जंगलराज के राजा के उत्तराधिकारी संविधान बचाने की झूठी दुहाई दे रहे हैं: पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार

गाँव-किसान बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल राजनीति स्पेशल न्यूज़
  • 9
    Shares

NTC NEWS MEDIA

राजद नेता एवं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सत्याग्रह की भूमि से झूठा राग अलाप कर अपने पिताजी को सी.बी.आई० द्वारा फंसाने की बात कह कर जनता को जो गुमराह किया है।file photo
पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार ने जारी विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि माननीय उच्च न्यायालय पटना द्वारा जनहित याचिका की सुनवाई के क्रम में लालू प्रसाद जी के तत्कालीन मुख्य सचिव, प्रधान सचिव और पशुपालन सचिव को जब नोटिस जारी किया उसी समय जिन जिलों में ऐसे पशुपालन और चारा घोटाला हुआ था उन जिलों को सूचना देकर प्राथमिकी दर्ज करा कर घोटालों की सम्पुष्टि की।

आगे उन्होंने कहा कि मामले की गंभीरता को देखते हुए माननीय उच्च न्यायालय ने मामले को सीबीआई को सिर्फ सुपुर्द ही नहीं किया बल्कि इसकी मॉनिटरिंग स्वयं करने की बात कही।तेजस्वी यादव को मामले की वास्तविक जानकारी रखते हुए कोई बात पूरी जिम्मेदारी से रखनी चाहिए। क्योंकि अब वह नाबालिग नहीं रह गए हैं और प्रतिपक्ष के नेता भी हैं। उन्हें यह भी जानना चाहिए कि उनके पिता जी के कार्य काल को स्वयं माननीय उच्च न्यायालय ने जंगलराज की संज्ञा दी थी।
पर्यटन मंत्री ने कहा कि आज उसी जंगलराज के राजा के उत्तराधिकारी मंच सजा कर संविधान बचाने की झूठी दुहाई दे रहे हैं जबकि वास्तविकता यह है कि यह परिवार एवं संपत्ति बचाओ अभियान की कथित यात्रा है।
उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष को यह भी जानकारी रखनी चाहिए कि जब उनके पिता जी बेउर रांची के कारवास की यात्रा पर गए थे उस समय दिल्ली में कांग्रेस की सरकार थी। लालू जी के जेल जाने के बाद आनन-फानन में जब इनकी माता जी की सरकार बनी थी। उसके बाद 98 से 04 तक वाजपेयी जी की सरकार थी एवं 14 से 19 तक मोदी सरकार है।गौरतलब है कि इनके पापा एवं परिवार के ऊपर की गई सभी प्राथमिकी एवं सीबीआई करवाई कांग्रेस की कारगुजारी है जिसकी गोद में बैठकर तेजस्वी यादव अनर्गल राग अलाप रहे हैं।
उन्होने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार की नीति सबका साथ सबका विकास है। न्याय के साथ विकास की धारा का प्रभाव गांव,गरीब, किसान और मजदूर की उन्नति इन्हें आंख से दिख नही रही है। गांधी जी के सिद्धांतों और संविधान का गला घोंटने वालों की कथित संविधान बचाओ न्याय यात्रा जनता के मुंह पर तमांचे के समान है।            बताते चलें कि पिछले दिनों बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं वर्तमान समय में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बहुत बड़ी जनसंख्या को संबोधित किया था  एवं  सत्ताधारी पार्टी को अपने पिता  वह परिवार के खिलाफ झूठे झूठे मुकदमें कराने का आरोप लगाया था। जिला स्कूल मोतिहारी में संविधान बचाओ न्याय यात्रा में उमड़ी युवाओं की जबरदस्त भीड़ कहीं ना कहीं भाजपा के लिए सिर दर्द बन रही है। दूसरी ओर 2019 का चुनाव नजदीक है और ठीक उसके 1 वर्ष के बाद विधानसभा का बिगुल बजने वाला है । यही कारण है कि सभी राजनीतिक पार्टियां एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाकर अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रही हैं । इन सब के बीच एक चीज गौण होता जा रहा है वह है जनहित के मुद्दे। देखने वाली बात यह है कि आने वाले समय में कौन सी पार्टी जनहित के मुद्दे उठाती है एवं जनता को विश्वास में ले पाती है।

अन्य ख़बरें

पर्यटन मंत्री ने की कमल ज्योति संकल्प अभियान की शुरुआत, क्या वंचित परिवारों तक प्रधानमंत्री की योजना...
11 सितंबर को ढेकहाँ में सजही महोत्सव एवं लखौरा में शिव महोत्सव का होगा आयोजन
विश्व पर्यावरण दिवस पर सेमिनार का आयोजन,
देश की एकता एवं अखंडता के लिए कांग्रेस ने निकाला सद्भावना मार्च
छात्रों के हित में काम करने के संकल्प के साथ अभाविप का एक दिवसीय कार्यशाला संपन्न
मॉब लिंचिंग के शिकार हुए 'आप' नालंदा जिलाध्यक्ष, धर्मेद्र
साइकिल रैली के माध्यम से मतदाताओं से की गई 12 मई को अधिक से अधिक संख्या में मतदान करने की अपील
आईसा, एपवा छात्रा संवाद से लिए गए प्रस्ताव:-
CAA एवं NRC के समर्थन में मोतिहारी के अधिवक्ताओं ने बनाया मानव श्रृंखला
आसाराम बापू की शिष्या शिल्पी को मिली जमानत
चमकी बुखार एवं कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति चौपाल लगाकर जिलाधिकारी ने किया लोगों को जागरूक
दस दिवसीय खादी फेस्ट 2019 का हुआ समापन, आयोजन समिति ने मोतिहारी वासियों का जताया आभार
शिव धनुष को राम नही सीता ने तोड़ी थी- रामायणी रामलला अयोध्या
मोतिहारी में मुशायरा सह कवि सम्मेलन सम्पन्न, साहित्य जगत की नामचीन हस्तियाँ हुईं शामिल।
अपने गुरु का सदा आभारी रहूंगी .....जूनीयर मदर टेरेसा सुप्रिया भारती
अरेराज: इंडियन ऑयल के सामाजिक दायित्व निर्वाहन (2019-20) के तहत 100 फीट ऊंचा धरोहर ध्वज का लोकार्पण
कायस्थ महोत्सव में चित्रांश समाज की हस्तियों को मिला सम्मान
मणिपुर की आयरन लेडी इरोम शर्मिला ने दिया जुड़वा बच्चियों को जन्म, 2017 में हुई थी शादी
भाजपा कार्यकर्ता ने पेश की मानवता की मिसाल, कुंभ के मेले में भटकी बुजुर्ग महिला को दिया सहारा। महिला...
"वेलेंटाइन डे " स्पेशल...। वैलेंटाइन डे की पार्टी पूरे शबाब पर थी और फिर...!!!

  • 9
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *