यह सिर्फ सत्ता परिवर्तन है व्यवस्था परिवर्तन अभी बाकी है: पुष्पेंद्र द्विवेदी

राजनीति राष्ट्रीय

NTC NEWS MEDIA

सीपीआई के कामरेड पुष्पेंद्र द्विवेदी ने अपने फेसबुक पोस्ट पर  लिखते हुए चुनाव आयोग पर जबरदस्त प्रहार किया है एवं ईवीएम  से चुनाव  को  निष्पक्षता हीन बताया है । अपने पोस्ट पर लिखते हुए  द्विवेदी कहते हैं कि “वाह चुनाव आयोग वाह! क्या चुनाव करवाया है?EVM से ध्यान भटकाने का इससे बेहतर तरीका और कुछ नहीं हो सकता है मिजोरम में एंटी इनकंबेंसी कांग्रेस बुरी तरह हार गई। तेलंगाना चंद्रशेखर राव( ब्राम्हण)
कोई एंटी इनकंबेंसी नहीं क्लीन स्वीप पूर्ण बहुमत की सरकार।धन्यवाद देना पड़ेगा चुनाव आयोग को मैनेजमेंट को बधाई हो।”

आगे पुष्पेंद्र द्वेदी कहते हैं कि छत्तीसगढ़ में 15 साल की एंटी इनकंबेंसी कांग्रेश क्लीन स्वीप करती हुई
भाजपा के प्रति विरोध दिखाने का इससे बढ़िया तरीका चुनाव आयोग और मोदी सरकार के लिए और कुछ नहीं हो सकता था

राजस्थान में कांग्रेस बहुमत के करीब
राजस्थान के लिए जहां तक कहा जाता था कि पिछले 20 साल से बारी बारी से सरकार बदलती रहते थे और जो सत्ता में आता था उससे बहुत दूर रहता था विपक्ष
लेकिन इस बार बहुत ही कांटे की टक्कर है
इससे तो यह भी साबित होता है कि राजस्थान में किसान मजदूर दलित मुस्लिम भाजपा से नाराज नहीं है वसुंधरा का कार्यकलाप बहुत अच्छा रहा
अच्छी भूमिका में चुनाव आयोग

मध्यप्रदेश 8 घंटे की गिनती के बाद अभी भी यह नहीं पता है कि किसकी सरकार बनेगी कांग्रेस और भाजपा में काफी घमासान
व्यापम घोटाला सिंहस्थ घोटाला डंपर घोटाला महिला उत्पीड़न बेरोजगारी कुपोषण से भयानक रूप से घिरी हुई मध्य प्रदेश सरकार के ऊपर जनता का किसी भी प्रकार का रोष नहीं।इतना बढ़िया मैनेजमेंट एक पिता अपनी बेटी की शादी के लिए नहीं करता है जितना कि चुनाव आयोग ने मोदी सरकार और ईवीएम को बचाने के लिए किया है
यदि ईवीएम इमानदार होती तो नतीजे कुछ और होते

EVM को सही साबित करने के लिए संघ और चुनाव आयोग ने बहुत कड़ी मेहनत की है इस देश की आम आवाम कांग्रेस और बीजेपी के चुनाव के नतीजों पर खुश नजर आ रही हैलेकिन मैं यह जानना चाहता हूं किन पांच राज्यों के चुनाव में
महंगाई
बेरोजगारी
कुपोषण
भ्रष्टाचार
का मामला
किसानों के उत्पाद का उचित मूल्य

आम जनता के मूलभूत अधिकारों की बात कब और किसने किया? जाहिर है जब आवश्यक मुद्दों पर चुनाव नहीं लड़ा जा रहा तो फिर आवश्यक मुद्दों पर कार्य करना भी जरूरी नहीं जहां तक मैं समझता हूं इसमें कोई काम होगा नहीं चाहे वह किसी की भी सरकार आए।

अंत में पुष्पेंद्र बेदी ने एक लाइन में अपनी मंशा जाहिर कर दी की

सत्ता परिवर्तन हुआ है व्यवस्था परिवर्तन नहीं।

Ban… . EVM

अन्य ख़बरें

लोकतंत्र की मजबूती के लिए मताधिकार का प्रयोग जरूरी: रमण कुमार
अखिल भारतीय युवा कुशवाहा समाज (भारत) कमेटी का हुआ विस्तार
कुशवाहा समाज की बैठक संपन्न। मेघावी छात्रों को आर्थिक सहायता एवं समाज के राजनीतिक हिस्सेदारी के मुद्...
जिला यूथ पार्लियामेंट के लिए 18 जनवरी से होगा मुंशी सिंह महाविद्यालय में सेलेक्सन।
अन्य पार्टियों की तरह प्लुरल्स पार्टी ने भी जारी किया अपने 69 उम्मीदवारों का लिस्ट
KVK पीपरा में किसान जागरूकता सम्मेलन 2019 सम्पन्न, पिपरा में सीसीटीवी कैमरा तो ही चकिया में किसान भव...
दूसरे दिन राजद कार्यकर्ताओं ने आक्रोश मार्च निकालकर महंगाई के खिलाफ किया प्रदर्शन
जिला कांग्रेस कमेटी ने दी Congress के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के जन्मदिन की बधाई
रुलही मझार के दलित बस्ती में आयोजित निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन
बाहरी प्रत्याशी के खिलाफ विरोध के स्वर तेज
संगठन आत्मीय संबध के आधार पर विकसित होता है: नंद किशोर यादव
Tejaswi Yadav twitted, he is undergoing treatment and will come soon
गौरव झा की फिल्‍म ‘लेडी सिघंम’ से बॉलीवुड स्टार शक्ति कपूर की फिर हो रही भोजपुरी स्‍क्रीन पर वापसी
पाकिस्तान का संकल्प मोदी को हटाना, देशवासियों का संकल्प पाकिस्तान को मिटाना: कृषि मंत्री, 2 मिनट का ...
कृत्रिम आसूचना और साइबर सुरक्षा में नए आयाम’ विषय पर संगोष्ठी का उद्घाटन
SNS College Motihari मे मनाया गया NSS दिवस
मत प्रतिशत बढ़ाने के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद बूथ लेवल तक चला रही है मतदाता जागरूकता अभियान
D.El.ED. के तहत अप्रशिक्षित शिक्षकों की परीक्षा आज
पुश अप करने के अनोखे तरीके के कारण सिलचर असम के दीप देव चर्चा में
कंचन गुप्ता......

Leave a Reply