बिहार सरकार के अल्टरनेट-डे आदेश से मोतिहारी के व्यवसायी सड़कों पर, दिया सांकेतिक धरना

Featured Post मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल व्यवसायी

 

Advertisements

मोतिहारी। बिहार सरकार के अनलॉक 5.0 आदेश से जिले के व्यवसाई नाखुश है। इसी संदर्भ में मोतिहारी चैंबर ऑफ कॉमर्स ने बिहार सरकार के इस आदेश को व्यवसाई विरोधी नियम करार देते हुए 18 जुलाई 2021 रोज रविवार को मोतिहारी के कस्टम ऑफिस के सामने सांकेतिक धरना दिया।

चैंबर के अनुसार बिहार में अन्य प्रदेशों की तुलना में कोरोना का ग्राफ काफी कम है लेकिन फिर भी बिहार सरकार के कठोर निर्णय से 30 दिनों की तुलना में 15 दिन ही व्यापार करने की छूट दी हैं जिससे व्यवसायी काफी परेशानी का सामना कर रहे हैं। ऐसी स्थिति रही तो व्यवसायी कहीं सड़क पर ना आ जाए।

वहीं चैंबर के अध्यक्ष सुधीर अग्रवाल ने कहा कि सरकार हमारी मांगों पर ध्यान दें अन्यथा प्रदेश के सभी व्यवसाय संगठन चरणबद्ध तरीके से सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे।

दूसरी ओर चैंबर के महासचिव अभिमन्यु कुमार ने सरकार को अपने आदेश के मुद्दे पर संभल जाने की बात करते हुए कहा कि मोतिहारी नगर परिषद क्षेत्र कोरोना वायरस के प्रथम डोज को 100% लेकर बिहार का प्रथम नगर परिषद क्षेत्र बन गया है । जिसको लेकर बिहार सरकार ने बधाई भी दिया है। फिर भी सरकार ने महीने में 15 दिन ही व्यापार करने का आदेश दिया जो कि कहीं से उचित नहीं है और व्यापारियों में काफी रोष है।

वही उपाध्यक्ष सुधीर गुप्ता ने कहा कि अन्य प्रदेशों की तुलना में बिहार में भी व्यवसाय प्रतिदिन करने का मौका अविलंब दे देनी चाहिए।

चेंबर संयोजक रवि कृष्ण लोहिया ने कहा कि अल्टरनेट डे से बाजारों में बढ़ती भीड़ को देखकर नित्य व्यापार की इजाजत दे सरकार।

निवर्तमान अध्यक्ष डॉ विवेक गौरव ने कहा कि व्यापारी बंधु दुकान का मासिक किराया, बिजली बिल, कर्मचारियों का खर्च, मेडिकल खर्च आदि से व्यवसायियों की कमर टूट गई है सरकार को इस पर ध्यान देकर, नित्य व्यवसाय की इजाजत देनी चाहिए।

सह सचिव हेमंत कुमार ने कहा कि एक तरफ कोरोना वायरस की मार और दूसरी तरफ बाढ़ से बेहाल और तीसरी तरफ ई-कॉमर्स का जंजाल इसमें कैसे करें हम व्यापार। अल्टरनेट डे व्यापार खुलने पर जहां व्यापार की क्षती हो रही है, वहीं सड़कों पर कोरोना वायरस प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ रही है। इसपर सरकार गंभीरता पूर्वक विचार करें और नियमित रूप से दुकान खोलने का आदेश दें।

जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार इस सांकेतिक धरना में पूर्व अध्यक्ष मनीष कुमार, संजीव रंजन कुमार, पूर्व महासचिव राम भजन एवं कार्यकारिणी सदस्य सुनील श्रीवास्तव, श्याम कुमार, आशुतोष कुमार, चैंबर्स सदस्यगण एवं बड़ी संख्या में अन्य व्यवसायी उपस्थित थे।

अन्य ख़बरें

बिहार के रूपेश आर पांडेय को मिला बिजनेश ऑफ द ईयर अवार्ड
AES, JE, चमकी बुखार व डायरिया से बचने के लिए जन जागरूकता अभियान को लेकर बैठक संपन्न
पूर्व विधायक अजीजुल हक के निधन पर मुख्यमंत्री ने व्यक्त की गहरी शोक-संवेदना
इनर व्हील क्लब ने मनाया विश्व शांति दिवस
मोतिहारी चेंबर ऑफ कॉमर्स के आठवीं कार्यकारिणी बैठक में विधानसभा चुनाव में वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने को ल...
शिक्षक को चाणक्य एवं शिष्य चंद्रगुप्त होना चाहिए: पप्पू सर
ढाका में स्थिति हुआ सामान्य... अफवाह फैलाने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई
योग के बारे में बता रहे हैं...युवा भारत पतंजलि के जिला उपाध्यक्ष ओमकार प्रकाश
चैंबर के रजत जयंती समारोह की रूपरेखा तैयार।। अपनी स्थापना के 25 वर्ष को बनाएगी यादगार
भोजपुरी फिल्म काजल के प्रमोशन को मोतिहारी पहुंचे फिल्मी सितारे
तेजस्वी यादव की रैली को लेकर,मधुबन प्रखंड कार्यालय में हुई समीक्षा बैठक
शोकसभा का आयोजन
कोविड-19 को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री ने की समीक्षा बैठक
sand artist madhurendra Kumar Congratulate to Wing Commander Abhinandan
मंदिर निर्माण के लिए ब्रावो फार्मा के चेयरमैन राकेश पांडेय ने दिया पाँच लाख इक्यावन हजार का चेक
केन्द्र सरकार की कारपोरेटपरस्त नीतियों के कारण देश की अर्थव्यवस्था लगातार गर्त्त में डूबती जा रही है...
मतदाता जागरूकता अभियान बाइक रैली के दौरान शिक्षक हुए घायल, रेफरल अस्पताल में हो रहा है इलाज
Happy Deepawali .......by- Nakul Kumar
आधार मिश्रा ने अपनी मधुर आवाज से बांधा समां
बेटियों के सम्मान में चांदमारी में कोचिंग-ट्यूशन बंद, बेटा बचाओ आंदोलन की आवश्यकता

1 thought on “बिहार सरकार के अल्टरनेट-डे आदेश से मोतिहारी के व्यवसायी सड़कों पर, दिया सांकेतिक धरना

Leave a Reply