सपा-बसपा के बीच हुआ सीटों का बंटवारा, बिहार में सीटों का फैसला कब…???

राजनीति राष्ट्रीय लखनऊ
  • 10
    Shares

नकुल कुमार/NTCNM

लोकसभा चुनाव के पहले राजनीतिक परिदृश्य क्षण क्षण बदलती जा रहा है। और बदलाव की यह बयार उत्तर प्रदेश से शुरू हो चुकी है। जहां सपा और बसपा के बीच सीटों का बंटवारा हो चुका है।

लोकसभा के पहले  मायावती की बसपा पार्टी एवं मुलायम सिंह की सपा पार्टी के बीच सीटों का समझौता कुछ इस तरह से हुआ है कि जहां एक और बसपा को 38 सीटें मिली हैं तो वहीं दूसरी ओर सपा को 37 सीटों से संतोष करना पड़ा है।
समाजवादी पार्टी को कैराना,मुरादाबाद,रामपुर, सम्भल,गाजियाबाद,हाथरस(SC),फिरोजाबाद, मैनपुरी,एटा,बरेली,पीलीभीत,खीरी,हरदोई(SC) उन्नाव, लखनऊ, इटावा, कन्नौज, कानपुर, झांसी, बांदा, कौशांबी, फूलपुर, इलाहाबाद, बाराबंकी(SC) , फैजाबाद, बहराइच(SC), गोंडा, महाराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, आजमगढ़, बलिया, चंदौली, वाराणसी, मिर्जापुर और रॉबर्ट्सगंज(SC)।।

वहीं दूसरी और बहुजन समाजवादी पार्टी को सहारनपुर, बिजनौर, नगीना, अमरोहा, मेरठ, गौतमबुध नगर, बुलंदशहर, अलीगढ़, आगरा, फतेहपुर सिकरी, आंवला, शाहजहानपुर, धौरहरा, सीतापुर, मिश्रित(SC), मोहनलालगंज(SC), सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, फर्रुखाबाद, अकबरपुर, जालौन(SC), हमीरपुर, फतेहपुर, अंबेडकरनगर, कैसरगंज, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संतकबीर नगर, देवरिया, बांसगांव(SC), लालगंज(SC), घोसी, सलेमपुर, जौनपुर, मछलीशहर(SC),  गाजीपुर और भदोही।।  जहां एक और समाजवादी पार्टी को 37 सीटें  मिली है  तो वहीं बसपा उससे एक अधिक 38 सीटों पर  चुनाव लड़ रही है ।मालूम हो कि समाजवादी पार्टी एवं बहुजन समाजवादी पार्टी कभी एक दूसरे की कट्टर विरोधी पार्टियां थी लेकिन क्रिकेट की तरह राजनीति भी अनिश्चितता ओं का खेल है एवं अपने अपने राजनीतिक उद्देश्यों की पूर्ति के लिए दोनों पार्टियां एक ही है एवं दोनों का एक ही मकसद है और वह यह है कि भारतीय जनता पार्टी नीत गठबंधन को हराना। क्योंकि पिछली बार 2014 के चुनाव में मोदी लहर के साथ साथ सभी पार्टियां अलग-अलग लड़ी थी जिससे वोटों का बिखराव हो गया था। यही कारण है कि इस बार यह दोनों राजनीतिक पार्टियां समय से पहले ही गठबंधन करके भाजपा को हराने के लिए कमर कस ली है किंतु आने वाला वक्त ही बताएगा कि कौन किस पर भारी पड़ेगा।।

अन्य ख़बरें

फसल कटनी में शामिल हुए जिला पदाधिकारी, अग्निकांड से बचाव की दी जानकारी
राफेल मुद्दे पर कांग्रेस आर पार के मूड में, मोतिहारी कलेक्ट्रेट के सामने धरना 15 को
मतदाता जागरूकता के लिए मोतिहारी में आज शाम 6:00 बजे से कैंडल मार्च
वन नेशन, वन कार्ड योजना में तीन और राज्य शामिल किए गए
कथित नेता थके हारे मन से जनमानस को भड़काने में लगे हैं: मंत्री
मोदी सरकार देश की पहली ऐसी सरकार है जिसने महात्मा गांधी के सपनों को पूरा करके दिखाया है: मंत्री
सरदार बल्लभ भाई पटेल की 144वी जयंती पर Run for Unity में दौड़े शहरवासी
LND, SNS एवं MS College की NSS टीम ने संयुक्त रूप से की बापूधाम रेलवे स्टेशन की सफाई
NTC NEWS MEDIA वेबसाइट के निदेशक नकुल कुमार जी को बहुत बहुत बधाई
पुण्यतिथि पर याद किए गए भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष लक्ष्मण प्रसाद
दिल्ली मॉडल के साथ पूरे बिहार में चुनाव लड़ेगी आम आदमी पार्टी
शिक्षक दिवस के अवसर पर जरूरतमंदों के बीच खिचड़ी का हुआ वितरण
मंत्री ने दिया सामुदायिक किचन शुरू करने का आदेश कल से खिलाया जाएगा बाढ़ पीड़ितों को खाना
नहीं रहे वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैयर
अमेरिकी दादागिरी को दरकिनारा कर "आनाज के बदले तेल" शुरू करने का समय
कला संस्कृति मंत्री का अपने क्षेत्र एवं राज्य वासियों के नाम संदेश
अटल जी की श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह
गांधी जयंती के अगले दिन भी हुई प्रार्थना एवं सफाई
किसान विरोधी सरकार को पूर्वी चंपारण की जनता सिखायेगी सबक : आकाश कुमार सिंह
मोतिहारी नीतीश सम्मेलन के दौरान राज्य सभा सांसद सुशील मोदी ने गिनाई कृषि कानून की खूबियां

  • 10
    Shares

Leave a Reply