प्रारब्ध

Uncategorized

-: प्रारब्ध:–
   *******
प्रारब्ध  ऎसा  होता, 
             सोचा  ही  नही है।
पुरुषार्थ के निलय में,
            धोखा भी कहीं है।।
1
कुसुमित बिषय का चिंतन,
                जब डोलने लगा,
दिन-रात चर्चा  करके, 
                रस घोलने  लगा,
आई समझ में उसकी,
               रणनीति मान्यवर,
बसता  वो  जगत  में,
              हर प्रानी के जिगर,
बिधि से बिधान का,
    परिचय ही नही है–प्रारब्ध-
2
जब जब प्रकाश रति का,
                आँगन में हुआ है,
शालीनता का उसने,
               दोहन ही किया है,
भावों से जुड़ी निष्ठा,
             नित योजना बताती,
आरूढ़ता मचलती ,
              ऑचल नही हटाती,
लेकिन सुधार उसका ,
      संभव ही नही है–प्रारब्ध-
3
चूंकि प्रमाण रितु का,
                     सम्मान भरा है,
उद् गम प्रवाह मौलिक ,
                   आशव से हरा है,
सम्भावना अलौकिक,
           साये में सुखद दिखती,
उसकी सुगन्ध गरिमा,
             उपवन से जुड़ी रहती,
व्याकुल मनोदशा का,
       मतलब ही नही है -प्रारब्ध-
4
ममता भरी दिलासा,
               जब मर्म को हटाती,
ज्योतिर्मयी प्रतिष्ठा,
                आगोश में विठाती,
तब धर्म आगे बढ़ता,
                   विश्वास के लिये,
उल्लास प्रौढ़  होता,
                 प्रतिमान  के हिये,
पर कामना कमाई ,
       संयत ही नही है–प्रारब्ध-
5
फिर याद आई भौतिक,
                   आधार की रिचा,
जिसके लिये सनेही,
                 हर ओर से खिंचा,
कहता रहा “भ्रमर”अब,
                   सम्वेदना समेटो,
मेरे विचार को तुम,
             अन्तरमुखी हो देखो,
कौतुक कला से कल का,
               निश्चय ही नही है–

प्रभु के अलावा कोई,
    संबल भी नही है–प्रारब्ध–

पुरुषार्थ के निलय में,
               धोखा भी कहीं है।।

Advertisements

‘भ्रमर’ रायबरेली 18 जुलाई18

contact for advertisment and more
Nakul Kumar
8083686563

अन्य ख़बरें

नकुल कुमार के अधूरे प्रेम की अधूरी कहानी भाग-03
बेटी का दर्द.....जाने कोई-कोई....???
सरस्वती पूजा को सरस्वती पूजा ही रहने दें इसे विकृत ना करें
महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर गरीब गुरबों के लिए वस्त्र संग्रह सह वितरण कार्यक्रम की हुई शुरुआत ।
तुम्हारा कलमकार आशिक .........…. नकुल कुमार
मोतीझील मोतिहारी से Nakul Kumar लाइव
आशा है यह मंत्रिमंडल पिछली सरकारों के मुकाबले अच्छा काम करेगी: डॉ वेद प्रताप वैदिक
मोतीझील मोतिहारी से नकुल कुमार'लाइव
चकिया: चैत्र नवरात्र को लेकर निकाली गई शोभायात्रा, हजारों की संख्या में भक्त हुए शामिल
बचपन
बॉलीवुड के काली दुनिया का सच सामने लाने के लिए निर्देशक सनोज मिश्रा ने की फ़िल्म 'सुशांत' की घोषणा 
नेपाली टैंकर दुर्घटनाग्रस्त..........
राम मंदिर मामले पर होगी सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई
चम्पा से चम्पारण....... केशव कृष्णा
विद्यार्थी शिविर का हुआ सफल आयोजन
Live from NAREGA Park Motihari
चाटी माई मंदिर सिघिया हिब्बन मोतिहारी
कार्यशाला का हुआ आयोजन
रात की गहराई में.........भाग-02
Happy Birthday to you Dear Papa G

1 thought on “प्रारब्ध

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *