शिक्षक संघ द्वारा प्रतिरोध व्‍याख्‍यानों का दूसरा चरण 

बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल राजनीति शिक्षा

हम गाँधी में विश्‍वास करने वाले, उनकी अहिंसा और सत्‍याग्रही चेतना में विश्‍वास करने वाले लोग हैं:-

प्रतिरोध व्‍याख्‍यानों की उसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए आज दोपहर दूसरे चरण में भी शिक्षक संघ द्वारा चार व्‍याख्‍यानों का आयोजन किया गया जिनका विषय था – ‘लोकतंत्र और शिक्षा : चुनौतियाँ और संभावनाएँ।

आज के मुख्‍य वक्‍ता थे – राजनीतिशास्‍त्र के प्रसिद्ध विद्वान और देश के सबसे प्रतिष्ठित विश्‍वविद्यालय जवाहर लाल नेहरू विश्‍वविद्यालय के शिक्षक संघ के भूतपूर्व अध्‍यक्ष प्रो. एस.एन. मालाकार। दूसरे वक्‍ता थे – पूर्व पुलिस उपमहानिरीक्षक और वर्तमान में सर्वोच्‍च अदालत में अधिवक्‍ता के रूप में मानवाधिकारों के लिए कार्यरत श्री राकेश सिन्‍हा।

तीसरे वक्‍ता के रूप में भी एक बहुत ही लब्‍धप्रतिष्ठित विद्वान और दलित कार्यकर्ता ने कार्यक्रम में शिरकत की – दिल्‍ली विश्‍वविद्यालाय के शिक्षक प्रो. रतनलाल। वे एक इतिहासकार के रूप में तो जाने ही जाते हैं किंतु उससे ज्‍यादा हाशिये के तबकों की एक जुझारू आवाज़ के रूप में भी पहचाने जाते हैं। अन्य एक और महत्‍वपूर्ण वक्‍ता थे – हरिश्‍चंद्र चौधरी।                          प्रो. रतन लाल ने अपने व्‍याख्‍यान में सार्वजनिक शिक्षा संस्‍थानों की व्‍यवस्थित हत्‍या की साजिशों पर चिंता व्‍यक्‍त करते हुए शिक्षा के निजीकरण को दलित विरोधी बताया। उन्‍होंने विश्‍वविद्यालय कैम्‍पस सलेक्‍शन के पीछे की बाज़ारवादी ताकतों की जनविरोधी राजनीति पर प्रकाश डालते हुए आपने रेखांकित किया कि विश्‍वविद्यालय एम्‍प्‍लाइमेंट एक्‍सचेंज नहीं होता है।

प्रो. एस.एन.मालाकार ने अंगूठाकटवा द्रोणाचार्यों का सम्‍मान करने वालों की दलित विरोधी मनुवादी मानसिकता को आड़े हाथों लेते हुए भारतीय दर्शन की विभिन्‍न परंपराओं के संदर्भ में बताया कि कैसे हमारे यहाँ शास्‍त्रों के नाम पर शूद्रों और स्त्रियों को शिक्षा से वंचित रखने की साजिशें होती आई हैं। आपने कहा कि राष्‍ट्र के व्‍यवसाय और संपत्ति को बेचने वाले लोग राष्‍ट्र की वास्‍तविक समस्‍याओं से आम जन का ध्‍यान हटाने के लिए राष्‍ट्रवाद का झुनझुना हमें पकड़ाते रहते हैं। इन्‍होंने अपने व्‍याख्‍यान में शिक्षित युवाओं की बेरोजगारी पर गंभीर चिंता व्‍यक्‍त करते हुए राष्‍ट्रविरोधी पूंजीवादी ताकतों को चेतावनी दी कि बेरोजगार समाज की आरक्षी सेना होते हैं।


श्री राकेश सिन्‍हा ने अपने उद्बोधन में कहा कि हमारी समस्‍या यह है कि बिना पर्याप्‍त तैयारी के सामंती समाज से सीधे लोकतांत्रिक समाज में हमारा रूपांतरण कर दिया गया है। आपने अंबेडकर को उद्धृत करते हुए बताया कि बिना आर्थिक-सामाजिक बराबरी के हमें राजनीतिक समानता संविधान द्वारा प्रदान कर दी गई है। आपने कहा कि हम आज कॉरपोरेट द्वारा मैनेज्‍ड डेमोक्रेसी में रहने को मजबूर हैं। उन्होने बताया कि शिक्षा को कॉरपोरेट हाथों में नहीं सौंपना चाहिए क्‍योंकि कॉरपोरेट गुणवत्‍तापूर्ण शिक्षा को खत्‍म करने का लक्ष्‍य लेकर चलता है ताकि उसके लूटतंत्र पर पढ़-लिखकर व्‍यक्ति सवाल न करे।

श्री हरिश्‍चंद्र चौधरी ने आज की किताबी शिक्षा के बरक्‍स जिंदगी की शिक्षा पर बल दिया। आपने कहा कि विश्‍वविद्यालय को भी गाँधी की तरह जनता से जुड़ना होगा। आपने कहा कि गाँधी की तरह ही शिक्षकों को हिंसक ताकतों से निडर होकर सत्‍य की राह पर चलना चाहिए।
इन प्रतिरोध व्‍याख्‍यानों के माध्‍यम से हम हिंसक और भ्रष्‍ट कुलपति को संदेश देना चाहते हैं और गाँधी की कर्मभूमि चंपारण की इस धरती के वाशिंदों को भी बताना चाहते हैं कि हम गाँधी में विश्‍वास करने वाले, उनकी अहिंसा और सत्‍याग्रही चेतना में विश्‍वास करने वाले लोग हैं। इन व्‍याख्‍यानों में प्रवाहित होने वाले ज्ञानामृत के आस्‍वादन हेतु हम आप सब पत्रकारों को भी आमंत्रित करते हैं।

अन्य ख़बरें

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह का जन्मदिन वृक्षारोपण करके मनाया गया
डॉक्टर मदन प्रसाद साहु ने की मधुबन आगलगी से पीड़ित परिवार की सहायता
राजद अति पिछड़ा प्रकोष्ठ की हुई बैठक पंचायत से लेकर बूथ स्तर तक पार्टी को मजबूत करने का संकल्प
वट वृक्ष पूजनोत्सव के अवसर पर सभी लोग पौधा लगाएं : ट्री मैन सुजीत कुमार
जदयू कलमजीवी प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव नियुक्त हुए डॉ आर के गुप्ता
जिले के 2 पदाधिकारियों का हुआ ट्रांसफर, कर्मचारी एवं पदाधिकारियों ने की मंगलकामना
जन्म दिवस पर याद किए गए पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी, दिलाई गई सद्भावना शपथ
संगठन आत्मीय संबध के आधार पर विकसित होता है: नंद किशोर यादव
4 जनवरी को मोतिहारी के राजेंद्र नगर भवन के मैदान में बिहार नवयुवक सेना(BNS) करेगी बड़ी रैली...... हो...
बाढ़ पीड़ित परिवारों के खाते में जाएंगे साढ़े छ: हजार रुपए : सांसद
मोदी मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल एवं कैबिनेट विस्तार
बूथ स्तर के कोरोना वरियर्स को कला संस्कृति मंत्री के सौजन्य से मिलेगा मास्क एवं साबुन
नवयुवक पुस्तकालय मोतिहारी का जीर्णोद्धार सह चहारदीवारी निर्माण का हुआ भूमिपूजन
आज स्व. लक्ष्मी नारायण दुबे की प्रतिमा का होगा अनावरण, 1966ई. में हुई थी कॉलेज की स्थापना।
फसल कटनी में शामिल हुए जिला पदाधिकारी, अग्निकांड से बचाव की दी जानकारी
प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन, मोतिहारी नगर की बैठक संपन्न। 22 सितंबर के डायरेक्टर मीट की सफलता पर विचार व...
विधायक फैसल रहमान ने कुष्ठ रोगियों के बीच किया राशन का वितरण, ढाका रेफरल अस्पताल का किया निरीक्षण
भारतीय युवा कुशवाहा समाज के तत्वावधान में युवा कुशवाहा रोजगार संवाद का आयोजन
अंतराष्ट्रीय मास्टरशेफ सद्दाफ हुसैन ने अपने स्पेशल मेनू से बनाया फूड फेस्टिवल को खास
CAA कानून एवं प्रस्तावित एनपीआर और एन‌आरसी हमारे संविधान की मूल प्रस्तावना के विरुद्ध:अख्तरूल इमान

Leave a Reply