कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय और सेबी ने नियामक निगरानी को मजबूत बनाने के लिए समझौता

Featured Post slide दिल्ली राजनीति राष्ट्रीय
  • 11
    Shares

नई दिल्ली। कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय और भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के बीच एक औपचारिक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर आज हस्ताक्षर किए गए। ऐसा दो नियामक संगठनों के बीच डेटा के आदान-प्रदान के लिए किया गया है। इस समझौता ज्ञापन पर कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय में संयुक्त सचिव  के.वी.आर. मूर्ति और सेबी की पूर्णकालिक सदस्य माधवी पुरी बुच ने दोनों संगठनों के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए।यह समझौता ज्ञापन अर्थव्यवस्था के महत्वपूर्ण क्षेत्रों को प्रभावित करने वाले कॉरपोरेट धोखाधड़ी मामलों के संदर्भ में निगरानी की बढ़ती हुई आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए किया गया है। जिस प्रकार निजी क्षेत्र आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है उसी प्रकार मजबूत कॉरपोरेट प्रशासन तंत्र समय की जरूरत बन गया है।

इस समझौता ज्ञापन से सेबी और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के बीच डेटा और सूचनाओं को स्वमेव और नियमित रूप से साझा करने में मदद मिलेगी। इससे निलंबित कंपनियों, सूची से बाहर की गई कंपनियों, सेबी के शेयर धारक पैटर्न के बारे में विशिष्ट जानकारी साझा करने के साथ-साथ कॉर्पोरेट्स द्वारा रजिस्ट्रार के समक्ष दायर वित्तीय विवरणों, शेयरों के आवंटन की रिटर्न,  कॉरपोरेट से संबंधित ऑडिट रिपोर्टों से संबंधित  विशिष्ट विवरणों को साझा करने में मदद मिलेगी। इस समझौता ज्ञापन से नियामक उद्देश्यों के लिए कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय और सेबी में सहज संबंध सुनिश्चित होंगे। डेटा के नियमित आदान-प्रदान के अलावा सेबी और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालयकिसी भी प्रकार की जांच, निरीक्षण और अभियोजन के उद्देश्य के लिए अपने डेटाबेस में उपलब्ध कोई भी जानकारी का एक-दूसरे के अनुरोध पर  आदान-प्रदान कर सकेंगे।यह समझौता ज्ञापन हस्ताक्षर किए जाने की तारीख से लागू हो गया है, जो कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय और सेबी की सतत पहल है। जो मौजूदा तंत्र के माध्यम से पहले ही सहयोग कर रहे हैं। इस पहल के लिए डेटा आदान-प्रदान परिचालन समूह का भी गठन किया गया है। डेटा आदान-प्रदान स्थिति की समीक्षा के लिए इस समूह की समय-समय पर बैठकें आयोजित होंगी। जिनमें डाटा साझा करने के तंत्र में और सुधार करने तथा प्रभावशीलता लाने के बारे में भी विचार-विमर्श किया जाएगा। यह समझौता ज्ञापन दोनों नियामकों के बीच सहयोग और तालमेल के नए युग की शुरुआत है।

Advertisements

अन्य ख़बरें

पुल निर्माण के लिए राणा रणधीर सिंह ने ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव को लिखा पत्र।
अभिनेता गौरव झा और ऋतु सिंह स्‍टारर फिल्‍म ‘भूल ना जाना पिया’ का मुहूर्त संपन्‍न
अनीश राना बने मिस्टर और मुस्कान के सिर सजा मिस पर्सनालिटी का खिताब
तीसरी आंख : नगर थाना में सीसीटीवी कैमरा मॉनिटरिंग केन्द्र का शुभारंभ
मिस इको इंटरनेशनल में भारत का प्रतिनिधत्व करेंगी आकांक्षा
राजस्थान के रण में सेना के जवानों संग, राजनाथ सिंह मनाएंगे दशहरा
LND College Motihari: समर इंटर्नशिप 2.0 के 50 घंटे कार्यक्रम के चौथे दिन,
रिटायर्ड कर्मचारी को अपनी कार में बैठाकर जिलाधिकारी ने पहुंचाया उसके घर
केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधा मोहन सिंह ने किया वृक्षारोपण
Jyoti Jha: A Story of Inspiration
शनिवार को मोतिहारी में सजेगी कवियों की महफिल... शब्दों के तीर से श्रोता होंगे घायल
नहीं रहे मुजफ्फरपुर के प्रखर समाजसेवी सुखदेव प्रसाद, पटना में ईलाज के दौरान ली अंतिम सांस।
अरेराज: इंडियन ऑयल के सामाजिक दायित्व निर्वाहन (2019-20) के तहत 100 फीट ऊंचा धरोहर ध्वज का लोकार्पण
डस्टबिन बांटकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चंपारण स्वच्छाग्रह को आगे बढ़ाते हुए योगेश गुप्ता और राज...
जल प्रलय से तबाह पटनावासियों के बीच अपनी एकजुटता प्रदर्शित करने पटना क्लब में जुटे भोजपुरिया सितारे
अटल उद्यान में मोतिहारी भाजपा की बैठक संपन्न, मोतिहारी विधानसभा के प्रशिक्षण शिविर को लेकर विचार-विम...
मणिपुर की आयरन लेडी इरोम शर्मिला ने दिया जुड़वा बच्चियों को जन्म, 2017 में हुई थी शादी
डॉ प्रियंका के दोषियों को सख्त से सख्त सजा मिले ऐसी अपील के साथ ABVP का विरोध मार्च
द ड्रीमर की ओर से आयोजित दस दिवसीय एक्टिंग एंड पर्सनालिटी वर्कशॉप संपन्न
Felicitation of Jyoti Jha and Vinay Rai by Zenith Commerce Academy

  • 11
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *