प्रत्येक जिले में कोरोना के जांच की अविलंब व्यवस्था हो अन्यथा स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे त्यागपत्र दे: डॉ. दीपक कुमार

Featured Post बिहार मोतिहारी राजनीति स्वास्थ्य

पटना/मोतिहारी। पूरे दुनिया में corona virus के कारण बहुत ही विनाशक महामारी फैला हुआ है। हमारे भारत देश एवं बिहार में महामारी तेजी से पैर पसार रहा है। जिसको देखते हुए पूरे देश में लौकडाउन किया गया है ।

रालोसपा के चिकित्सा प्रकोष्ठ के बिहार प्रदेश अध्यक्ष डॉOदीपक कुमार ने सभी जाती, धर्म, मजहब के लोगो को लौकडाउन का पालन करने के लिए अपील किया है । डॉo दीपक कुमार ने बताया है की मै राजनीतिज्ञ के साथ एक चिकित्सक भी हूँ इस परिस्थिती में मेरी जिम्मेवारी और बढ़ जाती है, उन्होने कहा की मै बिमारी के विभीषिका को समझ रहा हू, लोग यदि सतर्क नही हुए तो पूरे समाज को भारी नुकसान उठाना होगा ।

डॉO दीपक कुमार ने बताया है की प्रत्येक लोग अपने अपने घर में रहे, घर से बाहर नही निकाले, फिजिकल डिस्टेंस को मेंटेन करे, हाथ का सफाई करे, ताजा खाना खाए, यदि सर्दी, खाँसी हो तो चिकित्सक से मिलकर दवा ले, मास्क का प्रयोग करे, सावधानी बरते परंतु डरे नही ।

प्रदेश अध्यक्ष डॉOदीपक कुमार ने लोगो को बचने हेतु सलाह दी है, साथ ही साथ नितीश सरकार एवं बिहार के स्वास्थ्य मंत्री पर, लचर स्वास्थ्य व्यवस्था के कारन निशाना साधा है।

डॉOदीपक कुमार ने कहा है की बिहार में स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से फेल हो गया है, उन्होने कहा है की पूरे बिहार में मात्र चार जगह कोरोना का टेस्ट हो रहा है, तीन जगह पटना में और एक जगह दरभंगा मेडिकल कालेज, एक जगह एक दिन में मात्र 90 व्यक्ति का ही जांच होता है, इस प्रकार देखा जाए तो एक दिन में सिर्फ 360 व्यक्ति का जांच हो रहा है, जबकि पूरे बिहार का जनसंख्या 11 करोड़ है। इस प्रकार बिहार सरकार सभी संदिग्ध व्यक्ति का जांच करने में असक्षम है, इलाज तो दूर की बात है।

उन्होंने कहा कि बहुत सारे जिलो में जांच के नाम पर फर्जीवाड़ा हो रहा है जैसे गया जिला का विडियो वाइरल हुआ है, वंहा के अस्पताल में जांच के बदले मरीज का नाम लिख लिया जा रहा है एवं भगा दिया जा रहा है। अस्पताल में चिकित्सक के लिए संसाधन नही है, चिकित्सक के पहनने हेतु आवश्यक सामग्री नही है, मास्क, सेनिटाईजर इत्यादि की उपलब्धता नही है, उस परिस्थिती में डॉक्टर एवं पारा मेडिकल स्टाफ खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे है, काम करने से डर रहे है, एक तो पूरे बिहार में लगभग 50 प्रतिशत से अधिक चिकित्सक एवं पारा मेडिकल स्टाफ का पद रिक्त है एवं जो कर्मचारी काम कर रहे है वो असुरक्षित है, ये दुर्भाग्य की बात है । डॉOदीपक कुमार ने मांग किया है की बिहार के कम से कम प्रत्येक जिला में कोरोना के जांच का अविलंब व्यवस्था हो, अन्यथा बिहार के स्वास्थय मंत्री मंगल पांडेय खुद को नैतिक जिम्मेवारी लेते हुए अपने पद से त्याग दे दे, उक्त बयान रालोसपा के चिकित्सा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष डॉOदीपक कुमार ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर के दी है।

अन्य ख़बरें

जिला पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारी एवं कर्मियों ने किया रक्तदान
शहीदों के सम्मान में निकाला गया कैंडल मार्च चाइनीस प्रोडक्ट के बहिष्कार का आवाहन
पूर्व कृषि मंत्री के सौजन्य से सभी जन वितरण प्रणाली विक्रेताओं को सैनिटाइजर एवं मास्क वितरित
गाजे बाजे के साथ निकली कलश यात्रा,भक्तो ने लगाई आस्था में डुबकी
सप्तक्रांति, गरीबरथ, सत्याग्रह, पूर्वांचल व इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेनों के इलेक्ट्रिक इंजन से संचालन ...
ABVP प्रखंड इकाई हरसिद्धि: दो हजार छात्र-छत्राओं को सदस्यता दिलाकर किया गया अभियान का समापन
CAA एवं NRC के समर्थन में बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद एवं दुर्गा वाहिनी ने बनाया मानव श्रृंखला
ह्यूमन यूथ ऑर्गेनाइजेशन ने शांतिपूर्ण ढंग से दी शहीद जवानों को श्रद्धांजलि, बिहार के दोनों शहीद परिव...
वैलेंटाइन डे के विकल्प के रूप में मातृ पितृ पूजन दिवस मनाया गया
संत श्री आसाराम बापू आश्रम मोतिहारी द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी जी को दी गई श्रद्धांजलि
खट्टी मीठी यादों के साथ मोतिहारी सेंट्रल यूनिवर्सिटी के VC अरविंद अग्रवाल की छुट्टी, राष्ट्रपति ने ...
अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस के अवसर पर डांस टीचर  मौसम शर्मा ने कहा कि नृत्यकला हमारी संस्कृति की देन 
डॉ. राजेश रंजन ने किया एडवांस लेप्रोस्कोपी से 7 साल की बच्ची का सफल ईलाज
कंचन गुप्ता......
बूथ स्तर के कोरोना वरियर्स को कला संस्कृति मंत्री के सौजन्य से मिलेगा मास्क एवं साबुन
हास्य कलाकार से बिजनेसमैन बने सौरभ सिंह।
राजेश कुमार सुमन को मिला Treeman of India अवार्ड
धनौती नदी पर वाटर रिजर्वायर बनाने के लिए जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण
मिस बिहार 2018 का ऑडिशन आज से पटना के होटल गार्गी ग्रैंड शुरू
कयासों पर लगा विराम... संजय जयसवाल को बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष कमान

Leave a Reply