बिहार के इस जिले में पहली बार लगाई गई महिला ग्राम सभा, महिला सशक्तिकरण पर हुई चर्चा

Featured Post गाँव-किसान मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल

पूर्वी चम्पारण जिला के तीनकोनी पंचायत में लगायी गई महिला ग्राम सभा

पूर्वी चंपारण । महात्मा गांधी के सपनों को साकार करते हुए पूर्वी चंपारण जिले के छौड़ादानौ प्रखंड स्थित तिकोनी पंचायत में पहली बार महिला ग्राम सभा का आयोजन किया गया जिसमें सैकड़ों की संख्या में महिलाओं ने हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम के उद्देश्यों में स्थानीय शासन में महिलाओं को प्रभावित करने वाले मुद्दों की बेहतरी सुनिश्चित करना, महिला सशक्तिकरण जैसे मुद्दे शामिल थे।
आज के इस कार्यक्रम में तीनकोनी के माननीय मुखिया, माननीय सरपंच, ग्राम पंचायत एवं ग्राम कचहरी के सभी 24 सदस्यों के साथ साथ बड़ी संख्या में पंचायत के विभिन्न वार्डों से महिलाओं के विशाल जन समूह की सक्रीय भागीदारी देखी गई ।

स्थानीय शासन में महिलाओं को प्रभावित करने वाले मुद्दों की बेहतरी सुनिश्चित करने हेतु लगायी गई महिला ग्राम सभा

कार्यक्रम के दौरान पंचायत की 15 से ज्यादा महिलाओं एवं किशोरियों द्वारा स्वास्थ्य, पोषण, शिक्षा, आजीविका एवं सुरक्षा को लेकर अपने अनुभवों को साझा किया गया एवं इसमें और बेहतरी की मांग की गई । महिलाओं के समूह ने उपस्थित पदाधिकारियों एवं गणमान्य व्यक्तियों को पंचायत स्तरीय मांगपत्र भी सुपुर्द किया।
इस कार्यक्रम के दौरान सेंटर फॉर कैटेलाईजिंग चेंज (सी थ्री), पटना से आए वरिष्ठ कार्यक्रम पदाधिकारी, प्रकाश रंजन ने बताया की सी थ्री एक राष्ट्रीय स्तर की संस्था है जो महिलाओं एवं लड़कियों को सामाजिक, आर्थिक एवं राजनीतिक रूप से मजबूत बनाने के लिए पिछले तीस वर्षों से कार्यशील है। संस्था के द्वारा विगत तीन वर्षों से बिहार के दस जिलों में चैम्पियन परियोजना के माध्यम से 2000 से ज्यादा महिला जन प्रतिनिधियों को उनके पंचायतों में स्थानीय स्वास्थ्य, पोषण, लैंगिक, शिक्षा, सशक्तिकरण जैसे मुद्दों को चिन्हित कर उन्हें दूर करने के लिए क्षमतावान बनाने का प्रयास किया जा रहा है।

 पंचायत स्तरीय जेंडर रिपोर्ट कार्ड के माध्यम से महिला सशक्तिकरण पर हुई चर्चा

उक्त कार्यक्रम के उद्देश्य पर चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि महिलाओं के सशक्तिकरण को प्रभावित करने वाले मुद्दे यथा स्वास्थ्य, पोषण, घरेलु हिंसा, शिक्षा, आजीविका और अन्य सामाजिक मुद्दों के सम्बन्ध में रिपोर्ट कार्ड बनाने एवं इनसे जुडी विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करने के लिए ‘महिला सभा’ का आयोजन किया गया जो निश्चित रूप से ग्राम सभा में महिलाओं की भागीदारी और नेतृत्व को बढ़ावा देगा एवं महिलाओं के सशक्तिकरण को प्रभावित करने वाले मुद्दे की बेहतरी हेतु पंचायत को अग्रसर करेगा।

 बी.डी.ओ. ने जारी किया पंचायत स्तरीय जेंडर रिपोर्ट कार्ड, महिला सशक्तिकरण मुद्दे पर मिल कर कार्य करने का दिया भरोसा

मौके पर मौजूद अनुपम कुमारी, बी. डी. ओ., छौरादनो प्रखंड ने बताया की पंचायत स्तरीय जेंडर आधारित रिपोर्ट कार्ड एवं महिला मांग पत्र न्यायसंगत सामाजिक-आर्थिक विकास और लैंगिक समानता को प्राप्त करने के लिए पंचायत में किए जा रहे परिवर्तनकारी दृष्टिकोणों का एक महत्वपूर्ण प्रयास है। यह तीनकोनी पंचायत में महिलाओं और लड़कियों के स्वास्थ्य, पोषण, शिक्षा, स्वच्छता, आजीविका, सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक सशक्तिकरण पर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करता है।
आयोजित कार्यक्रम के दौरान संजू देवी, वार्ड सदस्य, वार्ड संख्या 10 ने बताया की जेंडर रिपोर्ट कार्ड एवं मांग पत्र, विकास के प्रमुख संकेतकों में कई सुधारों की ओर इशारा करती है।
वहीं दूसरी ओर राज कुमार, प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ने बताया कि सरकार के द्वारा कई सारे योजनाओं को चलाने के बाद भी रिपोर्ट कार्ड ने पंचायत के समक्ष मौजूदा स्वास्थ्य संबंधी चुनौतियों की ओर इशारा करने का काम किया है, यथा पंचायत की सिर्फ 51% का ही प्रसव पूर्व तीन जांच सुनिश्चित होना, 55% का ही संस्थागत प्रसव होना, 61% को ही संस्थागत प्रसव के लिए एम्बुलेंस का लाभ मिलना, 57% गर्भवती महिलाओं के द्वारा ही प्रसव के समय 180 गोली का सेवन किया जाना, 44% महिलाओं के द्वारा ही जन्म के एक घंटे के अंदर स्तनपान करवाना, 18% महिलाओं को ही जॉब कार्ड के बाबजूद मनरेगा के तहत काम की प्राप्ति होना इत्यादि प्रमुख हैं ।
बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, छौरादानो ने बताया की जेंडर रिपोर्ट कार्ड, मांग पत्र एवं इस पर चर्चा हेतु आयोजित महिला सभा हमारे जैसे सरकारी पदाधिकारियों को तीनकोनी पंचायत की महिलाओं एवं लडकीयों की वर्त्तमान स्थिति का आकलन करने में मदद करेगी एवं ऐसे क्षेत्रों की तलाश करने के लिए प्रेरित करेगा जो महिलाओं और लड़कियों को सशक्त करने लिए आवश्यक है ।

 महिलाओं द्वारा प्रस्तावित मुद्दे को ग्राम सभा में पारित करवाने का मुखिया ने दिया आश्वासन

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे तीनकोनी ग्राम पंचायत के मुखिया, संजय कुमार ने बताया की मुझे बहुत खुशी है की महिला वार्ड सदस्यों ने महिला सशक्तिकरण के मुद्दों पर आधारित जेंडर रिपोर्ट कार्ड का आकलन किया एवं उससे जुड़ा मांग पत्र को तैयार कर एवं इन मुद्दों पर चर्चा हेतु महिला ग्राम सभा बुलाने का जो कार्य किया है वो अत्यंत सराहनीय है। यह रिपोर्ट कार्ड निश्चित रूप से पंचायत की प्रगति के साथ साथ ऐसे छुपे हुए मुद्दों पर प्रकाश भी डालने का कार्य किया है जो महिला सशक्तिकरण के दृष्टिकोण से अति महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने महिलाओं द्वारा उठाये गए मुद्दों को ग्राम सभा में प्रस्ताव के रूप में लेकर इसपर योजनावद्ध तरीके से काम करने का भी आश्वासन दिया साथ ही इस प्रकार का दो महिला ग्राम सभा प्रत्येक वर्ष आयोजित करने का भी घोषणा किया ।
आपको बता दें कि सेंटर फॉर कैटेलाईजिंग चेंज (CCC) के द्वारा संचालित चैम्पियन परियोजना के अंतर्गत पूर्वी चम्पारण जिले के छौड़ादानौ प्रखंड के तिनकोनी पंचायत में महिला पंचायत प्रतिनिधियों की भागीदारी एवं समर्थन से मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण से संबंधित सेवाओं और अधिकारों के सन्दर्भ में जागरूकता बढ़ाने हेतु जमीनी स्तर पर् कार्य किया जा रहा है एवं महिला नेतृत्व को प्रोत्साहन दिया जा रहा है ताकि वे इन मुद्दों से संबंधित स्थानीय प्राथमिकताओं और समस्याओं को चिन्हित कर उनकी बेहतरी हेतु कदम उठाने में समर्थ हो सकें।

अन्य ख़बरें

राधा मोहन सिंह के पक्ष में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मांगा जन समर्थन
एड्स से बचने के लिए जानकारी का होना आवश्यक है:प्रोफेसर शिव कुमार प्रसाद
कला संस्कृति मंत्री ने पदाधिकारियों के साथ बैठक कर बाढ़ एवं राहत कार्यों की समीक्षा की
कृषि कुंभ 2019 का दूसरा दिन। सिक्किम के राज्यपाल गंगा प्रसाद, उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रत...
सुकृष्णा कामर्स इस्टीच्यूट ने धूमधाम से मनाया शिक्षक दिवस
कांग्रेस आईटी सेल प्रखंड अध्यक्षों की हुई नियुक्ति
एनएसएस द्वारा स्वच्छता ही सेवा तहत की जा रहे हैं 7 दिवसीय कार्यक्रम का हुआ समापन
पश्चिमी चंपारण के सांसद संजय जयसवाल पहुंचे जनता के बीच
मंत्री कला,संस्कृति एवं युवा विभाग प्रमोद कुमार ने स्मार्ट क्लास का किया उद्घाटन
इंडियन ग्लौरी अवार्ड 2019 से सम्मानित हुये 71 विभूति
अल्पसंख्यक मोर्चा जिला अध्यक्ष मोहिबुल हक ने मृतक शेख मोतिउर्रहमान के घर जाकर उनके परिवार को सांत्वन...
स्वच्छता अभियान के तहत रामगढ़वा में भी चला स्वच्छता अभियान
अरुण जेटली के निधन से देश की राजनीति में जो एक बड़ी शून्यता आई है उसे भरा नहीं जा सकता: राधा मोहन सिं...
भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा का जिला सम्मेलन संपन्न
फिलहाल दो ट्रेड़ो के 17 पदों के लिए 36 लोगों का हुआ इंटरव्यू
डा. तारा श्वेता आर्या बनीं "रूबरू मिसेज इंडिया", मॉडलिंग और फैशन की दुनिया में बना चुकी है विशिष्ट प...
मोबाइल का ईयर फोन लगाकर बाइक चला रहे युवक की ट्रक से टक्कर में हुई मौत। पत्नी को वीडियो कॉल करके दम ...
आलोचक-कवि डा० खगेन्द्र ठाकुर की स्मृति सभा में शिक्षाविदों ने रखे अपने विचार
महागठबंधन के उम्मीदवार आकाश कुमार सिंह ने किया नामांकन, कहा चीनी मिल प्राथमिकता।
सामाजिक संगठनों ने किया गरीब एवं जरूरतमंद लोगों के बीच राहत सामग्री का वितरण

Leave a Reply