थाना क्षेत्र में शराब पकड़ी गई तो सिर्फ थानेदार ही दोषी क्यों…डीएसपी, एसपी क्यों नहीं….?

Featured Post slide क्राइम पटना बिहार मोतिहारी स्पेशल न्यूज़
  • 9
    Shares

 पुलिस एसोसिएशन ने खोला मोर्चा, DGP से मिल जताया फैसले पर कड़ा विरोध
पटना(खाकी में इंसान डेस्क)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सूबे में पूर्ण शराबबंदी को लेकर एकबार फिर बेहद तल्ख तेवर अख़्तियार कर लिया है। इस को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मद्य निषेध, उत्पाद व निबंधन विभाग की समीक्षा करते हुए राज्य के सभी 1064 थानों के थानेदार से यह गारेंटी लेने का फरमान जारी किया कि उनके इलाके में शराब नहीं बिकती है। साथ ही यह भी कहा कि गारंटी के बाद भी जिस थाना क्षेत्र में शराब पकड़ी जाएगी, तो वहां के थानेदार को 10 साल तक किसी भी थाने में पोस्टिंग नहीं दी जाएगी। यानी सूबे में अगर कही भी शराब बिकी तो वहा के थानेदार को अगले दस साल तक किसी भी थाने में पोस्टिंग नहीं होगी।
सूबे के मुखिया नीतीश कुमार के इस फरमान के बाद से सूबे में लगातार थानेदारों और थाना प्रभारियों पर निलंबन की गाज गिर रही है। इसको लेकर अब बिहार पुलिस एसोसिएशन मुखर हो उठा है। साथ ही अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए सीएम के इस फैसले की मुख़ालफ़त करने की कवायद शुरू कर दी है। अपना विरोध दर्ज कराने ख़ातिर पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष मृत्युंजय सिंह ने डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय से मुलाकात कर मुख्यमंत्री के इस फैसले पर कड़ा विरोध जताया है।
पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष मृत्युंजय सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार ने जो फरमान जारी किया है हम उसका विरोध करते हैं।
साथ ही कहा कि बिहार में जिस प्रकार से अपराध पर नियंत्रण ना कर पाने और शराब बिक्री पर रोक नहीं लगाने के कारण थाना प्रभारी को सस्पेंड किया जा रहा है ये गलत है। हम इसका पुरजोर विरोध करते हैं। साथ ही अपने विरोध के तल्ख तेवरों के बीच दृढ़ता से अध्यक्ष मृत्युंजय सिंह ने कहा कि जब पुलिस अच्छा काम करती है तो मेडल उनके बड़े अधिकारी लेते हैं। ऐसे में गाज सिर्फ इस्पेक्टर पर ही क्यों गिरेगी ?डीएसपी के ऊपर गाज क्यों नहीं गिरेंगी ?

अन्य ख़बरें

आसाराम जी बापू का 55 वां आत्मसाक्षात्कार दिवस धूमधाम से मनाया गया
जिला कृषि कार्यालय में अबीर गुलाल के साथ धूमधाम से मनी होली
चंपारण पहुंचे "साइकिल मैन" रतन रंजन का हुआ भव्य स्वागत
महिला के लिए असंसदीय और अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल कितना उचित है ?...SSP हरप्रीत कौर
बैठक में गांधी जी की 150 वीं जयंती से शुरू हो रहे कार्यक्रमों के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश
जनवादी लेखक संघ के तत्वावधान में मुंशी प्रेमचंद्र का 139वा जन्मदिन विचार गोष्ठी करके मनाया गया।
भोजपुरी फिल्म ‘छलिया’ 18 अक्‍टूबर को होगी रिलीज, सुपर स्‍टार अरविंद अकेला कल्‍लू की हैं फिल्‍म।
जदयू के निर्विरोध नौबतपुर प्रखंड अध्यक्ष बने श्रवण कुमार कुशवाहा
बलुआ व्यवसायिक संघ की बैठक में शामिल हुए डीएम एसपी, दिलाया हर संभव सहयोग का भरोसा
नामांकन तिथि को तत्काल रद्द कर उसे आगे बढ़ाने की आवश्यकता है: ABVP
अटल जी की श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह
अत्तुनिया डिजिटल कॉर्ड से डिजिटल इंडिया का सपना होगा साकार : मंत्री डॉ. प्रेम कुमार
प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन, मोतिहारी नगर की बैठक संपन्न। 22 सितंबर के डायरेक्टर मीट की सफलता पर विचार व...
नम्रता आनंद ने किन्नरों के बीच बांटी राशन सामग्री
इनर व्हील क्लब वनश्री की सदस्याओं ने फौजी भाईयों के लिये भेजी राखी
मोतिहारी विधानसभा में भाजपा को हराने के लिये रालोसपा ने कमर कस ली है: डॉ दीपक कुमार
पूर्वी चंपारण जिलाधिकारी रमण कुमार का ट्रांसफर................................. कितना सच/ कितना झूठ
डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को पुष्प एवं माल्यार्पण करके शिक्षक संघ ने मनाया संविधान दिवस
मौलिक अधिकारों के प्राप्ति हेतु संघर्ष आवश्यक: सत्येन्द्र कुमार मिश्र
मोतिहारी में मुशायरा सह कवि सम्मेलन सम्पन्न, साहित्य जगत की नामचीन हस्तियाँ हुईं शामिल।

  • 9
    Shares

Leave a Reply