रेमॉन मैग्सेसे पुरस्कार से सम्मानित हुये चम्पारण के लाल रवीश कुमार, सैंड आर्टिस्ट ने अनोखे अंदाज में दी बधाई

Featured Post slide खोज गाँव-किसान छौडादानौ बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल रमगढ़वा राष्ट्रीय स्पेशल न्यूज़
  • 94
    Shares

रामगढ़वा, पूर्वी चंपारण : एशिया का नोबेल पुरस्कार कहे जाने वाले रमन मैग्सेसे पुरस्कार चम्पारण में आना यह देश के लिए गौरव की बात हैं।

हिंदी पत्रकारिता में अपनी अलग पहचान बनाने वाले बिहार के पूर्वी चंपारण जिले के गोविंदगंज प्रखंड निवासी देश के प्रख्यात पत्रकार रवीश कुमार को 9 सितंबर 2019 सोमवार की देर संध्या फिलीपीन्स की राजधानी मनीला में पत्रकारिता को गौरवान्वित करने के लिए रेमॉन मैगसेसे सम्मान प्रदान किया गया।

रवीश कुमार को “रेमाॅन मैग्सेसे अवॉर्ड” मिलने पर मशहुर सैंड आर्टिस्ट मधुरेंद्र ने भी अपनी रेत कला के माध्यम से मंगलवार को रामगढ़वा में थाना चौक स्थित एक बालू दुकान पर रखें बालू के ढ़ेर पर वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार की विशाल आकृति बनाकर अपनी खुशी का इजहार किया। जिसे देखने के लिए भारी संख्या में भीड़ उमड़ पड़ी।

युवाओं ने भी अपनी कैमरा में फ़ोटो व सेलफोन में सेल्फी लेते नजर आएं। खुशी की बात ये थी कि पहले ऐसे कलाकार की कलाकृतियों को लोग अखबारों व टीवी चैनलों पर देखते थे। लेकिन मधुरेन्द्र द्वारा कलाकारी देखते लोगों में खुशी का ठिकाना न रहा।

सैंड आर्टिस्ट मधुरेन्द्र ने बताया कि उनको सम्मान देने वालों ने माना है कि रवीश कुमार उन लोगों की आवाज़ बनते हैं जिनकी आवाज़ कोई और नहीं सुनता। बारह साल बाद किसी भारतीय पत्रकार को यह पुरस्कार मिला है। रवीश कुमार से पहले 2007 में पी साईनाथ को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्यों के लिये मैग्सेसे पुरस्कार मिला था।

बता दें कि पत्रकार रवीश कुमार को हिंदी पत्रकारिता में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिये इस प्रतिष्ठित पुरस्कार से नवाजा गया हैं। सरकारी नौकरियों और इम्तिहानों के बहुत मामूली समझे जाने वाले मुद्दों को, शिक्षा और विश्वविद्यालयों के उपेक्षित परिसरों को उन्होंने प्राइम टाइम में लिया और लाखों-लाख छात्रों और नौजवानों की नई उम्मीद बन बैठे।

गौरतलब है कि इस वर्ष 2019 में मैग्सेसे पुरस्कार प्राप्त करने वाले पांच लोगों में भारतीय पत्रकार रवीश कुमार का भी नाम शामिल है। वे ऐसे छठे पत्रकार हैं जिनको यह पुरस्कार मिला है। इससे पहले अमिताभ चौधरी (1961), बीजी वर्गीज (1975), अरुण शौरी (1982), आरके लक्ष्मण (1984), पी. साईंनाथ (2007) को यह पुरस्कार मिल चुका है।Editor: Nakul Kumar

रवीश कुमार के अलावा म्यांमार के को.सी. विन, थाइलैंड की अंगहाना नीलपाइजित, फिलिपींस के रमेंड और दक्षिण कोरिया के किम जोंग की को भी मैग्सेसे अवॉर्ड से सम्मानित किया गया हैं।

मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी राकेश कुमार सिंह, अंचलाधिकारी उमेश कुमार, थानाध्यक्ष संजय कुमार पाठक, मोतिहारी पत्रकार प्रेस परिषद के जिलाध्यक्ष डी.एन. कुशवाहा, ई. अरुण कुमार पंडित, हिमांशु कुमार हिमकर, रेशमा देवी कन्या प्लस टू विद्यालय के सेवानिवृत्त प्राचार्य प्रेम चंद्र सिंह, प्रो. उदयभान तिवारी, दिनेश कुमार, सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक द्वारिका प्रसाद, मुखिया मनजीत सिंह उर्फ मुन्ना सिंह, मुखिया चंद्रिका प्रसाद, संगीतज्ञ संजय दास, कौशल विकास केंद्र के निदेशक विभाष कुमार ओझा तथा ओम नाथ गुप्ता सहित भारी संख्या में लोगों ने भी ऐसे निर्भीक और निष्पक्ष पत्रकारिता के लिए रविश कुमार को बधाई देते मधुरेन्द्र की कलाकृति की भूरि-भूरि प्रशंसा की।

Advertisements

अन्य ख़बरें

पार्श्वगायन के क्षेत्र में खास पहचान बना चुके हैं अमर आनंद
ABVP ने की पुलवामा अटैक में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित
पंचायत समिति को पितृशोक
भाजपा ने बुलाई मोतिहारी विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की धन्यवाद बैठक, यहां से मिली थी 56985 की ल...
बिहार सरकार के पर्यटन मंत्री  प्रमोद कुमार पहुंचे पलवैयाधाम महनार ।
धरती के भगवान को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाने के लिए स्थानीय सांसद ने मास्क एवं साबुन कराया उपलब्ध
सुपरस्टार अरविंद अकेला कल्लू की फिल्म 'छलिया' का रिलीज से पहले होगा मुंबई में प्रीमियर
बिहार में 23 अफसरों के तबादले की पूरी लिस्ट यहाँ हैं ???
लॉक डाउन की सख्ती से अनुपालन हेतु जिलाधिकारी ने किया नगर भ्रमण
किसी भी गुरु को पीटना हमारी ओछी मानसिकता का प्रतीक:: अमित चौबे
इंडियाज बेस्टीज अवार्ड से अंलकृत हुई निखारिका कृष्णा अखौरी
सुगौली के गन्ना किसानों की भुगतान समस्या को लेकर अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार काउंसिल ने चीनीमील मैनेजर ...
कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए आगे आया राधा कृष्ण सेवा संस्थान ट्रस्ट, अब तक 6000 लीटर हर्बल सै...
लोक आस्था के महापर्व के अवसर गरीब महिलाओं में वस्त्र एवं आवश्यक समान वितरित
सभी सुविधाओं से परिपूर्ण साल्ट एक्सप्रेस का अशोक राजपथ में हुआ शुभारंभ
A guest lecture Organised by MGCUB on international day for elimination of violence
पंडित दीनदयाल उपाध्याय जिस विकसित और मानववादी भारत का सपना देखा था वह फलीभूत हो रहा हैः पूर्व मंत्री
ननकाना साहब पर हमले के विरोध में इमरान खान का पुतला दहन
एनीमिया बचाव को लेकर महिला जनप्रतिनिधि द्वारा माता बैठक सम्पन्न।।
आतंकवाद एवं बातचीत दोनों साथ साथ नहीं हो सकते पाकिस्तान मसूद अजहर को भारत को सौंपें।

  • 94
    Shares

Leave a Reply