सम्राट अशोक पर की गई टिप्पणी के खिलाफ दया प्रकाश सिन्हा का पुतला दहन

Featured Post बिहार राजनीति

मोतिहारी। सम्राट अशोक के विरुद्ध अपमानजनक टिप्पणी को लेकर आज पूर्वी चंपारण के हेड क्वार्टर मोतिहारी में नाट्यकार दया प्रकाश सिन्हा का पुतला दहन महात्मा फुले समता परिषद, पूर्वी चंपारण जिला इकाई के सदस्यों द्वारा किया गया। कार्यक्रम का नेतृत्व पूर्व विधानसभा प्रत्याशी डाॅ. दीपक कुमार द्वारा किया गया।
इस दौरान जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार संयुक्त नोट में कहा कि भारत के स्वाभिमान गौरवशाली भारत के निर्माता चक्रवर्ती सम्राट अशोक के विरुद्ध अपमानजनक टिप्पणी को भारत की जनता कभी स्वीकार नहीं कर सकती है।
संयुक्त वक्तव्य के अनुसार सम्राट अशोक ने अपने पराक्रम और समाज-सुधार के कार्यों से भारत को पूरी दुनिया में गौरव दिलाया। दुनियाभर में शान्ति के संदेश को फैलाया।
अनुसार ने कहा कि नाट्यकार दया प्रकाश सिन्हा द्वारा ऐसी महान शख्सियत के खिलाफ अभद्र और अपमानजनक टिप्पणी एवं उनके विरुद्ध आधारहीन तर्क बर्दास्त योग्य नहीं हैं, साथ ही इतिहास विरुद्ध बात लिखकर न सिर्फ बिहार के स्वाभिमान को ललकारा गया है बल्कि भारत की अस्मिता पर भी हमला है।
उन्होंने कहा कि सम्राट अशोक का लाट (तीन सिंह) की मूर्ति आज भारत सरकार का राष्ट्रीय प्रतीक है। यही नहीं, उनका चक्र भारत मां की तिरंगे की शान है। दया प्रकाश सिन्हा का यह कृत्य देशद्रोह की श्रेणी में आता है। अफसोस की बात है कि उसी पुस्तक के लेखक को साहित्य अकादमी पुरस्कार और पद्मश्री का सम्मान दिया गया है।
हम आज पुरजोर तरीके से यह मांग करते हैं कि दया प्रकाश सिन्हा को भारत सरकार द्वारा दिए गए पद्मश्री और साहित्य अकादमी पुरस्कार सहित सभी पुरस्कार वापस लिए जाएं।  लेखक पर राष्ट्र के सम्मान के साथ खिलवाड़ करने के आरोप में देशद्रोह का मुकदमा किया जाए। उनके द्वारा लिखित सम्राट अशोक से संबंधित पुस्तक पर प्रतिबंध लगाया जाए।
कहा गया कि महात्मा फूले समता परिषद, बिहार आज के कार्यक्रम के माध्यम से भारत के महामहिम राष्ट्रपति और सम्मानित प्रधानमंत्री से अपील करती है कि इस पर अविलंब कार्रवाई की जाए एवं केंद्र सरकार की तरफ से इस संदर्भ में तत्काल कार्रवाई नहीं किए जाने पर महात्मा फूले समता परिषद आगे भी इस सवाल पर अभियान चलाएगी
जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार पुतला दहन कार्यक्रम में जदयू प्रदेश उपाध्यक्ष सुभाष सिंह कुशवाहा, प्रदेश महा सचिव रामपुकार सिन्हा, जंगबहादुर कुशवाहा, लालबाबू सिंह, बबन कुशवाहा, संजय कुशवाहा, यादव लाल पासवान, शिवशंकर भगत, सुरेश कुमार मेहता, प्रमुख प्रसाद कुशवाहा, चमन कुशवाहा, अमित कुमार ठाकुर, नितेश कुमार, सत्यम कुमार लड्डू, अजय कुमार यादव, सुधीर कुमार कुशवाहा, मुन्ना यादव, नरेश कुमार यादव सहित अन्य लोग उपस्थित थे ।

अन्य ख़बरें

राष्ट्रीय माउंटेन साइक्लिंग प्रतियोगिता के विशेष शिविर में शामिल होने दो खिलाड़ी रवाना
मोहम्मद इरफान बने सपा के प्रखण्ड अध्यक्ष
"थैंक्यू कोरोना वॉरियर्स" का हो रहा समुदाय मे असर
नालंदा के नंद्यावर्त में दो दिवसीय कुंडलपुर महोत्सव सम्पन्न, सैंड आर्टिस्ट मधुरेंद्र कुमार हुए सम्मा...
चंपा से चंपारण के नायक करोड़पति सुशील कुमार
कांग्रेस का धरना प्रदर्शन आज... पूर्व केंद्रीय मंत्री सह राज्यसभा सदस्य डा.अखिलेश सिंह होंगे शामिल
पूर्व कृषि मंत्री ने सभी प्रशासनिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए 3 प्लाई मास्क एवं कार्यालयों के...
विश्व बाल श्रम निषेध दिवस पर लिया गया बालकों को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाने का संकल्प
शिक्षक राष्ट्र निर्माता है अतः उनका सम्मान जरूरी : निखिल
शिक्षा विभाग ने आयोजित की लोकनृत्य व नाटिका प्रतियोगिता
फिल्‍म ‘वंश’ के खलनायक पप्‍पू यादव ने की सीएम योगी और खेसारीलाल की तारीफ
जनता विधायक प्रमोद कुमार को नकार चुकी है यही कारण है कि उन्हें दुत्कार रही है: डॉक्टर दीपक कुमार कुश...
काली पट्टी लगाकर काम कर रहे हैं कार्यपालक सहायक। स्थायीकरण एवं वेतनमान है मुख्य मांगे
कवि सम्मेलन लाइव
"वेलेंटाइन डे " स्पेशल...। वैलेंटाइन डे की पार्टी पूरे शबाब पर थी और फिर...!!!
प्रणब मुखर्जी का निधन देश के लिए एक अपूरणीय क्षति: राधा मोहन सिंह
गोस्वामी समाज ने दिया, पूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय वी वी गिरी को श्रद्धांजलि
छठ का पहला अर्ध्य आज, प्रशासन पूरी तरह से तैयार, मोती झील में रेस्क्यू बोट के साथ SDRF की टीम तैनात
आजु मिथिला नगरिया निहाल सखिया... प्रिया मल्लिका का नया मैथिली गीत रिलीज
बारिश के कारण पटना पुलिस लाइन शस्त्रागार पर गिरा पेड़ कई जवान घायल बचाव कार्य अभी भी जारी

Leave a Reply