होगा चरणबद्ध आंद...
नगर अध्यक्षा अंजू देवी, शायर गुलरेज शहजाद, गोविंद सिंह एवं अन्य लोगों ने छठ व्रत पूजन सामग्री का वित...
रिटायर्ड कर्मी से दिन-दहाडे़ 20 हजार की लूट...घटना बलुआ चौक की
भारत की जनवादी नौजवान सभा ने निकाला प्रतिरोध मार्च
साग खोटने के दौरान करंट लगने से एक की मौत
भाजपा जिला महामंत्री डॉ लालबाबू प्रसाद ने किया अपोलो इमरजेंसी हॉस्पिटल का उद्घाटन
पुलिस एवं व्यवसायियों के बीच तालमेल के लिए मोतिहारी चैंबर ऑफ कॉमर्स करेगा पुलिस व्यवसायी संवाद का आय...
केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए भिक्षाटन करते केशव कृष्णा एवं अन्य
बिहार में भाजपा,जदयू और लोजपा के बीच सीटों के बंटवारे का पूरा लिस्ट इस लिंक पर देखिए।
वीर कुँवर सिंह गाथा" को मंच से जीवंत करने वाली अनुभूति शांडिल्य "तीस्ता" नहीं रही
कांग्रेस की जन आकांक्षा रैली को लेकर बिट्टू यादव के नेतृत्व में पीपरा विधानसभा में हुई जनसंपर्क बैठक...
शिक्षा, स्वास्थ एवम रोजगार के दिशा में चरणबद्घ तरीके से किया जाएगा कार्य: राकेश पाण्डेय
राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर महिला वार्ड सदस्यों के द्वारा गर्भावस्था के दौरान पोषण के महत्व पर परि...
मोतिहारी के डॉक्टर्स एसोसिएशन ने कैंडल मार्च निकालकर, दिया पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि
अटल उद्यान में मोतिहारी भाजपा की बैठक संपन्न, मोतिहारी विधानसभा के प्रशिक्षण शिविर को लेकर विचार-विम...
पार्श्वगायन के क्षेत्र में खास पहचान बना चुके हैं अमर आनंद

Leave a Reply