चैंबर के अर्द्धवार्षिक सम्मेलन में कोरोना एवं बाढ़ का अर्थव्यवस्था पर प्रभाव पर हुई परिचर्चा

Administration Featured Post बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल व्यवसायी स्पेशल न्यूज़

मोतिहारी। नकुल कुमार।। 8083686563।।

मोतिहारी। आज मोतिहारी के स्थानीय होटल के सभागार में वार्षिक आम सभा -सह परिचर्चा का आयोजन किया गया। जिसमें संस्था के वर्तमान पदाधिकारी, निवर्तमान पदाधिकारी सहित इस संस्था से जुडे़ हुए सदस्य शामिल हुए।

उक्त मौके पर मीडियाकर्मियों से बातचीत करते चेंबर के अध्यक्ष सुधीर कुमार अग्रवाल ने कहा कि विगत 2 सालों से कोरोना या बिहार में बाढ़ अथवा अन्य वजहों से देश में जो स्थितियां बनी है, आर्थिक स्थिति काफी बदहाल हो गई है। हमने इस पर विशेष चर्चा कराई ताकि कैसे हम इस आर्थिक स्थिति से उबर सकें…?

उन्होंने कहा कि आने वाले समय में सब को रोजगार भी मिल सके और आर्थिक बदहाली से भी हम लोग निजात पा सके के लिए उपरोक्त विषयों पर कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों ने अपने विचारों को रखा है जिस पर चैंबर मंथन करेगी एवं अर्थव्यवस्था में कैसे सुधार लाई जाए एवं चंपारण को कैसे उद्योगों से भरपूर किया जा सके, इससे संबंधित रिपोर्ट सरकार को प्रेषित करेगी।

कार्यक्रम के दौरान विशिष्ठ अथिति डाॅ. पवनेश कुमार, महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय ने  1920-30 के दौर की तुलना वर्तमान समय से करते हुए कहा कि बड़ी-बड़ी कम्पनियां विपदा के समय में ही स्थापित हुई है। इसलिए हमें यह देखना चाहिए कि यह सिर्फ आपदा नहीं है बल्कि हम इसे अवसर के रूप में कैसे बदलें।

उन्होंने कहा कि बिहार के पास टैलेंट तो बहुत है लेकिन यह टैलेंट यहां से पलायन कर जाता है और दोबारा यहां आना नहीं चाहता है क्योंकि यहां पर इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं है। इस पर बिहार सरकार को काम करना चाहिए साथ ही entrepreneurship के क्लाइमेट को बनाने की आवश्यकता है।

उन्होंने बाढ़ की विभीषिका को बिहार के डेवलपमेंट में बाधक बताते हुए कहा कि किसी भी इकॉनमी( Economy) के 3 सेक्टर होते हैं

👉 Primary Sector – Agriculture

👉 Secondary Sector – Manufacturing

👉 Tertiary Sector – Service sector

उन्होंने कहा कि जब बाढ़ आती है। वह primary sector अर्थात agriculture के अंतर्गत हमारी फसल को नुकसान पहुंचाती है अर्थात हमारी फसल डूब जाती है। उसके डूबने से industry को जो raw material चाहिए वह नही मिल पाता है। रॉ मैटेरियल (Raw Material) कि नहीं मिलने से मैन्युफैक्चरिंग (Manufacturing) नहीं हो पाता है और मैन्युफैक्चरिंग नहीं होने से सर्विस सेंटर भी प्रभावित होता है। अर्थात यदि बैंक ने लोन दिया है तो उसे समय पर लोन नहीं मिल पाता। कुल मिलाकर देखा जाए तो सभी चीजें बाढ़ से जुड़ी हुई है। एवं एक बाढ़ (flood) इन सब को प्रभावित कर रहा है।

उन्होंने ही व्यवसायियों की ओर मुखातिब होते हुए कहा कि आजकल लोगों का खरीदारी करने का तरीका (Buying Behavior) बदल रहा है इसलिए यह मायने रखता है कि आप अपने प्रोडक्ट को कितने प्लेटफार्म तक उपलब्ध करा पाते हैं ऑफलाइन, ऑनलाइन अथवा अन्य जो ऑप्शन हो।

इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए संस्था के निवर्तमान अध्यक्ष डाॅ. विवेक गौरव ने  बाढ़ एवं इसकी विभिषिका पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होने कहा कि यह तो सच्चाई है कि बाढ़ को नही रोका जा सकता है किन्तु इसके विभीषिका बनने से अवश्य ही रोका जा सकता है। उन्होने कहा कि जबतक इसपर गम्भीरता से विचार नही किया गया तबतक कोई इंडस्ट्री यहाँ संभव नही है और इंडस्ट्री के बिना बडा़ बदलाव संभव नही है।

वही चैंबर के संस्थापक अध्यक्ष विरेन्द्र जालान ने कहा कि प्रशासनिक पदाधिकारियों के लिए बाढ़ आपदा में अवसर की तरह होता है।

इससे पूर्व मोतिहारी चेंबर ऑफ कॉमर्स के सत्र 2021के गतिविधियों एवं कार्यों का अर्धवार्षिक रिपोर्ट कार्ड चैंबर के महासचिव अभिमन्यु कुमार द्वारा प्रस्तुत किया गया।

वही चैंबर के पूर्व अध्यक्ष मनीष कुमार द्वारा मोतिहारी नगर परिषद अब नगर निगम इसके निहितार्थ एवं यह कितनी सार्थक पहल है इसका विश्लेषण किया। वही कार्यकारी सदस्य अंगद सिंह ने उद्यमिता की ओर चंपारण विषय पर अपनी बात रखी। दूसरी ओर पूर्व अध्यक्ष संजय लोहिया ने व्यवसायिक सुरक्षा एवं उनके राहत पुनर्वास पर अपने विचार रखें।

इस दौरान कार्यक्रम को संस्था के अन्य पदाधिकारियों ने भी संबोधित किया। मंच का संचालन वीरेंद्र जालान ने किया। मौके पर चैंबर के सह सचिव हेमंत कुमार, कोषाध्यक्ष तारकेश्वर नाथ केडिया, उपाध्यक्ष चंदेश्वर कुमार मिश्रा सहित अन्य पदाधिकारी एवं सदस्य उपस्थित थे।

अन्य ख़बरें

AAP ने चलाया सदस्यता अभियान 5 लाख सदस्य बनाने का लक्ष्य
वेतन एवं अन्य समस्याओं को ले सड़क पर उतरे TET-STET शिक्षक
मोतिहारी में MI के नए शोरूम का हुआ उद्घाटन, सर्विसिंग की सुविधा
मोतिहारी में कांग्रेस गठबंधन का भारत बंद पूरी तरह से सफल
छौड़ादानौ: राष्ट्रीय पोषण माह के अन्तर्गत "पोषन मेला" का आयोजन
दिनेश तिवारी की फिल्‍म ‘परिवार के बाबू’ में गेस्‍ट एपीयरेंस में नजर आयेंगी भोजपुरी क्‍वीन रानी चटर्ज...
आसाराम बापू का बेटा नारायण साईं बलात्कार के मामले में दोषी करार । बापू के बाद उसका बेटा जाएगा जेल।
बेटी के जन्मदिन पर याद कर भावुक हुए केंद्र सरकार के मंत्री रमेश पोखरियाल
चंपा से चंपारण के नायक करोड़पति सुशील कुमार
इंडिया युथ आइकॉन अवार्ड के लिए संदीप कुमार का हुआ चयन
24 जनवरी को शिक्षा एवं रोजगार के मुद्दे को लेकर रालोसपा लगाएगी मानव कतार
यूपी के खूंखार अपराधी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार: मीडिया रिपोर्ट
विधायक फैसल रहमान ने कुष्ठ रोगियों के बीच किया राशन का वितरण, ढाका रेफरल अस्पताल का किया निरीक्षण
बिहार में भाजपा,जदयू और लोजपा के बीच सीटों के बंटवारे का पूरा लिस्ट इस लिंक पर देखिए।
29 नवंबर की रैली को सफल बनाने के लिए बैठक संपन्न, जनसंख्या के अनुसार सत्ता में भागीदारी चाहिए: चंद्र...
यादव लाल पासवान बने रालोसपा दलित-महादलित प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष
यंग ब्लड क्रिकेट क्लब टिकैता ने 7 विकेट से जीता ग्रीन इंडिया क्रिकेट टूर्नामेंट
300 सीट जीतकर कोई हिंदुस्तान पर मनमानी नहीं कर सकता: असदुद्दीन ओवैसी
कंटेनमेंट जोन में बदला संक्रमित क्षेत्र, ड्रोन से की जा रही है सतत् निगरानी
यहां पढ़िए अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को लेकर आयुष मंत्रालय की क्या-क्या तैयारियां कर रहा है...?

Leave a Reply