अखिलेश सिंह ने मदर डेयरी पर बोलकर अपना पोल स्वयं खोल दिया: सचिंद्र सिंह कल्याणपुर विधायक

Featured Post slide बिहार मोतिहारी मोतिहारी स्पेशल राजनीति राष्ट्रीय स्पेशल न्यूज़

मोतिहारी । अखिलेश सिंह ने अपना आधा पोल तो अपने बेटे को चुनाव में खड़ा कर के खोल दिया है।बाकी मदर डेयरी पर बोल कर अपना पोल खोलवाने का पुनीत कार्य उन्होंने ने स्वयं किया है।उक्त बातें कल्याणपुर विधायक सचिन्द्र प्रसाद सिंह ने जिला भाजपा कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहीं।विधायक श्री सिंह ने कहा कि मदर डेयरी प्लांट में सारे अधिकारी सरकारी हैं,एक भी प्राइवेट व्यक्ति नहीं है।बापू धाम दुग्ध उत्पादक कंपनी में एक मदर डेयरी सर्विसेज के अधिकारी के अतिरिक्त एक व्यक्ति भी राधामोहन जी की जाति, पार्टी,सगा- संबंधी या परिवार का नहीं है।अगर अखिलेश जी के पास कोई प्रमाण है तो उन्हें बताना चाहिए।

बथना,मठबनवारी में स्थित मदर डेयरी अपने निर्धारित समय सीमा 18 महीने के बजाय मात्र 09 महीने में ही बनकर तैयार हो गया और उसके उत्पाद का हम सब उपयोग भी कर रहे हैं। मदर डेयरी के माध्यम से पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण और गोपालगंज के एक हजार गावों के पचास हजार दुग्ध उत्पादक सदस्य लाभान्वित हो रहे हैं। जो किसानों और पशु पालकों के आर्थिक सशक्तिकरण की दिशा में एक ऐतिहासिक कदम है।

वहीं दूसरी तरफ अखिलेश सिंह ने अपने एक मित्र दल के राज्य सभा सदस्य के माध्यम से सदन में प्रश्न के माध्यम से मदर डेयरी के निर्माण को कठघरे में खड़ा किया जो दुर्भाग्यपूर्ण है।

बापूधाम दुग्ध उत्पादक कंपनी का दुग्ध संग्रहण केंद्र अधिक दुग्ध उत्पादन करने वाले जाति विशेष के यहां खुलने का विरोध अखिलेश जी कर रहे थे। शायद वह ये भूल गए थे कि उसी जाति विशेष के वोट से 2004 में वह मोतिहारी से सांसद बने थे। मैं आप लोगों के माध्यम से यह कहना चाहता हूं कि जनता सब जानती है अब अखिलेश जी उन्हें गुमराह नहीं कर सकते।

अखिलेश सिंह मोतिहारी के सांसद और केंद्र में कृषि राज्य मंत्री रह चुके हैं।अपने कार्यकाल में उनके द्वारा विकास का कौन सा ऐसा उल्लेखनीय कार्य किया गया है इसका जवाब उन्हें देना चाहिए। अपने कार्यकाल में अखिलेश सिंह ने फर्जी कंपनी के नाम पर किसानों की बहुमूल्य जमीन कथित कंपनी के प्रतिनिधि शम्भू नाथ ड्रॉलिया और आर.के.बुबना का नाम रजिस्ट्री करा कर किसानों की भूमि को हथियाने का घृणित कुकर्म किया है।

श्री सिंह ने कहा कि अखिलेश सिंह द्वारा सरियतपुर में वर्ष 2008 में 105 दस्तावेजों के माध्यम से 185.76 एकड़ क्रय की गई रैयती भूमि में भूमिदाता किसानों के साथ सरकारी प्रोत्साहन नीति के अंतर्गत करीब तेतालिस लाख के सरकारी राजस्व का चूना लगाया गया है। कथित कंपनी द्वारा दिये गए पते पर सरकारी और गैर सरकारी पत्र और नोटिसों का बगैर तामील के वापस आ जाना इस संदेह को सच साबित करता है कि कंपनी फर्जी है। कल्याणपुर विधायक ने कहा कि पूरे कागजात के साथ अगले प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस फर्जीवाड़े का मैं पर्दा फाश करूंगा।

उन्होंने कहा कि सांसद अखिलेश सिंह खुद को ब्रम्हर्षि समाज का नेता और हितैषी बताते हैं लेकिन वास्तविकता कुछ और है। श्री सिंह परिवारवाद के पोषक हैं। मोतिहारी में बड़े अंतर से चुनाव हारने के बाद मुजफ्फरपुर में अपने ही समाज की स्व०रघुनाथ पांडेय की बहू प्रतिष्ठित महिला विनीता विजय का टिकट कटवा कर खुद चुनाव लड़े और चारो खाने चित हुए। उसी तरह तरारी विधानसभा से चुनाव लड़े और वहां भी हार का मुंह देखने के साथ वहां के स्थापित ब्रह्मर्षि समाज के नेता सुनील पांडेय को पराजित करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की।

अपनी पत्नी को अरवल से विधानसभा लड़ाया और जमानत जप्त करवा बैठे। ब्रम्हर्षि समाज का भला करने वाले के रूप में खुद को प्रस्तूत करने वाले अखिलेश जी धृतराष्ट्र की तरह पुत्र मोह में समाज के कई प्रतिनिधियों के राजनीतिक और सामाजिक भविष्य को अन्धकारमय बना दिया।

अवनीश कुमार सिंह, बबलू देव और गप्पू राय सरीखे अन्य लोग उदाहरण स्वरूप ब्रह्मर्षि समाज और मोतिहारी की जनता के सामने हैं। उन्हें अपने क्षेत्र की जनता और ब्रम्हर्षि समाज ने जब नकार दिया तो उन्होंने चम्पारण के मोतिहारी का रुख किया है लेकिन मोतिहारी की जनता के सामने उनका चरित्र बेनकाब हो चुका है।

संवाददाता सम्मेलन में पीपरा विधायक श्यामबाबू यादव,सदस्य बिहार विधान परिषद बबलू गुप्ता और मीडिया प्रमुख,मोतिहारी लोकसभा भाजपा गुलरेज शहजाद उपस्थित थे।

अन्य ख़बरें

हर अपराध की दस्तक होती है, उसे समझकर सम्भल जाना ही उचित : SP उपेंद्र शर्मा
अखिलेश सिंह बाहरी व्यक्ति है इसलिए उन्हें पशुपालकों का आर्थिक सशक्तिकरण रास नहीं आ रहा है: श्याम बाब...
पथ निर्माण विभाग से संबंधित सड़क के किनारे किया जाएगा सघन पौधारोपण
जिला तैलिक साहू संगठन बेतिया ने किया संगठन विस्तार, नगर कमिटी का हुआ गठन।
ब्रज भूषण की बहुचर्चित भोजपुरी फिल्‍म ‘काजल’ मुंबई में हुई रिलीज
आज यूथ कांग्रेस करेगी मुख्यमंत्री आवास का घेराव बिट्टू यादव के नेतृत्व में चंपारण से यूथ ब्रिगेड रवा...
सवर्ण आंदोलन से डरी सरकार, गिरिराज सिंह होंगे बिहार के नए उपमुख्यमंत्री
Underprivilege children felt above during children's Day celebration at Be for Nation trust
कुपोषण मुक्त पंचायत बनाने के लिए महिला वार्ड सदस्य ने दिखाई अपनी प्रतबद्धता
करोड़पति सुशील कुमार की चम्पा यात्रा
वट वृक्ष पूजनोत्सव के अवसर पर सभी लोग पौधा लगाएं : ट्री मैन सुजीत कुमार
नियोजित शिक्षक के बी पी एस सी परीक्षा पास करने पर बी ई ओ और शिक्षकों ने किया सम्मानि
आसाराम बापू की शिष्या शिल्पी को मिली जमानत
चांद की कक्षा में पहुंचा chandrayaan-2 अगले माह 7 सितंबर को होगी लैंडिंग
गौरव झा की फिल्‍म ‘लेडी सिघंम’ से बॉलीवुड स्टार शक्ति कपूर की फिर हो रही भोजपुरी स्‍क्रीन पर वापसी
11वें मतदाता दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी ने मतदाताओं एवं कर्मियों को दिलाई स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शां...
पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर भाजपा महिला मोर्चा, मोतिहारी द्वारा दी गई श्रद्धांजलि
कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो कोई भी काम नामुमकिन नहीं: रानी सिन्हा
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 95 वीं जयंती मनाई गई
किसानों की विभिन्न समस्याओं को लेकर संगठन करेगी आंदोलन: आनंद सिंह

Leave a Reply