एक साथ दो अलग-अलग डिग्री हासिल करने के लिए…

Featured Post शिक्षा

भारतीय छात्रों के लिए एक ही समय में अलग अलग या दो डिग्रियां एक साथ हासिल करने की व्यवस्था के लिए देशी और विदेशी उच्च शिक्षा संस्थाओं के बीच अकादमिक सहयोग विनियमन 2021 के यूजीसी मसौदे पर सुझाव आमंत्रित

सुझाव प्राप्त करने की अंतिम तिथि 15 मार्च है: रमेश पोखरियाल निशंक

केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी ) ने भारतीय छात्रों के लिए एक ही समय में  अलग अलग डिग्री या दो डिग्रियां एक साथ हासिल करने की व्यवस्था के लिए भारतीय और विदेशी उच्च शिक्षा संस्थानों के बीच अकादमिक सहयोग से जुड़े विनियमन के मसौदे को सार्वजनिक कर दिया है और इस पर सभी हितधारकों से सुझाव मांगे हैं। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत की गई इस व्यवस्था के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए शिक्षा मंत्रालय को सक्षम करने के वास्ते शिक्षाविदों और अन्य सभी हितधारकों और जनता से इस पर सुझाव मांगे हैं। उन्होंने कहा कि सुझाव भेजने की अंतिम तिथि 15 मार्च तक बढ़ा दी गई है। सुझाव ugcforeigncollaboration@gmail.com के पते पर भेजे जा सकते हैं।

भारत सरकार राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को क्रियान्वित करने के लिए कई तरह की पहल कर रही है। इसके तहत विदेशों में हासिल ग्रेड के आधार पर छात्र देश में डिग्री हासिल कर सकेंगे।  बजट 2021 में की गई घोषणा के अनुसार भारतीय छात्रों के लिए एक साथ अलग अलग डिग्री या दो डिग्रियां तथा संयुक्त शिक्षण कार्यक्रम की सुविधा की अनुमति देने के लिए एक सक्षम विनियामक तंत्र का प्रस्ताव किया गया है।यूजीसी ने इसके अनुरूप ऐसी डिग्रियों की व्यवस्था के लिए देशी और विदेशी संस्थाओं के बीच अकादमिक सहयोग से संबधित नियमन 2021 की पेशकश की है।

ये नियम भारत के उन उच्च शिक्षा संस्थानों पर लागू होंगे जो स्नातकोत्तर और डाक्टरेट कार्यक्रमों सहित डिप्लोमा और डिग्री पाठ्यक्रमों के लिए विदेशों के अग्रणी शिक्षा संस्थानों के साथ सहयोग करने के इच्छुक हैं। इसी तरह ये नियम उन विदेशी उच्च शिक्षा संस्थानों पर भी लागू होंगे जो भारतीय उच्च शिक्षा संस्थानों के साथ ऐसा सहयोग करने की इच्छा रखते हैं।

Advertisements

इन विनियमों के तहत भारतीय और विदेशी उच्च शिक्षा संस्थानों के बीच अकादमिक सहयोग से क्रेडिट मान्यता और स्थानांतरण,संयुक्त कार्यक्रम, संयुक्त डिग्री और दोहरी डिग्री प्रदान करने की सुविधा होगी।

ट्विनिंग व्यवस्था के तहत भारत में उच्च शिक्षा संस्थानों में दाखिला लेने वाले छात्र  यूजीसी के नियमों का पालन करते हुए एक ही समय में विदेशी उच्च शिक्षा संस्थानों में भी अपनी पढ़ाई जारी रख सकेंगे। भारतीय छात्रों द्वारा विदेशों में अर्जित किए गए क्रेडिट को  भारतीय उच्च शिक्षा संस्थानों द्वारा प्रदान की जाने वाली डिग्री और डिप्लोमा में शामिल किया जा सकेगा। संयुक्त डिग्री कार्यक्रम के मामले में ऐसा पाठ्यक्रम भारतीय और विदेशी उच्च शिक्षा संस्थाओं द्वारा संयुक्त रूप से डिजाइन किया जाएगा और कार्यक्रम पूरा होने पर छात्रों को दोनों संस्थाओं की ओर से संयुक्त रूप से डिग्री और प्रमाण पत्र दिया जाएगा   जिनपर उन दोनों का प्रतीक चिन्ह होगा। इन संस्थाओं के तहत दोहरी डिग्री कार्यक्रम भारतीय और विदेशी संस्थाओं द्वारा अलग अलग और एक साथ दोनों संस्थाओं की डिग्री के लिए निर्धारित मानकों को पूरा करने पर प्रदान किया जाएगा।

दोहरी डिग्री , संयुक्त डिग्री और ट्विनिंग की व्यवस्था से विदेशी शिक्षण संस्थाओं के साथ शैक्षणिक सहयोग को प्रोत्साहन मिलेगा। यह पहल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रासंगिक पाठ्यक्रमों के साथ छात्रों को नए अवसर प्रदान करेगी, बहुविषयक और अंतर विषयक शिक्षा के लिए वैश्विक संपर्क के अवसर खोलेगी, रोजगार के अवसर पैदा करेगी, विदेशी छात्रों को भारत में पढ़ने आने के लिए आकर्षित करेगी। इससे अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग में भारतीय विश्वविद्यालयों की स्थिति में सुधार होगा जो कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गुणवत्ता मापने का एक अहम पैमाना है।

अन्य ख़बरें

फिट इंडिया मूवमैंट के तहत छात्र छात्राओं ने लिया फिट रहने का संकल्प।
अति पिछड़ा प्रकोष्ठ की बैठक संपन्न संगठन एवं पार्टी को मजबूत करने का दिया गया मंत्र
बिहार की 11 बेटियों को मिला कंचन रत्न सम्मान
सड़क दुर्घटना की शिकार फुलगेनी देवी के पति को मिला चार लाख का चेक
21 फरवरी को बिहार में रिलीज हो रही "यारा तेरी यारी"दिखेगा कल्लू रितेश की दोस्ती भोजपुरी स्क्रीन पर
नवम्बर के दूसरे सप्ताह में रिलीज होगी "प्रेमी ऑटो वाला"
"वेलेंटाइन डे " स्पेशल...। वैलेंटाइन डे की पार्टी पूरे शबाब पर थी और फिर...!!!
Jyoti Jha: A Story of Inspiration
ओल्ड चम्पारण मीट हाउस का भागलपुर में हुआ शुभारंभ
सरकार बांध एवं नदियों को जोड़ने के परियोजना में विफल है जिसके कारण बांध टूट रहा है : डॉ दीपक कुमार
Thank You कुलपति जी। व्यवसायिक पाठ्यक्रमों की परीक्षा केंद्र, गृह जिला में मिलने से छात्रों में उत्स...
केन्द्र सरकार की कारपोरेटपरस्त नीतियों के कारण देश की अर्थव्यवस्था लगातार गर्त्त में डूबती जा रही है...
ब्रावो फाउंडेशन के के द्वारा जरूरतमंदों के बीच बाटी जा रही हैं खाद्य सामग्री
पताही थानाध्यक्ष पर शराब माफियाओं ने किया जानलेवा हमला, शरीर में भारी चोट, अनेक हड्डियों के टूटने की...
प्रेरणा दिवस पर मधुरेन्द्र ने बिहार विभूति सीताराम सिंह को अनोखें अंदाज में किया नमन
डॉक्टर संजीव रंजन के नए हॉस्पिटल बिल्डिंग "रानी हॉस्पिटल" का भव्य उद्घाटन 29 जुलाई को
बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति ने अपनी 9 सूत्री मांगों का समर्थन का ज्ञापन
एन.सी.सी.कैंप में फायर फाइटिंग कार्यशाला का हुआ आयोजन
हरियाणवी सेंशेसन सपना चौधरी की मुरीद हुईं बॉलीवुड एक्‍ट्रेस संभावना सेठ, कहा - दिल से थैंक्‍स
भारत ने बांग्लादेश और नेपाल को दिया इतना वैक्सीन

Leave a Reply