सत्याग्रह की आस ,आओ करें उपवास : मधु मंजरी

Featured Post पटना बिहार राजनीति

पटना। शिक्षा और सामाजिक सरोकार से जुड़ी शिवी फ़ाउण्डेशन ने राजधानी पटना के आम वासियों के साथ मिलकर सात सूत्री मांग के साथ आगामी 05 मई को सांकेतिक उपवास करने का निर्णय लिया है।

पटना के एक समाज सेवी संगठन की सचिव श्रीमती मघु मंजरी कहा कि जे.डब्ल्यू. हॉल्टन ने कहा था, ‘बिहार भारत का दिल है’ और पटना बिहार की
राजधानी है। शहर, जहां सपने पूरे किए जाते हैं। यही कारण है बिहार के लोग पटना शहर आते हैं लेकिन दुर्भाग्य से उनके सपने यहां पूरे नही हो पाते। जिसके कारण वह अपने सपने को पूरा करने के लिए भारत के अन्य शहरों की तरफ पलायन कर जाते हैं।

पटना ,बिहारवासियों का सपनों का शहर है लेकिन
दुर्भाग्य से पटना शहर लोगों का सपना पूरा करने में असमर्थ है। क्योंकि न तो यहां रोजगार है, न ही शिक्षा, स्वास्थ्य एवं उद्योग-धंधे ही हैं जिसके
कारण से पटना की आर्थिक क्षमता एवं सामाजिक गतिशीलता नगण्य है। जिसके चलते पटना लोगों की सपना पूरा करने में असमर्थ जैसा हो जाता है।

श्रीमती मंजरी ने कहा, पटना शहर घनत्व के आधार पर भारत के टॉप 15 शहरों में से एक है। पिछले 30 सालों में देखा जाए तो यहां सोशल
इंफ्रास्ट्रक्चर में कोई भी बदलाव देखने को नहीं मिलता है। पिछले तीन दशकों में कोई भी हॉस्पिटल, मेडिकल कॉलेज, स्कूल, महाविद्यालय, मैनेजमेंट या टेक्नोलॉजिकल इंस्टिट्यूट नहीं खुला।

जो किसी भी शहर की विकास क्षमता को दर्शाता है। जिसके चलते शहर में लोगों की आर्थिक उपार्जन नगण्य है साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों पर शहर का दबाव पड़ा और बिहार में कृषि के वैज्ञानिकीकरण के अभाव में कृषि भी अलाभकारी होने से किसान लोगों की, कृषि के तरफ से रुचि हटती जा रही हैं। जिसके परिणाम स्वरूप बिहार के शहर और गांव में रोजगार देने की क्षमता न होने के कारण लोग मुख्यत: अपने सपनों को पूरा करने हेतु बिहार से पलायन कर रहें हैं।

शिवी फ़ाउण्डेशन की सचिव ने बताया कि अब अविकसित बिहार के सबसे बड़ी समस्या लॉक डाउन खुलने के बाद नजर आएगी। जब बाहर से आये कामगार-मजदूर घर में ही रोजगार की मांग करेंगे, जो सरकार की बहुत बड़ी समस्या होगी। इस
समस्याओं से निदान प्राप्त हेतु सरकार को , नई योजना और नीतियों के अनुसार आगे आना होगा और लोगों की उम्मीद को पूरा करना होगा। दुःख की बात तो यह है कि बिहार में सबसे ज्यादा बेरोजगारी पहले से ही हैं। हम सत्याग्रह की आस, आओ करें उपवास के माध्यम से सरकार को वर्तमान परिस्थितियों से रूबरू कराना चाहते हैं और अपनी सात सूत्री मांग को लेकर हजारों की संख्या में पटनावासी सांकेतिक उपवास कर रहे हैं।

सत्याग्रह का स्थान अपना अपना घर होगा जिसका समय सुबह 9.30 -11.30 बजे
रखा गया है।

श्रीमती मघु मंजरी ने बताया कि हमारी सूत्री मांग:-
1.कोरोना वायरस का खतरा सबसे ज्यादा जनसंख्या घनत्व वाले क्षेत्र में होता है। पटना भारत के सबसे ज्यादा घनत्व वाला शहर है, इस कारण ऐसे क्षेत्रों को लगातार सैनिटाइज किया जाए और सोशल डिस्टेंनसिंग को मजबूती से पालन किया जाए।
2. पटना में छोटे कारोबारी जैसे ऑटोवाले रिक्शावाले, रेडीवाले ,ठेलेवाले और अन्य मजदूर व असहाय लोगों को प्रतिमाह आर्थिक सहायता हेतु 1000 रुपये तीन माह तक सरकार के द्वारा दी जाए। साथ ही सरकार अपने संसाधन से ,बाहर से
आये मज़दूरों को स्टाइपन देकर, जिस तरह का काम बाहर कर रहे थे उनका स्किल डेवलपमेंट, ख़ाली पड़े बाज़ार समिति में कोंरनटाईन कर किया जाय।
3. अगले 45 दिन में बिहार सरकार नीति बनाए और नीति को सार्वजनिक करें ताकि जो लोग वापिस बिहार आये है , उनके सपनों का साकार कर सके पटना शहर और उन्हें पलायन न करना पड़े।
4. पटना में 3 नए हॉस्पिटल और एक मेडिकल कॉलेज के साथ-साथ नए स्कूल, महाविद्यालय, मैनेजमेंट और टेक्नोलॉजिकल इंस्टिट्यूट सरकार के द्वारा खोले जाएं।
5. सरकारी दस्तावेजों में पटना में लगभग 1000 तालाब है। इन तालाबों को फिर से जीवित किया जाए ताकि जल- जमाव के साथ-साथ पानी के संकट का भी निपटारा हो सके।
6. राज्य सरकार ग्रेटर पटना बनाने के प्रोजेक्ट को जल्द से जल्द पूरा करने का प्रयास करें।
7. म्युनिसिपल कॉरपोरेशन और पंचायत को प्रशासनिक शिकंजे से मुक्ति मिले ताकि कामों में तेजी आ सकेे। इसके साथ-साथ सभी कॉरपोरेशन और पंचायत में कम्युनिटी रेडियो स्टेशन खोला जाए ताकि शिक्षा के साथ-साथ अन्य कार्यों में इसका उपयोग हो सके ।

श्रीमती मधु मंजरी ने बताया कि उपरोक्त व्यवस्था के तहत सरकार वर्तमान समस्याओं से निजात पा सकती है और साथ ही शहर की आर्थिक विकास होगी तो लोगों को रोजगार के साथ साथ सपना भी पूरा होगा।

अन्य ख़बरें

तेज प्रताप यादव लेंगे तलाक..... शादी के 6 महीने भी नहीं हुए
नरकटिया विधायक शमीम अहमद ने किया सरकारी भवन का उद्घाटन । बनकटवा प्रखंड अंतर्गत इनरवा फुलवार पंचायत म...
मंदार रत्न से सम्मानित हुए सीतामढ़ी के ट्री मैन सुजीत
पूर्व कृषि मंत्री ने अखबार के हॉकरों के लिए थ्री लेयर मास्क और डेटोल साबुन उपलब्ध कराया
"थैंक्यू कोरोना वॉरियर्स" का हो रहा समुदाय मे असर
विकास दिवस के रूप में मनाया गया मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जन्मदिन
स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में जिला प्रशासन एवं डीडी न्यूज़ के संयुक्त तत्वावधान में कार्यक्रम आयो...
एक ही फ़िल्म में मवाली लड़की और प्रिंसेस के किरदार में नज़र आएंगी आम्रपाली दुबे
डीबीटी वर्कशॉप फ़ॉर रिटेलर्स प्रोग्राम आयोजित
गांधीजी के असाधारण व्यक्तित्व व जीवन ने विश्व को अहिंसा, सत्यनिष्ठा, मानवता का मार्ग दिखाया: शैलेंद्...
वर्तमान एवं भावी पीढ़ियों के प्रेरणा स्रोत है नेताजी: प्रकाश अस्थाना
27 से 30 अक्टूबर तक भाजपा का सदस्यता अभियान, हर बूथ पर न्यूनतम 50 सदस्य बनाने का लक्ष्य
Jyoti Jha: A Story of Inspiration
रोटरी क्लब मोतिहारी द्वारा वरिष्ठ नागरिकों की नि:शुल्क चिकित्सा शिविर, मोतिहारी के प्रसिद्ध डॉक्टरों...
तिरहुत प्रमंडल आयुक्त ने की समीक्षा बैठक, दिए आवश्यक दिशा निर्देश
अर्थपूर्ण सिनेमा बनाना चाहते हैं अमित पॉल
उप विकास आयुक्त ने जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना।
मृतक परिवार से मिली कंचन गुप्ता, न्याय का दिलाया भरोसा
भोजपुरी फिल्म सनकी दरोगा.... 3 दिन का ओवर ऑल कलेक्शन
दिव्यांग बच्चों को मुख्यधारा में लाने के लिए प्रोत्साहन जरूरी :ट्रीमैन सुजीत

Leave a Reply