गणेश चतुर्थी एवं मोहर्रम में नहीं निकलेगा जुलूस, बंद रहेगा डीजे, CCTV से होगी निगरानी

Featured Post slide बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल सम्पादकीय स्पेशल न्यूज़
  • 22
    Shares

पूर्वी चंपारण। गणेश चतुर्थी एवं मोहर्रम को लेकर जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक एवं पुलिस अधीक्षक नवीन चंद्र झा की अध्यक्षता में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक समाहरणालय के सभागार में बुधवार को संपन्न हुई। जिसमें गणेश चतुर्थी एवं मोहर्रम के अवसर पर, अपने अपने मोहल्ले में निगरानी रखने, सार्वजनिक मूर्ति अथवा ताजिया न रखने किसी भी तरह के शोभायात्रा अथवा जुलूस ना निकालने संबंधित आदेश जारी किए गए।

नही निकलेंगे जुलूस/ शोभा यात्रा, नही होगा सार्वजनिक मूर्ति स्थापना, बंद रहेगा DJ/ वाद्ययंत्र: जिलाधिकारी

जिला जनसंपर्क अधिकारी  पूर्वी चंपारण द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, उक्त बैठक के मौके पर जिलाधिकारी ने कहा कि इस बार किसी भी प्रकार का मोहर्रम का जुलूस और गणेश चतुर्थी की शोभायात्रा नहीं निकलेगा। लोग घरों में पूजा-पाठ करेंगे। कोई भी डीजे वाद्य यंत्र नहीं बजेंगे ।

लॉक डाउन का उल्लंघन करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई: जिलाधिकारी

उन्होंने कोरोना संक्रमण का हवाला देते हुए कहा कि कहा कि कोविड-19 के तहत लॉकडाउन 6 सितंबर तक लागू है। इसका उल्लंघन करने वाले पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए उन्होंने शांति समिति के सभी सदस्यों से उपरोक्त त्योहारों के अवसर पर जिले में शांति व्यवस्था काम करने में अपनी महति भूमिका अदा करने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि किसी भी बात की सूचना प्राप्त होने पर, उसकी सूचना जिलाधिकारी या पुलिस अधीक्षक अथवा जिला नियंत्रण कक्ष को दे सकेंगे/ देंगे। जिससे उस पर नियंत्रण पाया जा सके।

 थाना स्तर पर हो whatsapp ग्रुप निर्माण: शांति समिति

बैठक के दौरान शांति समिति के अध्यक्ष, सचिव एवं सदस्यों ने जिला पदाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को आश्वस्त किया कि इसबार ताजिए का जुलूस और गणेश चतुर्थी में सार्वजनिक स्थानों पर मूर्ति नहीं बठेगी। किसी प्रकार का वाद यंत्र नहीं बजेगा,किसी प्रकार का जुलूस नहीं निकलेगा ।इसके लिए हर क्षेत्र की सूचना जिला नियंत्रण कक्ष, जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को दी जायेगी। शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए शांति समिति के सदस्यों ने जिलाधिकारी को व्हाट्सएप ग्रुप थाना स्तर पर तैयार करने का सलाह दिया । जिससे किसी भी प्रकार की सूचना का आदान प्रदान कर सके।

 जिला प्रशासन के कार्यों की शांति समिति ने की प्रशंसा

बैठक में शांति समिति सदस्यों द्वारा कोरोना संक्रमण काल एवं बाढ़ के दौरान जिला प्रशासन के कार्यों की प्रशंसा की गई। इस दौरान शांति समिति के सदस्यों ने कहा जिला प्रशासन द्वारा शांति समिति की पहली बैठक बुलाई गई है, इसके लिए जिला प्रशासन को शांति समिति के अध्यक्ष सचिव और सदस्यों ने साधुवाद दिया और कहा कि जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने कोरोना, बाढ़ के समय और अन्य समस्याओं के समय बहुत ही अच्छे ढंग से कार्य किया है। संक्रमण को रोकने में, बाढ़ की रोकथाम में एवं राहत एवं बचाव कार्यों के साथ ही साथ छिटपुट हिंसक घटनाओं पर रोक लगाने में सफल रहे हैं।
शांति समिति के सदस्यों ने अपने अनुभव से जिलाधिकारी को अवगत कराते हुए कहा कि उन्होंने अपने महत्वपूर्ण योगदान से जिले में अमन-चैन-भाईचारा-सौहार्द कायम रखने में हमेशा बढ़-चढ़कर जिला प्रशासन का साथ दिया है, आगे भी इसी प्रकार जिला प्रशासन को सहयोग करते रहेंगे।

सोशल मीडिया पर रहेगी साइबर सेल की नजर, अफवाह फैलाने वाले जाएंगे जेल

(file photo)
जिलाधिकारी ने शांति समिति के सदस्यों से अपील करते हुए कहा कि सोशल मीडिया का कोई गलत प्रयोग ना करें इस पर कड़ी निगाह रखेंगे। अन्यथा सोशल मीडिया पर गलत अफवाह फैलाना और गलत पोस्ट करने वालों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। वैसे व्यक्ति को जो इसमें लिप्त पाए जाएंगे उन पर सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।

सार्वजनिक जगह पर तीसरी आंख (CCTV) से होगी निगरानी

सभी सार्वजनिक जगहों पर सीसी कैमरे का संधारण होगा। जिससे लोगों पर कड़ी निगरानी और चौकसी बरती जा सके एवं लोग इस प्रकार के कोई कदम ना उठाएं जो नियम विरुद्ध और विधि सम्मत नहीं हो ।

सौहार्द पूर्ण वातावरण में मनाए त्यौहार, कानून हाथ में लेने वाले बक्शे नहीं जाएंगे: पुलिस अधीक्षक

बैठक में पुलिस अधीक्षक ने शांति समिति के लोगों से कहा कि सौहार्द पूर्ण वातावरण में गणेश चतुर्थी एवं मुहर्रम पर्व/त्यौहार मनाऐं । आपसी भाईचारा और अमन चैन कायम रखें । जो लोग कानून को हाथ में लेंगे उन्हें बख्शा नहीं जाएगा ।
शांति समिति की बैठक में जिला शांति समिति के अध्यक्ष डॉ परवेज, कन्वेनर धर्मवीर प्रसाद, प्रवक्ता विंटी शर्मा, मोहम्मद सरफराज, ढाका से अभियंता किशोर कुमार, चकिया, सुगौली, रक्सौल के अध्यक्ष सचिवों ने भी अपने अपने विचार रखें ।
शांति समिति की बैठक में सहायक समाहर्ता, अपर समाहर्ता, अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं अन्य प्रशासनिक पदाधिकारी समेत शांति समिति के सदस्य, अध्यक्ष, सचिव मौजूद थे।

 

 

 

 

 

 

Advertisements

 

 

अन्य ख़बरें

केरल बाढ़ पीड़ितों के सहायतार्थ, केशव कृष्णा के नेतृत्व में चला भिक्षाटन अभियान
Breaking News : अटल जी का अस्थि कलश पहुंचा पटना, मोतिहारी के विधायक हुए शामिल
भोलेनाथ डान्स
सवर्ण आंदोलन ... भूमिहार ब्राह्मण एकता मंच का मोतिहारी में प्रदर्शन
अभिनेता गौरव झा और ऋतु सिंह स्‍टारर फिल्‍म ‘भूल ना जाना पिया’ का मुहूर्त संपन्‍न
हाई स्कूल मैदान, अरेराज में सोमेश्वर नाथ महोत्सव 2019 का भव्य आयोजन
राजधानी पटना में खुला  मंगलम फुड पार्क, अब लजीज व्यंजनों का लुफ्त उठाइए
मोतिहारी हनुमान मंदिर में बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत सामग्री पैकिंग शुरू
पटना की बेटी लाडो बानी पटेल ने ऑनलाइन किड्स फोटो कॉन्टेस्ट बिहार का नाम किया रौशन
'ग्लोबल हैंड वाशिंग डे' पर महिला जनप्रतिनिधियों द्वरा जागरूकता कार्यक्रम आयोजित
4 फेज में मोती झील से इस दिन से हटाया जाएगा अतिक्रमण
करोड़पति सुशील कुमार ने घोंसला भेंट करके की पंक्षी संरक्षण अभियान की शुरुआत
शनिवार को मोतिहारी में सजेगी कवियों की महफिल... शब्दों के तीर से श्रोता होंगे घायल
गोपाल साह +2 विद्यालय में I.Sc. में होगी कृषि की पढ़ाई, पाठ्यक्रम का हुआ शुभारंभ...
एक आदमी के संघर्ष और सपनों की कहानी है पटना-12 : अमित पॉल
पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने संग्रामपुर थाना में सीसीटीवी कैमरा व्यवस्था का किया शुभ...
इंडिया युथ आइकॉन अवार्ड के लिए संदीप कुमार का हुआ चयन
महिला के लिए असंसदीय और अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल कितना उचित है ?...SSP हरप्रीत कौर
मिसेज ब्यूटी मॉम्स ऑफ बिहार के पहले ऑडिशन में छाया बिहार की महिलाओं का जलवा
मोतिहारी में कपडे़ की दुकान में लगी आग, चूहों की करतूत से दुकान सुरक्षित

  • 22
    Shares

Leave a Reply