धूमधाम से मनाया जेनिथ कामर्स एकादमी का 18 वां स्थापना दिवस

Featured Post slide गाँव-किसान पटना बिहार शिक्षा

पटना 22 सितंबर। कामर्स के क्षेत्र में अग्रणी इंस्टीच्यूट जेनिथ कामर्स एकादमी का 18वां स्थापना दिवस आज धूमधाम से मनाया गया जहां समाज के अलग-अलग क्षेत्र में उललेखनीय योगदान देने वाले 15 लोगों को सम्मानित किया गया।

राजधानी पटना के मोती महल डीलक्स में जेनिथ कामर्स एकादमी का 18वां स्थापना दिवस धूमधाम के साथ मनाया गया। इस अवसर पर भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसमें इंस्टीच्यूट के बच्चों ने डांस एवं बेहतरीन गीत-संगीत पेश कर उपस्थित अभिभावक एवं अतिथियों का मन मोह लिया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथी के तौर पर एआई जी अरविंद ठाकुर तथा विशिष्ट अतिथी के तौर पर समाज सेवी मधु मंजरी, आकांक्षा चित्रांश उपस्थित थी।कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्जवलन के साथ की गयी।

इसके बाद आगंतुक अतिथियों को सम्मानित किया गया। जेनिथ के प्रबंध निदेशक सुनील कुमार सिंह ने बताया कि आज उनके इंस्टीच्यूट के स्थापना के 18 साल पूरे हो गये हैं। उन्होने बताया कि बिहार में विभिन्न हिस्सों एवं क्षेत्रों में कई लोग अपने स्तर पर
निस्वार्थ भाव से निरंतर देश को आगे बढ़ाने में उल्लेखनीय योगदान दे रहे हैं।

उन्हीं लोगों को प्रोत्साहित करने के लिये उनकी संस्था की ओर से 15 लोगों को सम्मानित किया गया है। सम्मानित किये गये प्रमुख लोगों में मोहम्मद शमशुद्दीन (शिक्षाविद), ब्रजेश वर्मा (समाजसेवी) , जॉनी सिंह मिस्टर इंडिया, अभिषेक मिश्रा (संगीतज्ञ), कुमार संभव (गायक), सपना गोयल मिस पटना 2017,  मास्टर उज्जवल (कोरियोग्राफर), मिस पटना अनुष्का समेत अन्य शामिल हैं।

मुख्य अतिथी के तौर पर शिरकत करने आये अरविंद ठाकुर ने सुनील कुमार सिंह को उनके इंस्टीच्यूट के 18 साल पूरे होने की बधाई दी।

उन्होंने छात्रों से शिक्षक और शिक्षा के महत्व को रेखांकित करते हुये कहा कि समाज को यदि अच्छा बनाना है तो समाज को अध्यापकों को सम्मान देना चाहिए।

Advertisements

वास्तव में अध्यापकों को सम्मान देकर अपने आपको सम्मानित करना है। एक अध्यापक की गरिमा को शब्दो में बंधना कठिन है।उन्होंने कहा गुरु-शिष्य परंपरा भारत की संस्कृति का एक अहम और पवित्र हिस्सा है। जीवन में माता-पिता की कोई जगह नहीं ले सकता क्योंकि हमारे जीवन के सबसे पहले गुरु हमारे माता पिता होते हैं लेकिन सही मार्ग पर चलने का रास्ता शिक्षक ही सिखाते हैं। प्राचीन काल से ही भारत में गुरु और शिक्षक की परंपरा चली आ रही है।

कार्यक्रम में विशिट अतिथी के तौर पर शिरकत करने आयी मधु मंजरी आकांक्षा चित्रांश ने भी सुनील कुमार सिंह को बधाई एवं शुभकामनायें दी।

उन्होने कहा कि हमें प्रगतिशील और जिम्मेदार व्यक्ति बनाने में हमारे शिक्षकों के प्रयासों को स्वीकारने और कड़ी मेहनत की सराहना करना चाहिए। शिक्षक का भी दायित्व है कि वे बच्चों को ईमानदारी से भविष्य संवारने का काम करे. अच्छी शिक्षा देकर एक जिम्मेदार नागरिक बनाये।

उन्होंने छात्रों को कड़ी मेहनत करके आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। शिक्षकों एवं विद्याíथयों को उनके आदर्श को आत्मसात कर स्वंय का व्यक्तित्व निर्माण करना चाहिए। शिक्षकों को हमेशा सम्मान और प्रेम देना चाहिए क्योंकि शिक्षक हमें सफलता के रास्ते पर भेजने की कोशिश करते हैं। माता- पिता अपने बच्चों को प्यार करते हैं और देखभाल करते हैं लेकिन शिक्षक हमें सफलता के मार्ग पर भेजने की पूरी कोशिश करते हैं ताकि वह अच्छी नौकारी प्राप्त कर सकें।

कायक्रम के दौरान कुमार संभव ने अपनी मधुर आवाज से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। मंच का सफल संचालन मास्टर उज्जवल और कुमार संभव ने किया।

अन्य ख़बरें

SVEEP आईकन मधुरेंद्र कुमार ने किया मतदान, सैंड आर्ट के जरिए मधुरेंद्र कुमार ने लोगों से किया था अधिक...
बिहार प्रशासनिक सेवा के 87 पदाधिकारियों का स्थानांतरण। पूरा ब्यौरा यहां देखिए....
12 अक्टूबर को भाजपा का "युवा संकल्प सम्मेलन" केंद्र व राज्य के बड़े मंत्री होंगे शामिल
अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस के अवसर पर डांस टीचर  मौसम शर्मा ने कहा कि नृत्यकला हमारी संस्कृति की देन 
आज के अंक में पढ़िए...मोतिहारी की प्रसिद्ध स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ Dr. Rupam Kumari
पश्चिम बंगाल के बोलपुर में अमित शाह ने किया रोड शो उमड़ा जनसैलाब
राजधानी पटना के हूट रेस्टोरेंट में परफार्म करेंगे श्लोका
चम्पारण के लाल सैंड आर्टिस्ट मधुरेन्द्र होंगे, "मगध रत्न यूथ आईकॉन अवार्ड" से पुरस्कृत
खाद व्यवसायी की बेटी ने IIT JEE ADVANCED में पाई सफलता
ग्लोबल पीस सम्मान ने नवाजे गए प्रशांत प्रताप
गांधीगिरी पर उतरे मुखिया ने स्वयं की सामुदायिक शौचालय की सफाई। दिया संदेश
मोतिहारी चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा आवश्यक सुझाव का स्टीकर लगाकर दुकानदार एवं ग्राहक को सावधानियां बरतने...
15 से 18 वर्ष के किशोर एवं किशोरियों को कोविड-19 टीकाकरण हेतु कार्यशाला का हुआ आयोजन
अब वर्दी में दिखेंगे ऑटो चालक सबके पास होगा संघ का आई कार्ड, बैठक में हुआ विचार-विमर्श
युवा सेवा संघ ने देश भक्ति और संस्कृति रक्षा यात्रा निकालकर भारत को विश्व गुरु बनाने का लिया संकल्प
एन.सी.सी.कैंप में फायर फाइटिंग कार्यशाला का हुआ आयोजन
72वे गणतंत्र दिवस के अवसर पर मोतिहारी के ऐतिहासिक गांधी मैदान में जिलाधिकारी ने किया झंडोत्तोलन
शराब अभी भी बिक रहा है...ऐसे फेसबुकिया कमेंट पर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने क्या कहा था पढ़िए...
24 जुलाई (शनिवार) को पूर्वी चंपारण जिले में लगेंगे 10000 से ज्यादा कोवीशिल्ड के टीके
राधा मोहन सिंह ने 9वी बार भरा नामांकन का पर्चा, कहा यह मेरा अंतिम चुनाव है।

Leave a Reply