शर्म नहीं सम्मान है औरत की पहचान है”  माहवारी स्वछता दिवस पर वार्ड सदस्यों ने दिया संदेश

Featured Post गाँव-किसान बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल स्पेशल न्यूज़
  • 32
    Shares

छौडा़दानौ। सेंटर फॉर कैटेलाईजिंग चेंज के द्वारा विश्व माहवारी स्वछता दिवस के अवसर पर पूर्वी चम्पारण जिला के मोतीहारी सदर एवं छौरादानो की चैम्पियन परियोजना में शामिल महिला वार्ड सदस्य सुधा देवी वार्ड 11, पंचायत-बसवानपुर ने कोरोना महामारी से उत्पन्न समस्याओं के बीच शारीरिक दूरी का पालन करते हुए विभिन्न जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य यह था कि इस विषय पर समझ विकसित करना व कोरोना महामारी के बीच ग्राम स्तर पर एक माहौल तैयार करना था ताकि खुल कर इन विषयों पर बातचीत हो सके।

कार्यक्रम के दौरान महिला वार्ड सदस्य संजू देवी वार्ड-10 पंचायत-तीनकोनी, छौरादानो ने इन विषयों पर अपने स्वयं के अनुभव साझा करते हुए लोगों को संदेश देने का कार्य किया।

महिला वार्ड सदस्यों ने बताया की आधुनिकता एवं शिक्षा के बाबजूद आज भी इन मुद्दों पर बात करना सहज नहीं हैं। परिवार में अपने बच्चों के साथ जानकारी बांटने में भी लोगों कोई झिझक महसूस होती है। समाज में अभी भी बहुत लोग हैं जिनको लगता है की मासिक धर्म अपराध से कम नहीं है एवं बहुत सारे परिवार में माहवारी के दौरान लड़कियों, महिलाओं को अलग-थलग किये जाने का प्रचलन बहुत जगह विद्यमान है। जिसकी वजह से किशोरियो एवं महिलाओं के लिए भी यह प्राकृतिक शारीरिक प्रक्रिया को लेकर शर्म और झिझक बनी रहती है। उन्हें भी इस प्रक्रिया के विषय में बताएं ताकि उनकी बेटी को भी किसी के सामने शर्मिंदा नहीं होना पड़े। जागरूकता कार्यक्रम में महिलाओं के अलावा  समाज के अन्य तबको को भी शामिल किया गया एवं उनको यह बात समझाई गई की माहवारी कोई हसने का विषय नहीं है. यह प्राकृतिक एवं अत्यंत जरुरी प्रक्रिया है। अगर यह नहीं होती तो आज वे भी नहीं होते। इंसान की उत्पत्ति का आधार माहवारी ही है। इस विषय पर पुरुषों एवं लडकों को भागीदार बनाने का उद्देश्य लड़कियों की इस विषय पर होने वाली हिचकिचाहट को दूर करना और उन्हें भी इन मुद्दों पर सहज बनाना था।

इस दौरान समुदाय के लोगों के अपने अपने हाथों में ‘रेड डॉट’ (लाल बिंदी) बनाकर एवं जागरूकता भरे नारों के माध्यम से विभिन्न भ्रांतियों को दूर करने एवं इस विषय पर समाज को जागृत एवं संवेदनशील करने का कार्य किया। कार्यक्रम के दौरान कुछ किशोरियों को वार्ड सदस्यों के द्वारा बिना काली पोलीथीन या अखबार में लपेटे सेनिटरी पैड का भी वितरण किया गया और उनको इस बात का एह्साह कराया गया की यह उनका अधिकार है जो छुपा कर नहीं बल्कि खुल कर लिया जाता है।महिला वार्ड सदस्यों को आशा है की इस दिवस के माध्यम से माहवारी संबंधित भ्रम एवं भ्रांतियों को दूर कर एक आदर्श और समझदार समाज बनाने में सहायता मिलेगी।

बिहार मैट्रिक का रिजल्ट जारी विभिन्न क्षेत्रों के छात्र-छात्राओं ने मारी बाजी

जिला टॉप शुभम के इंटर की पढ़ाई का खर्च देगी बिहार नवयुवक सेना

रामबाबू कुँअर बने AIDA बिहार प्रदेश के प्रदेश उपाध्यक्ष, संगठन के अन्य सदस्यों ने दी बधाई

अन्य ख़बरें

अपने गुरु का सदा आभारी रहूंगी .....जूनीयर मदर टेरेसा सुप्रिया भारती
मोतिहारी में डॉ आर के गुप्ता के नेतृत्व में सैकड़ों लोग वर्चुअल रैली में हुए शामिल
गोस्वामी समाज ने दिया, पूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय वी वी गिरी को श्रद्धांजलि
ABVP ने की पुलवामा अटैक में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित
बाढ़ पीड़ित परिवारों के खाते में जाएंगे साढ़े छ: हजार रुपए : सांसद
CPIM ने जुलूस निकालकर जताया विरोध
फिट इंडिया मूवमैंट के तहत छात्र छात्राओं ने लिया फिट रहने का संकल्प।
धूमधाम से मनाया गया न्यू पटना सेन्ट्रल स्कूल का वार्षिकोत्सव
एनीमिया बचाव को लेकर महिला जनप्रतिनिधि द्वारा माता बैठक सम्पन्न।।
चकिया: ABVP के काॅलेज इकाई का हुआ पुनर्गठन,
इंडियन ग्लौरी अवार्ड 2019 से सम्मानित हुये 71 विभूति
बिहार में शिक्षा सुधार के लिए लखौरा में रालोसपा ने किया नुकड़ सभा
मुजफ्फरपुर में गौरव रिर्काडिंग स्टूडियो का शानदार आगाज
पाकिस्तानी प्रोपेगंडा के बीच प्रधानमंत्री मोदी की फ्रांस यात्रा एवं अंतरराष्ट्रीय कूटनीति की समीक्षा...
बिहार के कलाकारों को राज्‍य सरकार देगी प्रोत्‍साहन राशि, बनाने होंगे 15- 20 मिनट के वीडियो
बिहार नवयुवक सेना की केसरिया प्रखंड कमेटी गठित, 20 हजार नए साथियों को जोड़ने का लक्ष्य
प्रोफेसर संजय कुमार के पक्ष में,आज होगा प्रतिरोध मार्च
Rakesh Pandey.....a ray of hope in Champaran
प्रमंडल स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को लेकर तैयारियां तेज
एशिया कप का महा मुकाबला आज। शाम 5:00 बजे से लाइव

  • 32
    Shares

Leave a Reply