मैं सूअर और तू मेरा बच्चा… वेद प्रताप वैदिक का ट्यूटर संस्मरण

Featured Post slide राष्ट्रीय शिक्षा सम्पादकीय साहित्य स्पेशल न्यूज़
  • 11
    Shares

संस्मरण। उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बारे में एक ट्वीट पर पत्रकार प्रशांत कनोजिया को उप्र की पुलिस ने दिल्ली आकर गिरफ्तार कर लिया था।सर्वोच्च न्यायालय ने इस पत्रकार को तुरंत रिहा कर दिया और कहा कि उप्र सरकार की यह कार्रवाई नागरिकों के मूल अधिकारों का उल्लंघन है।

क्या किया था ऐसा कनोजिया ने, जिसके कारण उसे गिरफ्तार कर लिया गया था ? उसने किसी महिला के उस वीडियो को ट्वीट कर दिया था, जिसमें उसने दावा किया था कि उसने योगी के साथ शादी करने का प्रस्ताव भेजा है। यह ठीक है कि किसी संन्यासी को शादी का प्रस्ताव भेजना बिल्कुल बेहूदा बात है लेकिन यह कोई पहली बार नहीं हुआ है।हमारे कई विश्व-प्रसिद्ध संन्यासियों और केथोलिक पादरियों को भी इस तरह के प्रस्ताव आते रहे हैं लेकिन उन्होंने प्रस्तावकों को हंसकर टाल दिया है या कभी कभी उन्हें स्वीकार करने की भी घटनाएं हुई हैं। यदि किसी महिला ने ऐसा प्रस्ताव रख भी दिया है तो उसका योगी बुरा मानने की बजाय उसे यह कह सकते थे कि बहन, यह असंभव है। हो सकता है कि उस महिला ने अज्ञानतावश या मोहवश या जानबूझकर बदमाशी करते हुए यह प्रस्ताव रखा है। हर स्थिति में उसे हवा में उड़ा दिया जाना चाहिए था लेकिन उस प्रस्ताव को दुबारा ट्वीट करनेवाले पत्रकार को जेल भिजवाना तो उस प्रस्तावक औरत की मूर्खता से भी अधिक गंभीर मूर्खता है।ऐसे कई प्रस्ताव मुझे अपने ब्रह्मचर्य-काल में भी मिला करते थे। इंदौर, न्यूयार्क और मास्को में अब से लगभग 50-55 साल पहले जब ऐसे प्रस्ताव आते थे तो उन्हें छुए बिना ही मैं रद्दी की टोकरी के हवाले कर देता था। एक संन्यासी को ऐसे प्रस्ताव पर बुरा लगना स्वाभाविक है लेकिन वह एक पार्टी का नेता, जनता का प्रतिनिधि और मुख्यमंत्री भी है। गुस्से में आकर एक पत्रकार को गिरफ्तार करना तो अपनी छवि को विकृत करना है। सार्वजनिक जीवन में ऐसे कई क्षण आते हैं, जब उत्तेजित होने की बजाय हास्य-व्यंग्य की मुद्रा धारण करना बेहतर होता है। पिछले दिनों पद्मावती फिल्म पर मेरे लेख पर उत्तेजित होकर कई लोगों ने मुझ पर तीव्र वाक-प्रहार किए। किसी नौजवान ने मुझे लिखा कि ‘बुड्ढे, तू सूअर है’। मैंने उसे लिखा कि ‘तुमने मुझे कितना सुंदर तोहफा दिया है। मैं सूअर हूं और तू मेरा बच्चा है।’ उसके बाद उसका कोई जवाब नहीं आया। उसकी बोलती बंद हो गईं।?

अन्य ख़बरें

गरीबों के बीच राशन वितरण करेगा उत्संग फाउंडेशन
12 अक्टूबर को भाजपा का "युवा संकल्प सम्मेलन" केंद्र व राज्य के बड़े मंत्री होंगे शामिल
चुनाव जीतने के बाद सबसे पहले इस गांव की सड़क बनवाऐंगे डॉ दीपक कुमार
सत्याग्रह की आस ,आओ करें उपवास : मधु मंजरी
इनर व्हील क्लब ऑफ़ पटना ने सिलाई मशीन और मास्क का किया वितरण
पटना:समर कैंप में एनएसआई के छात्रों ने बिखेरे जलवे
सैनिटरी पैड बैंक के उद्घाटन के मौके पर विधायक ने की चैंपियन प्रयोजना की प्रशंसा
सबका साथ सबका विकास के साथ कार्य के लक्ष्य हेतु ब्रावो फाउंडेशन के मोतिहारी स्थित कार्यालय का उद्घाट...
बोकानेकला: धूम धाम से मनाई गई डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती
पूर्वी चंपारण के अरविंद कुमार ठाकुर बने भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी, लोगों ने दी बधाईयां
भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष लक्ष्मण प्रसाद का 85 वर्ष के आयु में निधन,आज होगा अंतिम संस्कार
चंद्रा लाइफ लाइन मल्टी स्पेशलिस्ट हॉस्पिटल के नए भवन का शुक्रवार को होगा उद्घाटन
सरदार बल्लभ भाई पटेल की 144वी जयंती पर Run for Unity में दौड़े शहरवासी
पूर्व केंद्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह ने राज्यपाल फागू चौहान से की मुलाकात गांधी की 150वीं जयंती पर म...
बंजरिया में केरल बाढ़ पीड़ितों की सहायतार्थ अनोखी पहल
राफेल मुद्दे पर कांग्रेस आर पार के मूड में, मोतिहारी कलेक्ट्रेट के सामने धरना 15 को
पाकिस्तान का संकल्प मोदी को हटाना, देशवासियों का संकल्प पाकिस्तान को मिटाना: कृषि मंत्री, 2 मिनट का ...
एक आदमी के संघर्ष और सपनों की कहानी है पटना-12 : अमित पॉल
चकिया ट्रेन ब्लास्ट केस का वांछित नक्सली नवल साहनी गिरफ्तार
संविधान बचाओ न्याय यात्रा...RJD

  • 11
    Shares

Leave a Reply