जेनिथ कामर्स एकादमी में मनाया गया मकर संक्राति का पर्व

Featured Post पटना बिहार मोतिहारी शिक्षा
  • 6
    Shares

पटना। मकर संक्राति के अवसर पर राजधानी पटना के प्रतिष्ठ जेनिथ कामर्स एकादमी में चूड़ा-दही के भोज का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर सुनील सिंह ने कहा कि उनके द्वारा हर साल चूड़ा-दही भोज का आयोजन करने का एक ही मकसद रहता है कि इसी बहाने सभी एक दूसरे से मिले अपना सुख-दुख बांटे और आपस में भाईचारा बनाए रखें।
उन्होंने कहा कि ऐसी मान्यता है कि इस दिन भगवान भास्कर अपने पुत्र शनि से मिलने स्वयं उसके घर जाते हैं।चूंकि शनिदेव मकर राशि के स्वामी हैं, अत: इस दिन को मकर संक्रान्ति के नाम से जाना जाता है।
इस दही चूड़ा भोज में शामिल होकर लोगों ने भारतीय संस्कृति की सभ्यात की झलक दिखायी।इस अवसर पर उपस्थित सभी लोगों ने एक दूसरे के साथ बैठकर दही-चूड़ा और तिलकुट का आनंद लेते हुये अपनी-अपनी बात भी रखी।
लोगों ने भोज में शामिल होकर परंपरागत खानपान का आनंद उठाया। भोज में चूड़ा-दही के साथ तिलकुट एवं स्वादिष्ट सब्जी था। दही चूड़ा कार्यक्रम में सभी लोगों ने एकदूसरे को मकर संक्रांति की बधाई दी।
पार्श्वगायक कुमार संभव ने कहा कि दही हर मायने में फायदेमंद है। और चूड़ा नया धान आने के बाद उसे कुटाई कर चूड़़ा बनाया जाता है।इसका आनंद कुछ और है और दही चूड़ा ,तिलकुट राशि परिवर्तन के बाद शारीरिक क्षमता में परिवर्तन आने से रोकता है क्योंकि मकर संक्राति मकर रेखा पर ही आधारित है। दही और चूड़ा आपसी भाईचारा का मिसाल है। सभी लोग तो इस दिन दही चूड़ा खाते है लेकिन आपस में साथ बैठकर खाना भाईचारा का संदेश देता है।

अन्य ख़बरें

कृत्रिम अंग पाकर खिल उठे चेहरे, मानो उनके राकेश भैया ने दिया हो दीपावली का तोहफा।
पटना में यहां होगा निःशुल्क स्वास्थ्य जांच एवं परामर्श शिविर का आयोजन
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला सशक्तिकरण के जन जागरूकता हेतु डीएम के नेतृत्व में मैराथन दौड़ आयो...
मिस ऑस्ट्रेलिया को जय सिंह राठौड़ ने कहा - बन मेरी Girlfriend, तो गाना हुआ वायरल
गलवान घाटी में शहीद जवानों को भाजयुमो मोतिहारी ने दी श्रद्धांजलि
चिकित्सा के साथ ही संगीत के क्षेत्र में भी मनीष सिन्हा ने बनायी पहचान
रमगढ़वा: सड़क पर जमा पानी के कारण मदरसा में पढ़ रहे बच्चों स्वास्थ्य एवं भविष्य खतरे में।
जब रोहित शर्मा ने अपने सबसे बुजुर्ग फैन को गले लगाया
शिक्षा वह हथियार है जिससे सब कुछ संभव है: डॉ दीपक कुमार
मोबाइल का ईयर फोन लगाकर बाइक चला रहे युवक की ट्रक से टक्कर में हुई मौत। पत्नी को वीडियो कॉल करके दम ...
मुख्य सचिव बिहार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की समीक्षा बैठक
संविधान बचाओ न्याय यात्रा...RJD
बाढ़ पीड़ित परिवारों के खाते में जाएंगे साढ़े छ: हजार रुपए : सांसद
पकड़ीदयाल में किसान के खेत से निकली भगवान की मूर्ति, ग्रामीणों ने मूर्ति को अपने कब्जे में लेकर की प...
औरंगाबाद, एनटीपीसी परियोजना से बिहार को मिलेगी 1683 मेगावाट बिजली
रोटरी क्लब मोतिहारी द्वारा विश्व जनसंख्या दिवस पर आयोजित किया गया कार्यक्रम, जनसंख्या वृद्धि पर अंकु...
MCOC कार्यकारिणी बैठक मैं व्यवसायियों की समस्या दूर करने एवं वोट प्रतिशत बढ़ाने पर चर्चा
चम्पारण के युवा डीएसपी नक्सल प्रभावित इलाके में जगा रहे शिक्षा की अलख
वेतन एवं अन्य समस्याओं को ले सड़क पर उतरे TET-STET शिक्षक
बिहार के नए राज्यपाल महामहिम लालजी टंडन का पटना एयरपोर्ट पर हुआ स्वागत

  • 6
    Shares

Leave a Reply