महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के अच्छे दिन कब आएंगे…???

मोतिहारी स्पेशल शिक्षा
  • 92
    Shares

NTC NEWS MEDIA/MOTIHARI

राजनीति में अच्छे दिन कब आएंगे इसका कोई ठिकाना नहीं लेकिन महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी अच्छे दिन जल्द से जल्द वापस आए इसके लिए इस विश्वविद्यालय के शिक्षक संघ प्रयासरत है यही कारण है कि  ऐडमिशन, कक्षा का नियमित संचालन,  नए शिक्षकों की भर्ती, फीस में कमी आदि मुद्दों को लेकर शिक्षक संघ ने 26 सितंबर को एक मीटिंग की ।

मीटिंग की मुख्य बिंदुओं की पड़ताल:-

  •  शिक्षक संघ सबसे पहले इस बात के लिए  दुखी है कि विश्वविद्यालय प्रशासन नए सत्र को शून्य सत्र घोषित करके चल रहा है अर्थात इस सत्र में नया एडमिशन नहीं होगा। शिक्षक संघ के प्रेस रिलीज के अनुसार विश्वविद्यालय प्रशासन जगह की कमी का हवाला दिया है । जबकि शिक्षक संघ का कहना है कि संभवत विश्वविद्यालय प्रशासन के पास अपना भवन मोतिहारी में कई जगह पर मौजूद है और इन जगहों पर नए सत्र का संचालन किया जा सकता है।

 

  • शिक्षक संघ ने दूसरा जो आरोप लगाया है उसके तहत ने शिक्षकों की भर्ती का ना होना है। शिक्षक संघ के अनुसार इस विश्वविद्यालय में शिक्षकों का घोर अभाव है, कांटेक्ट बाहाली के तहत इस कमी को पूरी की जानी थी, लेकिन अभी तक यह संभव नहीं हो पाया है अतः इस दिशा में विश्वविद्यालय प्रशासन को यथाशीघ्र कदम उठाते हुए शिक्षकों की जो घोर कमी बनी हुई है उसको पूरा किए जाने की आवश्यकता है।

 

  • शिक्षक संघ ने यहां तक मांग कहां की स्नातक पाठ्यक्रम में एडमिशन के लिए जो 12वीं के मार्क्स को 60% न्यूनतम किया गया है उसे तत्काल हटाए जाने की आवश्यकता है क्योंकि बिहार बोर्ड में छात्रों को 12वीं में 60 परसेंट मार्क्स बहुत ही कम छात्रों को आते हैं इस परिस्थिति में बिहार के अधिकतम छात्र विश्वविद्यालय में पढ़ने से वंचित रह जाएंगे अर्थात मोतिहारी में विश्वविद्यालय विद्यालय खुलने का लाभ गरीब बिहारी छात्रों  को नहीं मिल पाएगा।

 

Advertisements
  • शिक्षक संघ ने विश्वविद्यालय में बढ़ी हुई फीस पर भी अपनी बेबाक राय रखते हुए कहा कि बिहार जैसे गरीब प्रांत में पर सेमेस्टर 18000 की फीस भर पाना छात्रों के लिए नामुमकिन नहीं है और यदि ऐसा रहा तो अमीर के बच्चे पढ़ लेंगे किंतु जो गरीब टैलेंटेड छात्र है वे बढे हुई फीस एवं  छात्रवृत्ति केेे अभाव में केंद्रीय विश्वविद्यालय में पढ़ने से वंचित रह जाएंगे अतः शिक्षक संघ ने कीीी मांग है की इस बढ़ी हुई फीस को तत्काल कम किया जाए ।

 

  • शिक्षक संघ ने यहां तक कहा कि जब बिहार के कुछ शिक्षकों जैसे डॉ. शशिकांत राय और डॉ. भानुप्रताप आदि ने मुखर होकर पिछले साल इस बिहार विरोधी प्रावधान का विरोध किया तो जहाँ डॉ. शशिकांत राय को बर्खास्‍त कर दिया गया, वहीं डॉ. भानु प्रताप को 5 अन्‍य शिक्षकों के ऊपर जो प्राथमिकी दर्ज है वह पूूरी तरह से फर्जी हैं।

महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय  शिक्षक संघ ने आरोप लगाया कि  विश्वविद्यालय में जिन बच्‍चों को पिछले और उससे पिछले साल प्रवेश दिया गया था, चालू सत्र में उनकी जनरल इलेक्टिव(Generic Elective -GE) की कक्षायें प्रशासन की नाकाबिलियत के कारण आधा सेमेस्‍टर निकल जाने तक भी शुरु नहीं हो पाई। अभी भी अंग्रेजी विभाग में शिक्षकों की कमी के चलते जनरल इलेक्टिव (Generic Elective )की कक्षायें नहीं चल रही है।

                               शिक्षक संघ के उपरोक्त तथ्यों को ध्यान दिया जाए शिक्षक संघ ने जो  विश्वविद्यालय प्रशासन पर आरोप लगाए हैं वह सिर्फ आरोप भी हो सकते है इस संदर्भ में अभी तक विश्वविद्यालय प्रशासन की राय नई ली गई है। हमारी कोशिश होगी अगले अंक में विश्वविद्यालय प्रशासन का पक्ष रखें लेकिन फिलहाल यदि विश्वविद्यालय में इस तरह की स्थितियां उत्पन्न है तो कहीं ना कहीं इन खामियों को दूर की जा नी जा सकता है ताकि चंपारण में केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित करने का उद्देश्य पूरा हो सके।

इस मीटिंग में शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉक्टर प्रमोद मीना उपाध्यक्ष डॉ बबीता मिश्रा डॉक्टर भानु प्रताप सिंह, सचिव अवनीश, ज्वाइंट सचिव प्रेरणा भदौली एवं मृत्युंजय कुमार यदुवेंद्र एवं खजांची विदुभूषण मिश्रा आदि लोग शामिल थे

अन्य ख़बरें

RRB Group-D Result...यहाँ देखिए
गांधी जी की 150वीं जयंती के अवसर पर 25 सितंबर से 2 अक्टूबर तक आयोजित होंगे विभिन्न कार्यक्रम
चुनाव हारने के बाद कन्हैया कुमार ने भरी हुंकार... चुनाव हारे हैं जंग नहीं। फिर उठेंगे...लड़ेंगे...जी...
गुजरात में हो रहे बिहारियों पर हमले के खिलाफ महागठबंधन ने किया पुतला दहन
बेहोश डाक बम कांवरियाँ की ढाका रेफरल अस्पताल में हुई मौत
कला संस्कृति मंत्री ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा
दिव्यांगो को मिलेगा मोटर तिपहिया वाहन,18 जनवरी को जिला स्कूल मोतिहारी में होगा रजिस्ट्रेशन
मुख्य सचिव ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की बाढ़ पूर्व तैयारियों की समीक्षा
परिवार नियोजन पखवाड़ के अंतर्गत महिला जनप्रतिनिधियों का जागरूकता कार्यक्रम
साइकिल रैली के माध्यम से मतदाताओं से की गई 12 मई को अधिक से अधिक संख्या में मतदान करने की अपील
मिस्टर-मिस और मिसेज पटना सीजन 05 का फिनाले संपन्न मॉडल्स ने रैंप पर बिखेरा जलवा
SNS College Motihari के एनएसएस वॉलिंटियर्स ने निकाली मतदाता जागरूकता रैली
पूर्व केंद्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह ने राज्यपाल फागू चौहान से की मुलाकात गांधी की 150वीं जयंती पर म...
हिन्दी है हम...... हिन्दी दिवस पर विशेष
मोतिहारी में 21 जून को नरसिंह बाबा मठ में होगा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का मुख्य कार्यक्रम
सबका साथ सबका विकास के साथ कार्य के लक्ष्य हेतु ब्रावो फाउंडेशन के मोतिहारी स्थित कार्यालय का उद्घाट...
सोशल यूथ कमिटी ने मैट्रिक एवं इंटरमीडिएट में 70% अंक से उतीर्ण छात्रों को किया सम्मानित
जिलाधिकारी ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा अंचलाधिकारी एसडीओ को दिया आवश्यक दिशा निर्देश
CPTI पूर्ण रूप से बंद, इसकी सारी कमिटीयाँ हुई भंग
मिशन साहसी के तहत होगा प्रशिक्षण, छात्राओं को सिखाए जाएंगे आत्मरक्षा के तरीके,

  • 92
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *