रांची में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री 30 हजार योग कर्मियों के साथ करेंगे योग

Featured Post slide राष्ट्रीय स्वास्थ्य

प्रधानमंत्री पांचवें अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस के अवसर पर रांची में आयोजित मुख्‍य कार्यक्रम में 30 हजार उत्‍साही योगकर्मियों की अगुवायी करेंगे।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 21 जून 2019 को अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस के अवसर पर रांची के प्रभात तारा मैदान में आयोजित मुख्‍य कार्यक्रम की अगुवाई करेंगे। इस कार्यक्रम में करीब 30 हजार लोगों के हिस्‍सा लेने की संभावना है। मुख्‍य कार्यक्रम का पूर्वावलोकन 13 जून को रांची में होगा जिसमें योग संगठनों और योग गुरुओं के साथ ही राज्‍य के कई अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे।

आयुष मंत्रालय देशभर में अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस का आयोजन करने वाली शीर्ष संस्‍था है।  मंत्रालय पिछले चार वर्षों में अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सफलतापूर्वक कई कार्यक्रम आयोजित कर चुका है। इस साल भी अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस के अवसर पर मंत्रालय की ओर से कई छोटे बड़े आयोजन की तैयारी की गई है।मंत्रालय ने सार्वजनिक स्वास्थ्य और जन कल्याण के क्षेत्र में राष्‍ट्रीय स्‍तर पर दीर्घकालिक लाभ प्राप्त करने की केन्‍द्र सरकार की प्राथमिकताओं के अनुरूप  केन्‍द्र सरकार के संबंधित मंत्रालयों  और विभागों , राज्य सरकारों और अन्य संबंधित संस्थानों से अनुरोध किया है कि वे 21 जून 2019 को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस  के आयोजन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर समन्वित तरीके से काम करें। समग्र स्वास्थ्य और आरोग्‍य कें संबंध में योग के प्रमाणित लाभों को ध्यान में रखते हुए, अधिकांश मंत्रालयों और विभागों, राज्य सरकारों और अन्य संस्थानों ने अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस में व्‍यापक जनभागीदारी सुनिश्चित करने के लिए अभी से कई गतिविधियां शुरु कर दी हैं।सीआईआई, फिक्की और आईसीएस जैसे उद्योग संगठनों के अलावा सीबीएसई, एनसीईआरटी, यूजीसी और डीएवी आदि जैसे शैक्षिक निकाय भी अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस की तैयारी के तहत विभिन्न कार्यक्रमों की शुरुआत कर चुके हैं। इसके अलावा, मंत्रालय  शैक्षणिक संस्थानों , सरकारी निकायों , व्यावसायिक संस्‍थानों, उद्योगों  और सांस्कृतिक संगठनों को भी अपने कर्मचारियों और सदस्‍यों के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ के लिए उन्‍हें अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस में शामिल होनें के लिए प्रोत्‍साहित कर रहा है।अंतराराष्‍ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आय़ुष मंत्रालय इस बात पर जोर दे रहा हा कि इस दिन बड़ी संख्या में लोग विभिन्न स्थानों पर बड़ी संख्या में सामूहिक रूप से योग कार्यक्रम में भाग लें। ऐसे आयोजन सौहार्दपूर्ण वातावरण में हों यह सुनिश्चित करने के लिए देश के कुछ नामी-गिरामी योग गुरूओं ने एक साथ मिलकर योग आसनों का एक सामान्य निर्दिष्ट अनुक्रम (कॉमन योग प्रोटोकॉल) विकसित किया है। यह 45 मिनट की अवधि के योगासनों का कार्यक्रम है जो विभिन्न आयु वर्ग के लोगों के तन और मन दोनों को स्वस्थ बनाता है। कॉमन योग प्रोटोकॉल की सीडी और ई-बुक आयुष मंत्रालय की वेबसाइट से डाउनलोड की जा सकती है। मंत्रालय विभिन्न सहयोगी संगठनों के माध्यम से भी इन्हें वितरित कर रहा है।

यहां पढ़िए अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को लेकर आयुष मंत्रालय की क्या-क्या तैयारियां कर रहा है…?

अन्य ख़बरें

Big News coming from Britain by DK Dube
प्रोफेशर संजय यादव के हमलावरों को गिरफ्तार किया जाए: छात्र राजद
प्रदीप पांडे चिंटू की फिल्‍म ‘नायक’ बॉक्‍स ऑफिस पर 6 सितंबर को होगी रिलीज
मॉब लिंचिंग के शिकार हुए 'आप' नालंदा जिलाध्यक्ष, धर्मेद्र
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन के पटना पहुंचने पर जन अधिकार छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने द...
खेल के मैदान में खिलाड़ियों के बीच भाजपा क्रीड़ा प्रकोष्ठ ने मनाया प्रधानमंत्री मोदी का जन्मदिन
कला संस्कृति मंत्री ने किया क्वॉरेंटाइन सेंटर का निरीक्षण पदाधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश
सहायक अवर निरीक्षक प्रकाश सिंह को मिली पदोन्नति,पुलिस अवर निरीक्षक बनाए गए। पकड़ीदयाल डीएसपी ने अपन...
वज्रपात (ठनका/आकाशीय बिजली) पर आधारित जागरूकता कार्यक्रम संपन्न
MGCU के प्रोफेसर संजय कुमार के पक्ष में 25 अगस्त को प्रतिरोध मार्च एवं प्रतिरोध सभा।
रालोसपा उम्मीदवार डॉ दीपक कुमार कुशवाहा ने 19 मोतिहारी विधानसभा क्षेत्र से भरा नामांकन
मजदूर नेता की गिरफ्तारी से आक्रोशित मजदूरो ने किया थाने का घेराव
प्रदेश अध्यक्ष के अभिनंदन कार्यक्रम को सफल बनाने को लेकर बैठकों का दौर जारी....
हरियाणवी सेंशेसन सपना चौधरी की मुरीद हुईं बॉलीवुड एक्‍ट्रेस संभावना सेठ, कहा - दिल से थैंक्‍स
जिले के 2 पदाधिकारियों का हुआ ट्रांसफर, कर्मचारी एवं पदाधिकारियों ने की मंगलकामना
16 से 31 मार्च तक पोषण पखवाड़ा, प्रभारी डीएम ने पोषण संदेश वाहन को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना
पूर्व कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने राम मंदिर निर्माण के लिए दिया 5 लाख का चेक
सर्वाइकल के मरीज कम से कम एंटीबायोटिक दवा का करें प्रयोग: डाॅ. रविभुषण शर्मा (एशिया फेम के प्रसिद्ध ...
अगर बाबा साहब नहीं होते तो भारत का संविधान,भारत का सम्मान और भारत का गुणगान नहीं होता: मंत्री
अखिल भारतवर्षीय चंद्रवंशी क्षत्रिय महासभा के प्रदेश महामंत्री बनें राजेश राज

Leave a Reply