युवाओं को छठ के प्रति जागरूक करने के लिए प्रदर्शित हुई: छठी मैया टहके सेनुरा हमार

Featured Post पटना बिहार मनोरंजन
  • 8
    Shares

पटना : अलगोल फिल्म्स के बैनर तले बनी भोजपुरी वीडियो एल्बम “छठी मैया टहके सेनुरा हमार ” 25 अक्टूबर को पूरे भारतवर्ष में रिलीज की गई ।

इस एल्बम की शूटिंग गुजरात के सूरत शहर के वरसाना के फार्म हाउस के खूबसूरत लोकेशन्स पर की गई है ।

इस एल्बम को भोजपुरी एवं हिंदी फिल्मों के जाने – माने संगीत निर्देशक अजय जयसवाल ने अपने मधुर संगीत से सजाया है ।

जबकि इंडियन आइडल फेम गायिका दीपाली सहाय व बॉलीवुड के पार्श्वगायक ऐश्वर्या निगम रंजन ने पहली बार इस एल्बम में छठ गीत गाकर इंडस्ट्री में अपनी एक अलग पहचान बनाने जा रहे है ।

इस छठ गीत को अपने खूबसूरत शब्दों से पिरोया है गीतकार डॉ. सागर ने । वहीं इस एल्बम को निर्देशित किया है स्वपनिल जयसवाल ने व इसका निर्माण किया है पीयूष जयसवाल ने।

एल्बम के संगीत निर्देशक अजय ने कहा कि इस एल्बम के निर्माण का उद्देश्य आज के युवा पीढ़ी को छठ जैसे महापर्व के प्रति जागरूक करना है। अभी तक हमारे घर के बुजुर्ग ही छठ करते आये हैं लेकिन जानकारी के आभाव के चलते युवा पीढ़ी इसे किस दिशा लेकर जाएगी ये नहीं पता ।

यह पर्व बहुत ही नियम और शुद्धता से किया जाता है इसीलिए आज के समय में हमें अपने घर के बहु – बेटी को इस महापर्व से अवगत कराना चाहिए, ताकि वो इसके महत्व को समझ कर अपने जनरेशन के लोगों को बता सकें।

उन्होंने कहा कि यह पारंपरिक गीत पूरी तरह से नए रूप में लाया जा रहा है । वहीं गायक ऐश्वर्या निगम ने कहा कि इस एल्बम के माध्यम से मैंने पहली बार छठ गीत को गया है जिसे लेकर मैं काफी उत्साहित हूं। ऐश्वर्य ने कहा कि यह एल्बम युवा वर्ग को एक सशक्त संदेश देगा ।

उन्होंने लोगों से इस गीत को सुनने एवं ढेर सारा प्यार देने की अपील की । जबकि गायिका दीपाली ने कहा छठ जैसे पर्व को अब देश भर में मनाया जाने लगा है। उन्होंने कहा कि हमारी छठ को विश्व भर में महत्त्वा मिले और ज्यादा से ज्यादा लीग इसके प्रति जागरूक हों, यही हमारा उद्देश्य है।

दीपाली ने कहा कि शूटिंग के दौरान भी इस महापर्व हेतु पूरी शुद्धता का ध्यान रखा गया था। उन्होंने कहा कि मैं बिहार, यूपी, झारखंड के साथ गुजरात के लोगों का भी आभार व्यक्त करना चाहती हूं क्योंकि शूटिंग के दरम्यान उनलोगों ने हमारी काफी मदद की ।

दीपाली ने कहा कि छठ जैसे पर्व से हमारी बचपन की कई यादें जुड़ी हुई हैं और हम इसे हमेसा याद रखना चाहते हैं छठ को हर साल मानते हुए । दादी और माँ के बाद ये हमारी जिम्मेवारी है कि इस पर्व को हम आगे लेकर जाएं और इसे पूरे नियम और शुद्धता के साथ मनाये।

अन्य ख़बरें

ऑल इंडिया मुशायरा व कवि सम्मेलन को लेकर हुई समीक्षा बैठक, टाउन हॉल मोतिहारी में 24 नवंबर को है सम्मे...
कोरोना वायरस पर महिला वार्ड सदस्यों द्वरा जागरूकता कार्यक्रम आयोजित
रू-ब-रू मिस इंडिया एलाइट व मि0 इंडिया 2020 केफाइनल ऑडिशन में पटना आएंगी मुग्धा गोडसे
हमने अपना अटल रत्न खो दिया :नरेंद्र मोदी
कृष्णाष्टमी पर रिलीज़ हुआ प्रिया मल्लिक का सोहर
बिहार मैट्रिक का रिजल्ट जारी विभिन्न क्षेत्रों के छात्र-छात्राओं ने मारी बाजी
रंगकर्मी धनुषधारी कुशवाहा के नेतृत्व में कला जत्था दल ने दी प्रेरणा दायक नाटक प्रस्तुति
पाकिस्तानी प्रोपेगंडा के बीच प्रधानमंत्री मोदी की फ्रांस यात्रा एवं अंतरराष्ट्रीय कूटनीति की समीक्षा...
SNS College Motihari मे मनाया गया NSS दिवस
पटना में जल प्रलय विभीषिका देखकर दुखी हैं अभिनेता यश कुमार
शिक्षक संघ द्वारा प्रतिरोध व्‍याख्‍यानों का दूसरा चरण 
डॉ प्रियंका के हत्यारों को सख्त से सख्त सजा का आवाहन, मोतिहारी एवं सीतामढ़ी में कैंडल मार्च
मृतक परिवार से मिला जदयू प्रतिनिधिमंडल, पीड़ित परिवार को न्याय एवं सुरक्षा का दिलाया भरोसा
शोकसभा का आयोजन
आज की अर्जुन............. श्रेयसी सिंह
मोदी महोत्सव स्थगित शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि
बिहार में नहीं चलेगी मजनूगिरि: गुप्तेश्वर पांडे, DGP Bihar
NSS ( राष्ट्रीय सेवा योजना )....???
लापता नहीं बल्कि पारिवारिक कलह के कारण राजेंद्र साह ने अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया था।।
विभिन्न दुर्घटना मामले में हुई मौतों में पीड़ित परिवारों को मिला चार चार लाख रुपए का चेक।।

  • 8
    Shares

Leave a Reply