राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर महिला वार्ड सदस्यों के द्वारा गर्भावस्था के दौरान पोषण के महत्व पर परिचर्चा का हुआ आयोजन

Featured Post slide बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल राजनीति

छौडादानौ। आज राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर सेंटर फॉर कैटेलाईजिंग चेंज, द्वारा चैंपियन परियोजना के अंतर्गत पूर्वी चंपारण जिला के मोतिहारी एवं छौरादनो प्रखंड की महिला वार्ड सदस्यों के द्वारा अपने अपने वार्ड में विशेष वार्ड सभा का आयोजन कर उन्हें गर्भवस्था के दौरान संतुलित पोषण की आवश्यकता विषय पर विस्तृत रूप से जानकारी दिया गया ।
महिला वार्ड सदस्यों ने अपने अपने समुदाय में बताया की हर महिला कि यह इच्छा होती है कि वह एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दे। इस इच्छा को पूर्ण करने के लिए गर्भावस्था मे पौष्टिक आहार का सेवन पर्याप्त मात्रा मे करना बेहद जरुरी है। गर्भस्थ शिशु का विकास माता के आहार पर निर्भर होता है। गर्भवती महिला को ऐसा आहार करना चाहिए जो उसके गर्भस्थ शिशु के पोषण कि आवश्यकताओं को पूरा कर सके।
सभा के दौरान वार्ड सदस्य सुधा देवी और सेविका बेबी कुमारी पंचायत बासबनपुर ने बताया की अपने खान पान संबंधी जरूरतों को तिरंगा झंडा से जोड़ कर याद रखा जा सकता है, जिस तरह भारत के राष्ट्रीय तिरंगा झंडा में तीन रंग होते हैं उसी तरह हमारे भोजन में इन तीन रंगों से मिलते जुलते शाग, सब्जियों एवं अन्य खाद्य पदार्थों की बहुत ही अहमियत होती है।
इस दौरान यह बताया गया की गर्भवती महिला के गर्भाशय, स्तनों तथा गर्भ के विकास और वृद्धि के लिये प्रोटीन एक महत्वपूर्ण तत्व है। शरीर में प्रोटीन प्राप्त करने के लिए दूध और दुध से बने व्यंजन, मूंगफली, पनीर, चिज़, काजू, बदाम, दलहन, मांस, मछली, अंडे आदि का सेवन किया जाना चाहिए।
वहीं दूसरी ओरवा र्ड सदस्य सकुंतला देवी और सेविका रविता कुमारी पंचायत बड़ा बरियारपुर ने फोलिक एसिड के बारे में बताया की पहली तिमाही वाली महिलाओं को प्रतिदिन 4 एमजी फोलिक एसिड लेने की आवश्यकता होती है। दूसरी और तीसरी तिमाही मे 6 एमजी फोलिक एसिड लेने की आवश्यकता होती है। पर्याप्त मात्रा में फोलिक एसिड लेने से जन्मदोष और गर्भपात होने का खतरा कम हो जाता है। इस तत्व के सेवन से उलटी पर रोक लग जाती है। आपको फोलिक एसिड का सेवन तब से कर लेना चाहिए जब से आपने माँ बनने का मन बना लिया हो। फोलिक एसिड युक्त आहार मे दाल, राजमा, पालक, मटर, मक्का, हरी सरसो, भिंड़ी, सोयाबीन, काबुली चना, स्ट्रॉबेरी, केला, अनानस, संतरा, दलीया, साबुत अनाज का आटा, आटे कि ब्रेड आदि का समावेश होता है।
वार्ड सदस्य सीता देवी पंचायत झिटकहिया ने पानी के महत्व पर भी चर्चा की एवं बताया की गर्भवती महिला हो या कोई भी व्यक्ति, पानी हमारे शरीर के लिये बहुत महत्वपूर्ण है। गर्भवती महिलाओं को अपने शरीर कि बढ़ती हुईं आवश्यकताओं को पूरा करने के लिये प्रतिदिन कम से कम 3 लीटर (10 से 12 ग्लास) पानी जरुर पीना चाहिए।
वार्ड सदस्य कांति देवी पंचायत पुरैनिया ने विटामिन की आवश्यकता पर बताया की गर्भावस्था के दौरान विटामिन की जरुरत बढ़ जाती है। आहार ऐसा लेना चाहिए जिस से सरा विटामिन मिल सके, इसके लिए हरी सब्जियां, दलहन, दूध आदि खाने में ले सकती है।
महिला वार्ड सदस्यों द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम का उद्देश्य इस महत्वपूर्ण विषय पर लोगों की समझदारी विकसित करना ताकि सभी गर्भवती माताओं को संतुलित पोषण की प्राप्ति हो सके एवं सुरक्षित, पोषित एवम सुदृढ़ बच्चे के आने का मार्ग प्रशस्त हो सके।
चैंपियन परियोजना में शामिल वार्ड सदस्यों को यह आशा है की वे इन सामुदायिक गतिविधियों एवं परिचर्चाओं के माध्यम से गर्भवती महिलाओं के पोषण संबंधी आवश्यकताओं एवं जरूरतों पर समुदाय, परिवार एवं महिलाओं को जागरूक कर संतुलित भोजन ग्रहण करने के लिए प्रेरित कर पायेंगे एवं गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य एवं आने वाले बच्चों में कुपोषण की समस्या को हमेशा के लिए मिटा पायेंगे।

अन्य ख़बरें

अंबेडकर शिक्षण एवं चैरिटेबल ट्रस्ट (छौड़ादानौ) की बैठक सम्पन्न। सर्वसम्मति से पंचायत अध्यक्षों की हु...
17 फरवरी को टाउन हॉल मोतिहारी में प्रस्तावित तेली अधिकार रैली के लिए प्रचार-प्रसार शुरू....
जब तक सूरज चांद रहेगा, अटल बिहारी आपका नाम रहेगा
SVEEP एक्टिविटीज के तहत जिला प्रशासन पूर्वी चंपारण द्वारा क्विज एवं भाषण प्रतियोगिता आयोजित
विभिन्न समस्याओं को लेकर छात्र प्रतिनिधिमंडल ने की प्राचार्य से मुलाकात,निराकरण के लिए मिला आश्वासन
होली पर्व को लेकर विधि व्यवस्था के निमित्त गठित डिस्टिक कंट्रोल रूम का जिलाधिकारी रमण कुमार ने किया ...
मिशन साहसी के तहत होगा प्रशिक्षण, छात्राओं को सिखाए जाएंगे आत्मरक्षा के तरीके,
जिला प्रशासन द्वारा आयोजित ऑनलाइन "सेल्फी विद नेचर" कार्यक्रम में केसर राज को तीसरा स्थान
मेगा ऑडिशन के साथ हुआ डिज़ाइनर नेक्स्ट इंडिया शो का आगाज़
धारा 370 और 35 A के संबंध में जन जागरण एवं सदस्यता प्रमाण के लिए कई समितियां गठित
आज से काला बिल्ला लगाकर काम करेंगी आंगनबाड़ी बहने
"स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप 2.0 स्वच्छता के 50 घंटे" कार्यक्रम के अन्तर्गत एम एस कॉलेज, मोतिहारी का छ...
ट्विटर ब्वॉय अकूत संपत्ति अर्जित करने का टेक्निक बिहार के युवाओं को बताएं:मंगल पांडे
बॉलीवुड पॉप-रॉक सिंगर कैलाश खेर ने गाया एक्‍टर रूपेश आर बाबू की भोजपुरी फिल्‍म के लिए गाना
आज यूथ कांग्रेस करेगी मुख्यमंत्री आवास का घेराव बिट्टू यादव के नेतृत्व में चंपारण से यूथ ब्रिगेड रवा...
अब भोजपुरी में बनेगी फ़िल्म "टारगेट"
गुजरात में हो रहे बिहारियों पर हमले के खिलाफ महागठबंधन ने किया पुतला दहन
नव नियुक्त ANM का लॉटरी सिस्टम के माध्यम से पदस्थापन किया गया
युवा शक्ति की बैठक संपन्न, जिला कमेटी का हुआ गठन।
लॉक डाउन में काला बाजारियों पर रहेगी कड़ी नजर: प्रियरंजन राजू

1 thought on “राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर महिला वार्ड सदस्यों के द्वारा गर्भावस्था के दौरान पोषण के महत्व पर परिचर्चा का हुआ आयोजन

Leave a Reply