युवाओं को छठ के प्रति जागरूक करने के लिए प्रदर्शित हुई: छठी मैया टहके सेनुरा हमार

Featured Post पटना बिहार मनोरंजन

पटना : अलगोल फिल्म्स के बैनर तले बनी भोजपुरी वीडियो एल्बम “छठी मैया टहके सेनुरा हमार ” 25 अक्टूबर को पूरे भारतवर्ष में रिलीज की गई ।

इस एल्बम की शूटिंग गुजरात के सूरत शहर के वरसाना के फार्म हाउस के खूबसूरत लोकेशन्स पर की गई है ।

इस एल्बम को भोजपुरी एवं हिंदी फिल्मों के जाने – माने संगीत निर्देशक अजय जयसवाल ने अपने मधुर संगीत से सजाया है ।

जबकि इंडियन आइडल फेम गायिका दीपाली सहाय व बॉलीवुड के पार्श्वगायक ऐश्वर्या निगम रंजन ने पहली बार इस एल्बम में छठ गीत गाकर इंडस्ट्री में अपनी एक अलग पहचान बनाने जा रहे है ।

इस छठ गीत को अपने खूबसूरत शब्दों से पिरोया है गीतकार डॉ. सागर ने । वहीं इस एल्बम को निर्देशित किया है स्वपनिल जयसवाल ने व इसका निर्माण किया है पीयूष जयसवाल ने।

एल्बम के संगीत निर्देशक अजय ने कहा कि इस एल्बम के निर्माण का उद्देश्य आज के युवा पीढ़ी को छठ जैसे महापर्व के प्रति जागरूक करना है। अभी तक हमारे घर के बुजुर्ग ही छठ करते आये हैं लेकिन जानकारी के आभाव के चलते युवा पीढ़ी इसे किस दिशा लेकर जाएगी ये नहीं पता ।

यह पर्व बहुत ही नियम और शुद्धता से किया जाता है इसीलिए आज के समय में हमें अपने घर के बहु – बेटी को इस महापर्व से अवगत कराना चाहिए, ताकि वो इसके महत्व को समझ कर अपने जनरेशन के लोगों को बता सकें।

उन्होंने कहा कि यह पारंपरिक गीत पूरी तरह से नए रूप में लाया जा रहा है । वहीं गायक ऐश्वर्या निगम ने कहा कि इस एल्बम के माध्यम से मैंने पहली बार छठ गीत को गया है जिसे लेकर मैं काफी उत्साहित हूं। ऐश्वर्य ने कहा कि यह एल्बम युवा वर्ग को एक सशक्त संदेश देगा ।

उन्होंने लोगों से इस गीत को सुनने एवं ढेर सारा प्यार देने की अपील की । जबकि गायिका दीपाली ने कहा छठ जैसे पर्व को अब देश भर में मनाया जाने लगा है। उन्होंने कहा कि हमारी छठ को विश्व भर में महत्त्वा मिले और ज्यादा से ज्यादा लीग इसके प्रति जागरूक हों, यही हमारा उद्देश्य है।

दीपाली ने कहा कि शूटिंग के दौरान भी इस महापर्व हेतु पूरी शुद्धता का ध्यान रखा गया था। उन्होंने कहा कि मैं बिहार, यूपी, झारखंड के साथ गुजरात के लोगों का भी आभार व्यक्त करना चाहती हूं क्योंकि शूटिंग के दरम्यान उनलोगों ने हमारी काफी मदद की ।

दीपाली ने कहा कि छठ जैसे पर्व से हमारी बचपन की कई यादें जुड़ी हुई हैं और हम इसे हमेसा याद रखना चाहते हैं छठ को हर साल मानते हुए । दादी और माँ के बाद ये हमारी जिम्मेवारी है कि इस पर्व को हम आगे लेकर जाएं और इसे पूरे नियम और शुद्धता के साथ मनाये।

अन्य ख़बरें

रेलवे ग्रुप D एडमिट कार्ड के लिए महत्वपूर्ण लिंक, यहां क्लिक कीजिए
दूरसंचार कोरोना वारियर्स के लिए पूर्व मंत्री ने उपलब्ध कराया सैनिटाइजर
अखिलेश सिंह ने मदर डेयरी पर बोलकर अपना पोल स्वयं खोल दिया: सचिंद्र सिंह कल्याणपुर विधायक
दहेज के लिए ससुराल वालों ने की साहेबगंज की बेटी रेखा देवी की गला दबाकर हत्या
बिहार विधानसभा निर्वाचन, संचालन एवं सफलतापूर्वक संपन्न कराने हेतु एक आवश्यक प्रशिक्षण सम्पन्न
शिक्षक दिवस के अवसर पर जरूरतमंदों के बीच खिचड़ी का हुआ वितरण
इस साल प्रधानमंत्री योग पुरस्कार के तहत दो श्रेणियों में चार पुरस्कार दिए जाएंगे
सभी सुविधाओं से परिपूर्ण साल्ट एक्सप्रेस का अशोक राजपथ में हुआ शुभारंभ
Feni Cyclone: प्रचंड तूफान में बदला चक्रवात ‘फेनी’, उत्तर-प्रदेश में भी दी सतर्क रहने की सलाह
मूल्य वृद्धि के खिलाफ मोतिहारी में कांग्रेस का आक्रोश मार्च, सरकार से मूल्यवृद्धि वापस लेने की मांग
प्रोफेसर संजय कुमार के साथ मारपीट निंदनीय, विवि जल्द नहीं खुला तो होगा आंदोलन: ABVP
गोलीबारी में घायल शिक्षक एवं उनके परिजनों से मिले प्रदेश अध्यक्ष रणविजय साहू, स्थिति का लिया जायजा ए...
मणिपुर की आयरन लेडी इरोम शर्मिला ने दिया जुड़वा बच्चियों को जन्म, 2017 में हुई थी शादी
पश्चिम बंगाल के बोलपुर में अमित शाह ने किया रोड शो उमड़ा जनसैलाब
बिहार मैट्रिक का रिजल्ट जारी विभिन्न क्षेत्रों के छात्र-छात्राओं ने मारी बाजी
शिक्षकों के योगदान का सम्मान जरूरी:ASP H.S.Gaurav
जरूरतमंदो की मदद के लिये आगे आयी ग्रामीण स्नेह फाउंडेशन
दिसंबर में केंद्र सरकार से ‘तलाक’ ले सकते हैं उपेंद्र कुशवाहा, तेरहवी की तारीख तय।
राष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेकर हाशमा खातून ने बढ़ाया सूबे का मान
अंबेडकर शिक्षण एवं चैरिटेबल ट्रस्ट (छौड़ादानौ) की बैठक सम्पन्न। सर्वसम्मति से पंचायत अध्यक्षों की हु...

Leave a Reply