दुनिया में परमाणु तस्करी के लिए कुख्यात पाकिस्तान के परमाणु वैज्ञानिक डाॅ. अब्दुल कादिर खान का हुआ देहांत

अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय

मोतिहारी। दुनिया भर में परमाणु तस्करी के लिए कुख्यात पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रम के जनक डॉ अब्दुल कादिर खान का रविवार को निधन हो गया वे 85 वर्ष के थे उनका जन्म अविभाजित भारत के भोपाल में 1936 में हुआ था बंटवारे के बाद उनका परिवार पाकिस्तान चला गया था। उनकी प्रारंभिक शिक्षा पाकिस्तान में हुई थी उसके बाद उन्होंने जर्मनी से पीएचडी की डिग्री प्राप्त की।
बात 1998 की है जब पश्चिमी देशों के तीसरी आंख को फोड़ते हुए भारत ने राजस्थान के पोखरण रेंज में परमाणु विस्फोट करके पूरी दुनिया को आश्चर्यचकित कर दिया था। दूसरी बार परमाणु विस्फोट करके दुनिया को चुनौती देने वाले भारत को परमाणु संपन्न होता देख उन्हीं दिनों यूरोप में यूरेनियम सेंट्रीफ्यूगल के क्षेत्र में कार्य कर रहे कादिर खान का राष्ट्रवाद उन्हें पाकिस्तान खींच लाया।
1998 में ही पाकिस्तान भी परमाणु परीक्षण करके इस्लामिक जगत का पहला परमाणु संपन्न मुस्लिम राष्ट्र बना। इसके साथ ही कादिर खान को पाकिस्तान के सर्वोच्च पुरस्कार से सम्मानित किया गया लेकिन अपने स्वभाव से कुख्यात इस पाकिस्तानी नागरिक ने ईरान लीबिया इराक एवं उत्तरी कोरिया को परमाणु तकनीकी संवर्धन डिजाइनिंग आदि में मदद भी की थी।
मालूम हो कि डॉक्टर खान कोरोना संक्रमित थे एवं उनका इलाज चल रहा था। शनिवार को उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने पर खान रिसर्च लैबोरेटरीज (KRL) अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन रविवार सुबह सात बजे उन्होंने अस्पताल में ही आखिरी सांस ली।
वही डॉक्टर खान के देहांत पर अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि वह देश के नागरिकों के हीरो थे उन्होंने पाकिस्तान को परमाणु संपन्न देश बनाया।

Advertisements
आपको जानकर हैरानी होगी कि डॉ अब्दुल कादिर खान ने 1998 में पाकिस्तान ने परमाणु विस्फोट कराने के बाद। अपने पड़ोसी देश ईरान, लीबिया,इराक के साथ-साथ उत्तरी कोरिया को भी परमाणु संवर्धन डिजाइनिंग आदि में मदद करने के आरोप भी लगे थे। जिसे उन्होंने स्वीकार भी किया था। जिसके बाद अमेरिका ने उनपर प्रतिबंध भी लगाया था।

अन्य ख़बरें

गांधी जी की 150वीं जयंती के अवसर पर 25 सितंबर से 2 अक्टूबर तक आयोजित होंगे विभिन्न कार्यक्रम
पाकिस्तान पर भारतीय वायु सेना के हमले के बाद मोतिहारी में भाजपा कार्यकर्ताओं ने मनाया जश्न
वार्ड पार्षद व शायर गुलरेज शहजाद ने दी अटल जी को श्रद्धांजलि
अटल जी को जागृति सेवा किड्स प्ले स्कूल ने दी श्रद्धांजलि
LND College Motihari: समर इंटर्नशिप 2.0 के 50 घंटे कार्यक्रम के चौथे दिन,
पुश अप करने के अनोखे तरीके के कारण सिलचर असम के दीप देव चर्चा में
पैशन वीस्टा ग्लोबल आइकन 2019 अवार्ड से अमेरिका में सम्मानित होंगे राकेश पांडे
डासिंग के क्षेत्र में सफलता की नयी इबारत लिख रहे हैं सद्दाम हुसैन
चंपारण के लाल राकेश पांडे ब्रिटेन के हाउस ऑफ कॉमंस में Confluence excellence award से सम्मानित।
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मोतिहारी वासियों ने किया योगाभ्यास,
मेरे गुरु मेरे मार्गदर्शक....अभिनीत कुमार की कलम से
बापू की 150वीं जयंती के अवसर पर भाजपा करेगी 30 दिवसीय 'गांधी संकल्प यात्रा'।
मतदाता सत्यापन अभियान (EVP) की जानकारी देते हुए जिला अधिकारी रमण कुमार
नवजात एवं शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टर संजीव रंजन
मौर्या हॉस्पिटल संचालक प्रेमचन्द कुशवाहा की अपराधियों ने गोली मारकर की हत्या
पटना आईएमए हाॅल में 'आइसा' एवं 'ऐपवा' का छात्रा संवाद, छात्राओं ने मुखर रूप कही मन की बात।
भिखारी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पाक अधिकृत कश्मीर-लद्दाख में फोटोशूट कराने में व्यस्त
कार्यपालिका की संसद के प्रति जवाबदेही विषय पर तीन दिवसीय कार्यक्रम का हुआ आयोजन
फिल्म जिला जहानाबाद से बॉलीवुड में कदम रख रही टिक टॉक स्टार सौम्या श्री
भारतीय जनता पार्टी रामलीला मैदान दिल्ली से जीत का हुंकार

1 thought on “दुनिया में परमाणु तस्करी के लिए कुख्यात पाकिस्तान के परमाणु वैज्ञानिक डाॅ. अब्दुल कादिर खान का हुआ देहांत

Leave a Reply