जातिवाद और महिला उत्पीड़न की गाथा है भोजपुरी फिल्म “छेका”

Featured Post slide गाँव-किसान पटना फोटो गैलरी बिहार मनोरंजन स्वास्थ्य
  • 249
    Shares

भोजपुरी फिल्म “छेका” को NTC NEWS MEDIA की तरफ से मिलते हैं पाँच में से  पूरे 4 स्टार ????

मुंबई। भोजपुरी सिनेमा को देखने वाले करोड़ों दर्शक अब भोजपुरी सिनेमा से दूर होते जा रहे हैं। इन दिनों भोजपुरी दर्शकों में महिला दर्शकों की संख्या नगण्य है। वर्तमान की फ़िल्मों में भोजपुरी समाज की कहानी का न होना एवं पश्चिमी परिवेश की ज़बरदस्ती ठूंसम-ठूस की वजहें क़ुछ भी हो, लेकिन ये भोजपुरी फिल्म उद्योग के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं।

भोजपुरी अपनी समृद्ध संस्कृति एवं भाषाई अपनेपन के लिए विश्व प्रसिद्ध है, लेकिन आज इसी भाषा को अपने फ़िल्म उद्योग के फ़िल्मों के द्विअर्थी बोल में फैली अश्लीलता के वजह से शर्मसार होना पड़ रहा है। दर्शक वर्ग इससे कटते जा रहें हैं। लेकिन अब इन्ही दर्शक वर्ग को “छेका” जैसी फिल्मों के माध्यम से वापस थिएटर तक लाने की कोशिश जारी हो चुकी है।

भोजपुरी फ़िल्म “छेका” का ट्रेलर जारी होते ही ये चर्चा फ़िल्म उद्योग में ज़ोर शोर से फैल रही है। ट्रेलर देखते देखते काफ़ी तेज़ी से वाइरल हो रहा है। ट्रेलर देखकर लगता है कि फिल्म जातिवाद और महिला उत्पीड़न जैसे गंभीर मुद्दों के इर्द-गिर्द बनाई गयी है। बदलते समाज में इस विषयक फ़िल्में दर्शकों को हमेशा ही थिएटर की तरह खींच कर लाती रही है।

पी आर फिल्म्स एंड इंटरटेनमेंट व परमा प्रोडक्‍शन के बैनर तले निर्मित इस फ़िल्म के निर्माता हैं कुमार परमानंद, सह निर्माता हैं प्रताप कुमार सिंह और पीआरओ हैं सर्वेश कश्यप।

फ़िल्म में कोई बड़ा चेहरा नहीं होने के बावजूद “छेका” को विडियो, आडीयो व सेटेलाइट प्राईस मनचाहा दाम मिला है। जिसे ख़रीदा है भारत की अग्रणी म्यूज़िक कम्पनी यशी फ़िल्मस ने।

ये संकेत है की फ़िल्म का विषय वाक़ई उम्दा है। शूटिंग के समय से ही ऐसी ख़बरें आई थी कि इस फ़िल्म का निर्माण बेहतरीन तकनीक से किया जा रहा है।संगीत इस् फ़िल्म का मजबूत पक्ष है। फ़िल्म के संगीतकार संजीत तन्हा हैं। फ़िल्म के गीतों को प्रसिद्ध गायक आलोक कुमार,धीरज पांडे,तृप्ति साकिया,मांती मौर्या जितेंद्र इत्यादि ने गाया है। यशी फ़िल्मस के मुखिया अभय सिन्हा ने फ़िल्म के निर्माता को काफ़ी बधाई दी है।

फ़िल्म के विषय में निर्माता कुमार परमानंद बताते हैं कि मुझे काफी दिनों से एक अच्छी फिल्म के निर्माण का ख्याल आया और इस विचार के साथ मैं निर्देशक नेहाल अहमद से मुलाक़ात की । कुछ ही दिन बाद नेहाल “छेका” के साथ मिले। निर्देशक निहाल के अनुसार फ़िल्म की कहानी का डिमांड था नया चेहरा था और् खोजबीन के बाद रमेश सावंत और् विक्टर सिंह के रूप में दो बेहतरीन अभिनेता की तलाश पूरी हुई।

इस् फ़िल्म में रमेश सावंत,विक्टर सिंह के अलावे जया पांडेय,खुशबू पांडे, संजू बाबा मुख्य भूमिका में हैं साथ ही प्रिंसी, मिथुन, प्रियांशु, पूनम,पुष्पा, बिपिन बिहारी, बब्बन सिंह इत्यादि भी मुख्य भूमिका में दिखेंगे। फ़िल्म के सिनेमाटोग्राफर उत्तम सिंह व नृत्य निर्देशक प्रीतम अधिकारी एवं सुशांत है। एडिटर सन्नी सिंहा एवम् पब्लिसिटी डिज़ाइनर सागर सिन्हा हैं।

Advertisements

अन्य ख़बरें

अखिलेश सिंह बाहरी व्यक्ति है इसलिए उन्हें पशुपालकों का आर्थिक सशक्तिकरण रास नहीं आ रहा है: श्याम बाब...
राजनीतिक लूट के खिलाफ युवाओं को संघर्ष का रास्ता चुनना चाहिए: मिश्र
3 राज्यों में बनेगी भाजपा सरकार,दो अन्य में भी स्थति होगी मजबूत : शाहनवाज हुसैन
योग के बारे में बता रहे हैं...युवा भारत पतंजलि के जिला उपाध्यक्ष ओमकार प्रकाश
MGCU के प्रोफ़ेसर संजय कुमार पर हुए हमले के विरोध में 11 छात्र संगठनों का प्रतिरोध मार्च
राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के प्रत्याशी राधा मोहन सिंह का चुनावी दौरा लगातार जा
पटना में यहां होगा निःशुल्क स्वास्थ्य जांच एवं परामर्श शिविर का आयोजन
कुशल युवा कार्यक्रम के तहत छात्रों के बीच बंटा प्रमाणपत्र
बेहोश डाक बम कांवरियाँ की ढाका रेफरल अस्पताल में हुई मौत
राधा मोहन सिंह के पक्ष में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मांगा जन समर्थन
अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस पर,चंपा के पौधे का हुआ वितरण...
मुंशी सिंह कॉलेज मोतिहारी के प्राचार्य एवं एनएसएस स्वयंसेवकों ने किया रक्तदान
AES, JE, चमकी बुखार व डायरिया से बचने के लिए जन जागरूकता अभियान को लेकर बैठक संपन्न
चकिया: ABVP की बैठक संपन्न, पूरे देश में NRC लागू करेंने की मांग
ब्रावो फाउंडेशन ने जिला विधिज्ञ संघ भवन में लगवाया ऑटोमेटिक हैंड सैनिटाइजर डिस्पेंशर
सामाजिक संगठनों ने दीपक जलाकर दी वीर शहीदों को श्रद्धांजलि
बिभा कुमारी के संग परिणय सूत्र में बंधे पीआरओ संजय भूषण पटियाला, पप्‍पू यादव समेत भोजीवुड ने दी बधाई
बाहरी उम्मीदवारों के खिलाफ चंपारण की जनता ने फूंका बिगुल। मोतिहारी, चकिया सहित तमाम जगहों पर हुई बाह...
होली पर्व को लेकर विधि व्यवस्था के निमित्त गठित डिस्टिक कंट्रोल रूम का जिलाधिकारी रमण कुमार ने किया ...
हास्य कलाकार से बिजनेसमैन बने सौरभ सिंह।

  • 249
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *