शहीद पिंटू कुमार सिंह की आदमकद प्रतिमा ड्यूक हॉस्टल मुजफ्फरपुर में लगाने के लिए एलमुनि एसोसिएशन ने की मांग, इस बाबत कॉलेज के प्राचार्य से आज होगी बात

गाँव-किसान बिहार मुजफ्फरपुर मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल
  • 160
    Shares

1 मार्च, 2019 को जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों से लोहा लेते हुए भारत के वीर सपूत CRPF के 92 बटालियन के इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह देश के लिए अपनी सर्वोच्च बलिदानी देते हुए शहीद हो गए। महाविद्यालय परिवार शहीद परिवार के साथ है और उनकी शहादत पर हमें गर्व है।

शहीद पिंटू कुमार सिंह बतौर रसायनशास्त्र विभाग के विद्यार्थी के रूप वर्ष 2002-2005 सत्र में लंगट सिंह महाविद्यालय परिवार के सदस्य थे तथा महाविद्यालय के ड्यूक छात्रावास में रहकर अपनी पढ़ाई पूरी की।

बेहद मृदुभाषी और साथियों के बीच अपने सहज, सरल स्वभाव के जरिये लोकप्रिय शहीद पिंटू NSS से भी जुड़े रहे है। देश सेवा की भावना से प्रेरित होकर CRPF से जुड़ने के बाद सुरक्षा से जुड़ी कई ऑपरेशन में उन्होंने भाग लिया।

अपने मिलनसार स्वभाव से सबको अपना मुरीद बनाने वाले शहीद पिंटू अभी हाल ही में सेना द्वारा कश्मीरी युवाओं के लिए किये जा रहे प्रयास “भारत दर्शन” के तहत कश्मीरी युवाओं के दल के साथ थे।

ऐसे वक़्त जबकि पूरा देश, विशेषकर महाविद्यालय परिवार इस दुःख की घड़ी में शहीद के परिवार के साथ है, आवश्यकता है कि उनकी शहादत को हम सदैव याद रखे ताकि वर्तमान एवं भावी पीढ़ी उनके इस बलिदान से देशहित जीने-मरने के लिए प्रेरणा मिल सकें।

इस हेतु शहीद पिंटू की अमर बलिदानी को महाविद्यालय परिवार याद करें और उनकी स्मृति सदैव युवा पीढ़ी को प्रेरित करती रहे, इसके लिए एलुमनी एसोसिएशन ने दो मांगें रखी है, और इसी निमित्त  6 march, 11am पूर्ववर्ती विद्यार्थियों का एक प्रतिनिधमंडल एसोसिएशन के सक्रीय सदस्य निशांत कुमार,अधिवक्ता सिविल कोर्ट मोतिहारी के नेतृत्व में इसके संदर्भ में प्राचार्य महोदय से भी मिलेगा ।  संगठन की मुख्य मांगे हैं कि…

? शहीद पिंटू कुमार सिंह की आदमकद प्रतिमा ड्यूक हॉस्टल के सामने स्थापित की जाए।

? रसायनशास्त्र विभाग से सटे मुख्य सड़क (बैडमिंटन हॉल से लेकर पानी टंकी तक) का नाम शहीद पिंटू कुमार सिंह पथ किया जाए।

इसके अतिरिक्त एसोसिएशन शहीद पिंटू सिंह के नामपर “शहीद पिंटू कुमार सिंह मेमोरियल अवार्ड” की शुरुआत की योजना भी बना रही है। संगठन के सदस्यों का कहना है कि हम सबका यही प्रयास है कि शहीद पिंटू की यादें महाविद्यालय के विद्यार्थियों को प्रेरित करता रहे।

समाज के साथ साथ सरकार से भी हमारी अपेक्षा है कि शहीद पिंटू सिंह के परिवार, विशेषकर उनकी पत्नी और 5 वर्ष की बेटी पिहू की की चिंता करें।

वहीं दूसरी और उद्योगपति एवं ब्रैवो फॉर्मा के सीएमडी राकेश पांडे ने ₹5 लाख रुपए बतौर आर्थिक सहायता सीआरपीएफ के शहीद जवान Pintu Kumar Singh के परिवार को देने की घोषणा की है।

अन्य ख़बरें

बिहारश्री रत्न से सम्मानित हुयी निखारिका कृष्णा अखौरी
पर्यटन मंत्री ने की बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग
NTC NEWS MEDIA ने की सच की तहकीकात...मोतिहारी की नई डीएम रानी कुमारी...?
पुण्यतिथि पर याद की गई आयरन लेडी, प्रजापति आश्रम मोतिहारी में हुआ कार्यक्रम
इनरव्हील क्लब ऑफ पटना ने ग्लोबल हैंडवाशिंग डे पर चलाया जागरूकता कार्यक्रम
नवंबर में होगा पहले चम्पारण शार्ट फिल्म फेस्टिवल का आयोजन
विद्यार्थी उज्जवल भविष्य निर्माण शिविर का होगा आयोजन
सशक्त लोकतंत्र के लिए यह आवश्यक है कि प्रतेयक मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करे: अखिलेश कुमार सिंह, ...
ब्रावो फार्मा की नई पहल... बिहारी युवाओं के रोजगार एवं शिक्षा के क्षेत्र में बिहार एवं महाराष्ट्र सर...
राजधानी पटना में खुला  मंगलम फुड पार्क, अब लजीज व्यंजनों का लुफ्त उठाइए
सपने ले लो........सपने। यहां सपनों के भी खरीददार मिल जाएंगे।
मेरे गुरु मेरे मार्गदर्शक: रजत पाठक की कलम से
विश्व गांधी शांति सम्मेलन के आयोजन हेतु गाँधीवादी नारायण मुनि की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न।
फिल्म फ़र्ज का फर्स्ट लुक जारी, सोशल मीडिया में की जा रही है चर्चा
मिस्टर एंड मिस मगध सीजन 02 का ऑडिशन 29 सितंबर को बिहारशरीफ में।
राफेल मुद्दे पर कांग्रेस आर पार के मूड में, मोतिहारी कलेक्ट्रेट के सामने धरना 15 को
सैंड आर्टिस्ट ने बालू पर भगवान बुद्ध की प्रतिमा उकेरकर कर दिया शांति का संदेश
मतदाता जागरूकता के लिए कृषि विभाग ने निकाली मतदाता जागरूकता बाइक रैली
संघर्ष, चुनौती और कामयाबी का दूसरा नाम है काजल यादव, सामाजिक क्षेत्र में है खास पहचान।
मिस्टर मिस और मिसेज 2019 का ऑडिशन पटना में 30 अगस्त को

  • 160
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *