दुनिया में परमाणु तस्करी के लिए कुख्यात पाकिस्तान के परमाणु वैज्ञानिक डाॅ. अब्दुल कादिर खान का हुआ देहांत

अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय

मोतिहारी। दुनिया भर में परमाणु तस्करी के लिए कुख्यात पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रम के जनक डॉ अब्दुल कादिर खान का रविवार को निधन हो गया वे 85 वर्ष के थे उनका जन्म अविभाजित भारत के भोपाल में 1936 में हुआ था बंटवारे के बाद उनका परिवार पाकिस्तान चला गया था। उनकी प्रारंभिक शिक्षा पाकिस्तान में हुई थी उसके बाद उन्होंने जर्मनी से पीएचडी की डिग्री प्राप्त की।
बात 1998 की है जब पश्चिमी देशों के तीसरी आंख को फोड़ते हुए भारत ने राजस्थान के पोखरण रेंज में परमाणु विस्फोट करके पूरी दुनिया को आश्चर्यचकित कर दिया था। दूसरी बार परमाणु विस्फोट करके दुनिया को चुनौती देने वाले भारत को परमाणु संपन्न होता देख उन्हीं दिनों यूरोप में यूरेनियम सेंट्रीफ्यूगल के क्षेत्र में कार्य कर रहे कादिर खान का राष्ट्रवाद उन्हें पाकिस्तान खींच लाया।
1998 में ही पाकिस्तान भी परमाणु परीक्षण करके इस्लामिक जगत का पहला परमाणु संपन्न मुस्लिम राष्ट्र बना। इसके साथ ही कादिर खान को पाकिस्तान के सर्वोच्च पुरस्कार से सम्मानित किया गया लेकिन अपने स्वभाव से कुख्यात इस पाकिस्तानी नागरिक ने ईरान लीबिया इराक एवं उत्तरी कोरिया को परमाणु तकनीकी संवर्धन डिजाइनिंग आदि में मदद भी की थी।
मालूम हो कि डॉक्टर खान कोरोना संक्रमित थे एवं उनका इलाज चल रहा था। शनिवार को उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने पर खान रिसर्च लैबोरेटरीज (KRL) अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन रविवार सुबह सात बजे उन्होंने अस्पताल में ही आखिरी सांस ली।
वही डॉक्टर खान के देहांत पर अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि वह देश के नागरिकों के हीरो थे उन्होंने पाकिस्तान को परमाणु संपन्न देश बनाया।

Advertisements
आपको जानकर हैरानी होगी कि डॉ अब्दुल कादिर खान ने 1998 में पाकिस्तान ने परमाणु विस्फोट कराने के बाद। अपने पड़ोसी देश ईरान, लीबिया,इराक के साथ-साथ उत्तरी कोरिया को भी परमाणु संवर्धन डिजाइनिंग आदि में मदद करने के आरोप भी लगे थे। जिसे उन्होंने स्वीकार भी किया था। जिसके बाद अमेरिका ने उनपर प्रतिबंध भी लगाया था।

अन्य ख़बरें

लाठी-गोली-छूरी ना चलल चंपारण में, बाकी अंग्रेजन के भगावे के उपाय गांधीजी ढूंढ लिहलन चंपारण में : आर ...
AES, JE, चमकी बुखार व डायरिया से बचने के लिए जन जागरूकता अभियान को लेकर बैठक संपन्न
शुद्ध प्राणवायु एवं प्राकृतिक संतुलन के लिए वृक्षारोपण जरूरी: 'ट्रीमैन' राजेश
सड़क पर लड़की को बेल्ट से मारा और फिर.........पढ़िए नरेंद्र सहारण की कलम से
बंजरिया में केरल बाढ़ पीड़ितों की सहायतार्थ अनोखी पहल
फिल्म जिला जहानाबाद से बॉलीवुड में कदम रख रही टिक टॉक स्टार सौम्या श्री
प्रतिद्वंदी हार गए सामाजिक सरोकार जीत गया। राधा मोहन सिंह को प्रणाम करके आकाश सिंह ने जीता मोतिहारी ...
रोटरी क्लब मोतिहारी द्वारा विश्व जनसंख्या दिवस पर आयोजित किया गया कार्यक्रम, जनसंख्या वृद्धि पर अंकु...
निर्यात ऋण की समय पर उपलब्‍धता भारत की निर्यात वृद्धि की कुंजी: पीयूष गोयल
यूपी के खूंखार अपराधी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार: मीडिया रिपोर्ट
Jyoti Jha: A Story of Inspiration
आज यानी 25 अप्रैल को मोतिहारी समाहरणालय गेट के बगल में रेत कलाकृति बनाएंगे सैंड आर्टिस्ट मधुरेंद्र क...
संयुक्त राष्ट्र संघ(UN) New York से सुषमा स्वराज लाइव
पप्पू यादव का प्रेस कॉन्फ्रेंस... कई मुद्दों पर एक साथ बोलें, 20 सितंबर से मेडिकल माफियाओं के खिलाफ ...
आज नवीन बाबू करा रहे हैं " गांव की सैर"
पटना: वंदे मातरम फाउंडेशन ने एक दीया शहीदों के नाम जलाने का किया आह्वान
JCB की खुदाई(JCBKiKhudai)... बेरोजगारी,सेक्स,रोमांस और पागलपन की पूरी कहानी पढ़िए...
संगठनों ने की जाति आधारित जनगनना, OBC कल्याण मंत्रालय का गठन करने की माँग
तेली अधिकार रैली को सफल बनाने के लिए ढाका में जनसंपर्क
खुले में हगना बंद करो... स्वच्छ भारत अभियान की ओर एक कदम

1 thought on “दुनिया में परमाणु तस्करी के लिए कुख्यात पाकिस्तान के परमाणु वैज्ञानिक डाॅ. अब्दुल कादिर खान का हुआ देहांत

Leave a Reply