केंद्रीय कृषि मंत्री के संसदीय क्षेत्र में अपनी समस्याओं को लेकर किसानों का “किसान मार्च”। फूलगोभी से किया SDO का स्वागत, सौंपा गया 9 सूत्रीय मांग पत्र।

गाँव-किसान बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल राजनीति
  • 25
    Shares

NTC NEWS MEDIA 

मोतिहारी। नकुल कुमार

मोतिहारी। किसानों की समस्याओं को लेकर ऑल इंडिया किसान सभा (AIKS) का किसान मार्च एवं  समाहरणालय घेराव।

केंद्रीय कृषि मंत्री के संसदीय क्षेत्र में अपनी समस्याओं को लेकर किसानों का “किसान मार्च”। फूलगोभी से किया SDO का स्वागत, सौंपा गया 9 सूत्रीय मांग पत्र।

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधा मोहन सिंह के संसदीय क्षेत्र मोतिहारी पूर्वी चंपारण में ऑल इंडिया किसान सभा के आह्वान पर आज जिला समाहरणालय पूर्वी चंपारण के समक्ष किसानों द्वारा अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर किसान मार्च करके जोरदार प्रदर्शन किया गया।

                 मालूम हो कि अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर मोतिहारी की सड़कों पर उतरे किसानों का यह हुजूम  पीताम्बर भवन, चांदमारी से जुलूस की शक्ल में विभिन्न सड़कों से गुजरते हुए यह किसान मार्च मोतिहारी समाहरणालय पहुँचकर सभा में तबदील हो गया । इस सभा की अध्यक्षता रामायण सिंह ने  की।

किसान सभा को सम्बोधित करते हुए बिहार राज्य किसान सभा के उपाध्यक्ष कॉ. रामचन्द्र महतो ने कहा कि विभिन्न राज्यों की सरकारें किसानों को विभिन्न दरों पर फसल बीमा योजना का लाभ दे रही है। तेलांगना सरकार 4000/-₹ प्रति एकड़, झारखंड सरकार 5000/-₹ प्रति एकड़, उड़ीसा 10000/-₹ प्रति एकड़ ….आदि।  वहीं बिहार सरकार प्रधानमंत्री फ़सलबीमा योजना को समाप्त कर किसानों के साथ घोखाधड़ी कर रही है।सभा स्थल पर ही आए सदर एसडीओ प्रियरंजन राजू को प्रदर्शन में शामिल किसानों ने फूलगोभी देकर अपनी समस्या से अवगत कराया एवं चंपारण के किसानों की दारुण दशा पर विचार करने का आग्रह किया। इसके साथ ही प्रतिनिधि मंडल ने किसानों का नौ सूत्रीय मांग पत्र एसडीओ को सौंपा। इसके साथ ही इस मांग पत्र के माध्यम से मांग की गई कि…….

( 1) सभी भेराइटी के गन्ने की पेराई व बकाए की राशि का भुगतान जल्द से जल्द किया जाए,

(2) जिले में यूरिया की पर्याप्त आपूर्ति किया जाए,

(3) सभी प्रकार के कृषि ऋण माफ किया जाए,

(4) बन्द नलकूपों को चालू किया जाए एवं

(5) स्वामीनाथन आयोग के सिफारिशों को लागू करने… समेत 9 सूत्री मांग शामिल थे।

            सभा को पुष्पेन्द्र द्विवेदी, विश्वनाथ यादव, रामचन्द्र प्रसाद, ध्रुव चौरसिया, गया प्रसाद, राजेन्द्र सिंह, शत्रुघ्न यादव, जितेन्द्र झा आदि नेताओं ने संबोधित किया गया । इसके साथ ही 19 फरवरी को विभिन्न किसान संगठनों द्वारा होने वाले प्रदर्शन में पटना चलने के लिए किसानों सेे अपील की गई।

Advertisements

अन्य ख़बरें

प्रदीप पांडे चिंटू की दुलहनिया बनेंगी बंगाली ब्‍यूटी मणि भट्टाचार्य
स्व०योगेन्द्र प्रसाद के प्रतिमा का अनावरण सह कार्यकर्ता सम्मेलन सम्पन्न
मोतिहारी वाले गाँधी जी से नकुल कुमार की मुलाकात... नाली, बिजली, सड़क समस्या ही समस्या
वेतन एवं अन्य समस्याओं को ले सड़क पर उतरे TET-STET शिक्षक
डॉ प्रियंका के हत्यारों को सख्त से सख्त सजा का आवाहन, मोतिहारी एवं सीतामढ़ी में कैंडल मार्च
राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मिशन का प्रथम स्थापना दिवस, बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने के संकल्प के साथ संपन...
Surgical Strike 2.0, घर घर दीप जलाकर मोदी सरकार को जिताने का लिया संकल्प
पूर्व कृषि मंत्री ने किया दो दिवसीय "फिश हार्वेस्टिंग मेला" का उद्घाटन,
रेत से बनी अपनी आकृति देखकर इंप्रेस्ड हुए रवीश कुमार, रेत कलाकार मधुरेंद्र को दी बधाई
NTC NEWS MEDIA ने की सच की तहकीकात...मोतिहारी की नई डीएम रानी कुमारी...?
पूरी दुनिया ने योग के महत्व को स्वीकार किया है: पूर्व कृषि मंत्री
प्रतिभा को रोजगार में बदलने का समय आ गया है:अनिकेत रंजन
हर अपराध की दस्तक होती है, उसे समझकर सम्भल जाना ही उचित : SP उपेंद्र शर्मा
कल्याणपुर: चुनावी पाठशाला का आयोजन, मतदाताओं को जागरूक करने के बताए गए तरीके
धूमधाम से मनाया गया शिखा नरूला का जन्मदिन
ABVP महिला विंग का मिशन साहसी के तहत जनसंपर्क, छात्राओं की शिकायत पर थाने में आवेदन
अभाविप हरसिद्धिः विभिन्न कोचिंग-शिक्षण संस्थानों में सदस्यता अभियान के दौरान 300 छात्र-छात्राओं को द...
तिरहुत प्रमंडल आयुक्त ने की समीक्षा बैठक, दिए आवश्यक दिशा निर्देश
अमेरिकी दादागिरी को दरकिनारा कर "आनाज के बदले तेल" शुरू करने का समय
लोकतंत्र के महापर्व की तैयारियां जोरों पर, कहीं रंगोली बनाकर तो कहीं हाथ पर मेहंदी लगा कर मतदाताओं ...

  • 25
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *