वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लिखी प्रधानमंत्री को चिट्ठी, स्वास्थ्य कारणों से नहीं लेंगे कोई बड़ी जिम्मेदारी

Featured Post slide राजनीति राष्ट्रीय
  • 28
    Shares

नई सरकार के शपथ ग्रहण की 18 घंटे पहले अरुण जेटली ने चिट्ठी लिखकर प्रधानमंत्री से नई सरकार में किसी भी तरह की बड़ी जिम्मेदारी लेने से इनकार किया है। इसके लिए उन्होंने अपने स्वास्थ्य का हवाला दिया है।

प्रचंड बहुमत से जीत कर आई हुई मोदी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल के लिए तैयार है 30 मई को शपथ ग्रहण के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री बनेंगे इसके साथ ही विभिन्न सांसदों को मंत्री मंडल देने की चर्चा काफी तेजी से जंगल में लगी आग की तरह वायरल हो रही है और इन सब के बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एक चिट्ठी के माध्यम से स्वयं को इस मंत्रिमंडल अथवा सरकार में किसी बड़ी जिम्मेवारी से स्वयं को किनारे कर लिया है।अपने लिखी चिट्ठी में उन्होंने अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए कहा हैै कि मैंने काफी दिनों तक संगठन एवं सरकार में सेवा दी किंतु पिछले 8 महीना से मुझे काफी सीरियस स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें हो गई है और मेरे डॉक्टरों ने मुझे इन सभी चीजों से दूूूर रहने की सलाह दी है।

इसके साथ ही उन्होंने अपने चिट्ठी के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना करते हुए कहा है कि आपके नेतृत्व में भारत एक नए आयाम की ओर तेजी से आगे बढ़ रहा है।

जेटली ने लिखा कि आपके नेतृत्व में पिछली सरकार में 5 साल काम करना मेरे लिए सौभाग्य की बात है और इससे मुझे काफी अनुभव भी मिला है। इससे पहले भी पार्टी ने मुझे पहली एनडीए सरकार में पार्टी संगठन में भी और विपक्ष में भी मुझे जिम्मेदारी दी गई। मैं इससे अधिक कभी कुछ नहीं चाहा।

मालूम हो कि पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय एवं राधा मोहन सिंह को रेल मंत्रालय दिए जाने की खबर वायरल हो रही है किंतु यह कहना काफी जल्दी बाजी होगी की अरुण जेटली इन चीजों से प्रभावित होकर प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखे हैं अथवा कोई और कारण रहे होंगे।

लेकिन फिलहाल अरुण जेटली ने स्वयं इस चीज का जिक्र किया है कि स्वास्थ्य संबंधी कारणों से वे किसी भी तरह की बड़ी जवाबदेही नहीं लेना चाहते हैं जैसा कि उन्होंने बताया कि पिछले 8 महीने से वह अस्वस्थ चल रहे हैं और यही कारण है कि बड़ी जवाबदेही से दूर रहकर स्वास्थ्य संबंधी लाभ लेना चाहते हैं।

Advertisements

अन्य ख़बरें

बी फॉर नेशन ने कोरोना वायरस को लेकर चलाया जागरूकता अभियान
कार्यपालिका की संसद के प्रति जवाबदेही विषय पर तीन दिवसीय कार्यक्रम का हुआ आयोजन
कोरोना संकट झेल रहे सीतामढ़ी को बाढ़ आपदा से बचाव को लेकर डीएम-एसपी ने तटबंधों का किया निरीक्षण
डॉ अखिलेश सिंह,राज्यसभा सदस्य
दिनेश तिवारी की फिल्‍म ‘परिवार के बाबू’ में गेस्‍ट एपीयरेंस में नजर आयेंगी भोजपुरी क्‍वीन रानी चटर्ज...
श्री साईं बाबा ट्रस्ट द्वारा हुआ छठ घाट का निर्माण, उद्योगपति राकेश पांडे ने की प्रशंसा।
आलोचक-कवि डा० खगेन्द्र ठाकुर की स्मृति सभा में शिक्षाविदों ने रखे अपने विचार
बारिश के कारण पटना पुलिस लाइन शस्त्रागार पर गिरा पेड़ कई जवान घायल बचाव कार्य अभी भी जारी
कोरोना योद्धाओं पर पत्थर नहीं फुल बरसाना चाहिए: डॉ. वीरेंद्र कुमार नारायण
पश्चिमी चंपारण के सांसद संजय जयसवाल पहुंचे जनता के बीच
स्वयंसेवी संस्था प्रभा फाउंडेशन ने पुलिस वालों के बीच किया फलों का वितरण
सपा-बसपा के बीच हुआ सीटों का बंटवारा, बिहार में सीटों का फैसला कब...???
आत्मनिर्भर भारत अभियान आधुनिक भारत की पहचान बन रहा है: प्रकाश अस्थाना
भूमिहार ब्राह्मण एकता मंच किसानों, आशा कार्यकर्ताओं के मुद्दे को लेकर दिसंबर में करेंगी महारैली।
मोहम्मद तमन्ना बने जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव, मोतिहारी वासियों ने दी बधाई।
नवम्बर के दूसरे सप्ताह में रिलीज होगी "प्रेमी ऑटो वाला"
आसाराम बापू की शिष्या शिल्पी को मिली जमानत
कांग्रेस की जबरदस्त जीत, रितेश नाथ तिवारी ने केक काटकर मनाया जीत का जश्न
लखौरा-मोतिहारी मुख्य पथ पर पुल ना बनने के लिए सरकार एवं जनप्रतिनिधि जिम्मेदार: डॉ दीपक कुमार
इनरव्हील क्लब ऑफ़ पटना ने लगाया ब्लड डोनेशन कैंप

  • 28
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *